BREAKING NEWS

एकजुटता दिखाते हुए विपक्ष ने लोकसभा का किया बहिष्कार, कृषि मंत्री बोले - कांग्रेस के भ्रम में न आये जनता◾सरकार ने बताया 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' योजना के विज्ञापन पर 2014 से कितने करोड़ खर्च हुए◾IPL-13 के CSK vs MI के उद्घाटन मैच ने व्यूअरशिप में तोड़े रिकॉर्ड, इतने करोड़ लोगों ने मुकाबला ◾2015 से अबतक प्रधानमंत्री मोदी की 58 विदेश यात्राएं, विदेश मंत्रालय ने खर्च का किया खुलासा ◾सुशांत केस : रिया चक्रवर्ती की 6 अक्तूबर तक बढ़ी न्यायिक हिरासत, जमानत पर HC में सुनवाई कल ◾ IIT के दीक्षांत समारोह में पीएम मोदी ने कहा-NEP आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी ◾राज्यसभा से निलंबित सांसदों के समर्थन में आए NCP प्रमुख, बोले- मैं भी रखूंगा एक दिन का उपवास◾विपक्ष के बहिष्कार के बीच कृषि से जुड़ा तीसरा बिल पास, आवश्यक वस्तु संशोधन विधेयक पर संसद की मुहर◾UN में भारत की पाकिस्तान को दो टूक जवाब- कश्मीर की बजाय आतंकवाद खत्म करने पर ध्यान दें◾राज्यसभा से निलंबित सांसदों का धरना खत्म, अब मॉनसून सत्र का बहिष्कार करेगा पूरा विपक्ष ◾कृषि बिल : राहुल का मोदी सरकार पर वार- किसानों को करके जड़ से साफ, पूंजीपति ‘मित्रों’ का खूब विकास'◾सांसदों का निलंबन रद्द किए जाने तक राज्यसभा कार्यवाही का बहिकार करेगा विपक्ष : गुलाम नबी आजाद◾भारत और चीन के बीच मोल्डो में 13 घंटे तक चली कमांडर-स्तरीय हाई लेवल मीटिंग, LAC विवाद पर हुई चर्चा ◾राज्यसभा से निलंबित हुए सदस्यों को चाय पिलाने पहुंचे उपसभापति, पीएम मोदी ने की तारीफ ◾देश में कोरोना से 89 हजार के करीब लोगों ने गंवाई जान, पॉजिटिव केस 55 लाख के पार ◾World Corona : दुनियाभर में महामारी का हाहाकार, संक्रमितों का आंकड़ा 3 करोड़ 12 लाख के पार◾जम्मू-कश्मीर : सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी◾सुशांत सिंह की मौत के मामले की जांच कर रही CBI और मेडिकल बोर्ड की बैठक आज होगी ◾IPL-13: बेंगलोर का टूर्नामेंट में जीत से आगाज, हैदराबाद को 10 रनों से दी शिकस्त ◾ड्रग्स केस में एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण का नाम आया सामने, जया साह की मैनेजर से दीपिका की चैट्स आई सामने◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जैतो में धरने के दौरान किसान ने जहरीली वस्तु निगलकर की खुदकुशी

लुधियाना- जैतो : भारतीय किसान यूनियन (एकता) सिद्धूपुर द्वारा अपनी अधिकारिक मांगों को लेकर स्थानीय एसडीएम के कार्यालय के आगे पिछले 1 माह से धरने पर बैठों किसानों में से एक किसान  जगसीर सिंह (50) पुत्र दयाल सिंह निवासी गांव कोटड़ा जिला बठिंडा द्वारा आज सुबह-सवेरे जहरीली वस्तु निगल कर खुदकुशी कर ली गई है, उसकी मौत के कारण वहां मौजूद किसानों में गुस्से की लहर दौड़ गई। 

इस घटना के बाद सूबे के प्रधान जगजीत ङ्क्षसह डल्लेवाल ने पंजाब सरकार पर बरसते हुए कहा कि किसानों की अधिकारिक मांगों को अंदेखी किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जत्थेबंदी की बैठक  रखी गई  है और उस उपरंात ही संघर्ष की रूपरेखा तैयार की जाएंगी। 

उधर किसान द्वारा खुदकुशी किए जाने की खबर फैलते ही जिला एसपी (एच) भूपिंद्र सिंह और पुलिस उपकप्तान डॉ महताब सिंह (ए एस पी) अन्य पुलिस पार्टी समेत स्थानीय सेठ रामनाथ सिविल अस्पताल जैतों में पहुंचे। यही मृतक किसान जगसीर की मृत देह को रखा गया है। 

बताया जा रहा है कि जगसीर सिंह शनिवार सुबह धरने में कुछ समय बैठा रहा। उसके बाद वह वहां से उठकर बाहर गया। इसी दौरान उसने कीटनाशक या कोई अन्य जहरीली वस्तु का सेवन कर लिया। जब वह कुछ समय बाद वापस धरने पर आकर बैठा तो उसकी हालत खराब होने लगी, साथ में बदबू भी आ रही थी। उसे देख दूसरे किसानों को लगा कि जैसे किसान ने शराब पी है, परंतु ज्यादा हालात खराब होने पर उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया।

यूनियन के प्रदेश प्रधान जगजीत सिंंह डल्लेवाल ने कहा कि यह बेहद गंभीर स्थित है। सरकार का रूख तानाशाही वाला है। किसान अपनी मांगों को लेकर आत्महत्या करने लगे हैंं। उन्होंने बताया मृतक जगसीर सिंह दो दिन पहले ही बठिंडा वाले जत्थे के साथ धरने में शामिल होने के लिए पहुंचा था।

वहीं, जैतो एसडीएम डॉ मनदीप कौर ने बताया कि उन्हें किसान के मृत होने की सूचना मिल गई है, परंतु किसान की मौत कैसे हुई इसके बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। 

मृतक किसान डेढ़ एकड़ जमीन का मालिक था। वह अपने पीछे परिवार में दो बेटे, दो बेटियां व पत्नी छोडक़र गया है। बेटियों की शादी हो चुकी है। उक्त धरना भारतीय किसान यूनियन एकता सिद्धपुर के प्रधान जगजीत सिंह डल्लेवाल के नेतृत्व में चल रहा था, पहले यह धरना जैतो थाने के समक्ष 7 नवंबर को शुरू हुआ था जो कि संघर्ष को तीखा करने के क्रम में 30 नवंबर को एसडीएम दफ्तर के समक्ष शिफ्ट करते हुए किसानों द्वारा जेल भरो अभियान के तहत गिरफ्तारियां देनी शुरू की गई।

पराली जलाए जाने की घटनाओं से उपजे संकट पर सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद जिले में पराली जलाने वाले किसानों पर मुकदमे दर्ज करने के मामलों में इजाफा हुआ, फरीदकोट जिले में अब तक कुल 65 किसानों पर मुकदमे दर्ज किए गए हैंं, जिसमें दो सौ से ज्यादा किसान नामजद है।

- सुनीलराय कामरेड