BREAKING NEWS

बिहार में चमकी बुखार से 107 बच्चों की मौत, आज मुजफ्फरपुर का दौरा करेंगे CM नीतीश◾J&K : अनंतनाग मुठभेड़ में एक जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर ◾अगर तीन दिन से ज्यादा किसी अधिकारी ने रोकी फाइल, तो होगी सख्त कार्रवाई : योगी◾कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त होने के बाद बोले नड्डा- कार्यकर्ता के तौर पर BJP को करुंगा मजबूत◾जम्मू-कश्मीर : अनंतनाग में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ शुरू◾WORLD CUP 2019, WI VS BAN : साकिब के शतक से बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज को सात विकेट से हराया ◾दिल्ली में बढ़ा हुआ ऑटो किराया मंगलवार से लागू होगा, अधिसूचना जारी ◾मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मुर्सी का अदालत में सुनवाई के दौरान निधन ◾ममता बनर्जी से मिलने के बाद बंगाल के चिकित्सकों ने हड़ताल खत्म की ◾जे पी नड्डा भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किये गये ◾पुलवामा में आतंकवादियों ने किया IED विस्फोट, 5 जवान घायल ◾कांग्रेस ने बिहार में दिमागी बुखार से बच्चों की मौत को लेकर सरकार पर निशाना साधा ◾Top 20 News - 17 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾बैंकों ने जेट एयरवेज को फिर खड़ा करने की कोशिश छोड़ी, मामला दिवाला कार्रवाई के लिए भेजने का फैसला ◾लोकसभा में साध्वी प्रज्ञा के शपथ लेने के दौरान विपक्ष ने किया हंगामा ◾ममता बनर्जी और डॉक्टरों की बैठक को कवर करने के लिए 2 क्षेत्रीय न्यूज चैनलों को मिली अनुमति◾बिहार : बच्चों की मौत मामले में हर्षवर्धन और मंगल पांडेय के खिलाफ मामला दर्ज◾वायनाड से निर्वाचित हुए राहुल गांधी ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ◾सलमान को झूठा शपथपत्र पेश करने के केस में राहत, कोर्ट ने राज्य सरकार की अर्जी खारिज की◾भागवत ने ममता पर साधा निशाना, कहा-सत्ता के लिए छटपटाहट के कारण हो रही है हिंसा ◾

पंजाब

घोर कलयुग : मोगा में डेढ़ साल की मासूम बच्ची से 65 वर्षीय बुजुर्ग ने किया दुष्कर्म

लुधियाना-मोगा : पंजाब के जिला मोगा स्थित गांव चिरागशाह में बीती शाम एक शख्स द्वारा डेढ़ वर्षीय मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म जैसे गुनाह करने का मामला सामने आया है। पीडि़त बच्ची की मां चिरागशाह के नजदीक लगते गांव वाजे की है। जोकि अपनी बच्ची के साथ अपने नानके घर में चिरागशाह में आई हुई थी और बीती शाम से ही घर से लापता बताई जा रही थी। परिवारिक सदस्यों ने इसके बारे में सूचना संपर्क पुलिस स्टेशन को दी तो पुलिस ने जांच के दौरान अधेड़ उम्र के शख्स को बच्ची समेत काबू किया। फिलहाल पीडि़त बच्ची मोगा के सिविल अस्पतााल में जेरे-इलाज है। पुलिस स्टेशन कोट ईसे खां की पुलिस ने दोषी शख्स के खिलाफ जबरजनाह करने का मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक कस्बा कोटईसे खां के निकटवर्ती गांव में बुधवार रात एक डेढ़ साल की बच्ची से 65 साल के पड़ोसी ने शराब के नशे में दुष्कर्म कर डाला। पीडि़त परिवार व ग्रामीणों को जब पता चला तो उन्होंने आरोपित को पीट-पीटकर लहूलुहान कर डाला। बाद में पुलिस ने आरोपित को लोगों के चंगुल से मुक्त करवा हिरासत में ले लिया। 

दूसरी तरफ जब पुलिस ने आरोपित को पकडऩे के 14 घंटे बाद भी कोई केस दर्ज नहीं किया तो लोग और भडक़ गए। उन्होंने कोटईसे खां चौक में पुलिस के खिलाफ ही धरना दे दिया। इस दौरान धरनाकारियों की कुछ राहगीरों से बहस व झड़प भी हुई। एक राहगीर से मारपीट व माहौल बिगड़ता देख पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर उनको शांत किया। 

मोगा के निकट रहने वाली डेढ़ साल की बच्ची बुआ के पास गांव आई हुई थी। बुधवार शाम बच्ची घर के बाहर खेल रही थी। इसी बीच आरोपित भजन सिंह बुजुर्ग उसे खाने-पीने की चीजें दिलाने के बहाने वहां से ले गया। बच्ची के घर में न दिखाई देने पर परिवार ने आसपास बच्ची की तलाश शुरू कर दी। दो-तीन घंटे की तलाशी के बाद बच्ची नहीं मिली तो पुलिस को सूचित किया। बच्ची को ढूंढते हुए लोग जब गांव के बाहर पहुंचे, तो उन्होंने बुजुर्ग को नग्न अवस्था में देखा और बच्ची उसके पास ही लहुलुहान पड़ी थी। इस पर गुस्साए लोगों ने आरोपित को बुरी तरह पीटा। 

उधर, दर्द से कराहती बच्ची को परिजन कोटईसे खां के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ले गए। वहां मौजूद चिकित्सकों ने पीडि़त का इलाज इसलिए शुरू नहीं किया। उन्होंने तर्क दिया कि वहां कोई महिला पुलिसकर्मी नहीं थी। लगभग आधा घंटे के बाद थाने से महिला पुलिस मुलाजिम बुलाई गई, तब बच्ची का इलाज शुरू किया गया। प्राथमिक उपचार देने के बाद पीडि़त बच्ची को मोगा सिविल अस्पताल में रेफर कर दिया गया। थाना प्रमुख दविंदर प्रकाश ने बताया है कि हिरासत में लिए गए आरोपित बुजुर्ग के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर ली गई है। 

घटना का पता लगते ही मोगा हलके के विधायक डॉ हरजोत कमल ने अस्पताल में जाकर बच्ची के परिवारवालों से हमदर्दी प्रकट की। 

स्मरण रहें कि 2 जून को जालंधर के रमामंडी में शराब के नशे में एक व्यक्ति ने 8 वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म कर डाला था। यहां भीड़ ने उसे पुलिस के सामने ही पीट-पीट कर मार डाला था। तमाम दावों के बावजूद पुलिस प्रशासन ऐसी घटनाओं को रोकने में नाकाम रहा है। इसी कारण लोगों का गुस्सा लगातार बढ़ रहा है।

सुनीलराय कामरेड