BREAKING NEWS

रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने भारत को एक बहुत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र बताया◾पंजाब के मुख्यमंत्री ने पाकिस्तान के साथ सीमा व्यापार खोलने की वकालत की◾महाराष्ट्र में आए ओमिक्रॉन के 2 और नए केस, जानिए अब कितनी हैं देश में नए वैरिएंट की कुल संख्या◾देश में 'ओमिक्रॉन' के बढ़ते प्रकोप के बीच राहत की खबर, 85 फीसदी आबादी को लगी वैक्सीन की पहली डोज ◾बिहार में जाति आधारित जनगणना बेहतर तरीके से होगी, जल्द बुलाई जाएगी सर्वदीय बैठक: नीतीश कुमार ◾कांग्रेस ने पंजाब चुनाव को लेकर शुरू की तैयारियां, सुनील जाखड़ और अंबिका सोनी को मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾दुनिया बदलीं लेकिल हमारी दोस्ती नही....रूसी राष्ट्रपति पुतिन से मुलाकात में बोले PM मोदी◾UP चुनाव को लेकर प्रियंका ने बताया कैसा होगा कांग्रेस का घोषणापत्र, कहा- सभी लोगों का विशेष ध्यान रखा जाएगा◾'Omicron' के बढ़ते खतरे के बीच MP में 95 विदेशी नागरिक हुए लापता, प्रशासन के हाथ-पांव फूले ◾महबूबा ने दिल्ली के जंतर मंतर पर दिया धरना, बोलीं- यहां गोडसे का कश्मीर बन रहा◾अखिलेश सरकार में होता था दलितों पर अत्याचार, योगी बोले- जिस गाड़ी में सपा का झंडा, समझो होगा जानामाना गुंडा ◾नागालैंड मामले पर लोकसभा में अमित ने कहा- गलत पहचान के कारण हुई फायरिंग, SIT टीम का किया गया गठन ◾आंग सान सू की को मिली चार साल की जेल, सेना के खिलाफ असंतोष, कोरोना नियमों का उल्लंघन करने का था आरोप ◾शिया बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने अपनाया हिंदू धर्म, परिवर्तन को लेकर दिया बड़ा बयान, जानें नया नाम ◾इशारों में आजाद का राहुल-प्रियंका पर तंज, कांग्रेस नेतृत्व को ना सुनना बर्दाश्त नहीं, सुझाव को समझते हैं विद्रोह ◾सदस्यों का निलंबन वापस लेने के लिए अड़ा विपक्ष, राज्यसभा में किया हंगामा, कार्यवाही स्थगित◾राज्यसभा के 12 सदस्यों का निलंबन के समर्थन में आये थरूर बोले- ‘संसद टीवी’ पर कार्यक्रम की नहीं करूंगा मेजबानी ◾Winter Session: निलंबन के खिलाफ आज भी संसद में प्रदर्शन जारी, खड़गे समेत कई सांसदों ने की नारेबाजी ◾राजनाथ सिंह ने सर्गेई लावरोव से की मुलाकात, जयशंकर बोले- भारत और रूस के संबंध स्थिर एवं मजबूत◾IND vs NZ: भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त देकर रचा इतिहास, दर्ज की सबसे बड़ी टेस्ट जीत ◾

अवैध निर्माण : एसटीपी-एमटीपी समेत 8 अफसर सस्पेंड, 2 बिल्डिंग इंस्पेक्टर को चार्जशीट का फरमान

लुधियाना- जालंधर : क्रिकेटर से सियासतदान बने गुरू के नाम से विख्यात पंजाब के निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने अधिकार क्षेत्र में मिली सियासी ताकत का उपयोग करते हुए जालंधर नगर-निगम के 8 अधिकारियों को नौकरी से बरखास्त कर दिया। जबकि 2 अन्य को भी चार्जशीट का फरमान थमाते हुए सुधर जाने का हुकम सुना दिया।

नायक फिल्म के हीरो की भांति सरकारी तामझाम और लश्करों को साथ लिए नवजोत सिंह सिद्धू ने अचानक अवैध इमारतों और तेजी से बन रही अवैध कालोनियों का अचानक दौरा करते हुए जालंधर के निगम एसटीपी परमपाल सिंह, एसटीपी मोनिका आनंद, एमटीपी मेहरबान सिंह, एटीपी बलविंद्र सिंह, नरेश महेता, इंस्पेक्टर पूजा मान, अजित शर्मा और नीरज शर्मा को भी सस्पेंड कर दिया जबकि अवैध बिल्डिंगों और अवैध कालोनियों के मालिकों को भी नामजद करते हुए 2 इंस्पेक्टरों अरूण खन्ना और जिंदर शर्मा को चार्जशीट किया है।

सिद्धू ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उन्हें 93 बिल्डिंगों और अवैध कालोनियों की शिकायतें निरंतर मिल रही थी और अभी उन्होंने आधे से भी कम जगह का दौरा किया है। उन्होंने कहा कि हर स्थान पर सरकार के राजस्व को चूना लगाया गया और समस्त अधिकारियों की मिली-भगत से सारा खेल खेला जा रहा था। उन्होंने यह भी कहा कि पिछले 15 सालों से नगर-निगम जालंधर का आडिट ही नहीं हुआ और कोई पूछने वाला ही नहीं था। यही कारण है कि अधिकारीयों के वारे-न्यारे थे। सिद्धू ने कहा कि जिन अधिकारियों ने सरकार को चूना लगाया है। उनसे वसूला जाएंगा। उन्होंने उदाहरण देकर कहा कि भले ही मेरे अकाउंट में एक करोड़ नहीं है, किंतु निगम क ा एक इंसपेक्टर 100 करोड़ का मालिक बना हुआ है।

सिद्धू ने कहा कि कानून सबके लिए बराबर है। नेता और अधिकारी, इस खेल में सबके चेहरों से नाकाब हटाया जाएंगा। सिद्धू ने सवाल-जवाब देते हुए सख्त लहजे में कहा कि सुधर जाओं, उनके पास अभी मोका है, वह कहीं भी कभी भी गुप्त तरीके से रेड करने पहुंच सकते है तथा भ्रष्टाचारियों के ऊपर वह बिजली की तरह गिरेंगे। दोराहा में पत्रकारों से बातचीत करते हुए सिद्धू ने कहा कि बड़े शर्म की बात है कि पिछले सालों से पांच-छह लोगों की खातिर सरकार के करोड़ों रूपए के रेवन्यू को नुकसान पहुंचाया गया है। उन्होंने कहा कि जालंधर तो केवल उदाहरण है।

जालंधर नगर निगम के अफसरों को निलंबित करने के साथ ही इनके खिलाफ आइपीसी की धारा 120-बी (आपराधिक साजिश) व म्यूनिसिपल एक्ट की धारा 298 के तहत एफआइआर करने के भी निर्देश दिए। दो अन्य बिल्डिंग इंस्पेक्टरों को चार्जशीट किया गया है। स्थानीय निकाय मंत्री सिद्धू सुबह 10 बजे शहर में पहुंचे। शाम 5 बजे अफसरों पर कार्रवाई की जानकारी देने से पहले सिद्धू ने सुबह 10 से दोपहर करीब 3.30 बजे तक शहर के चारों विधानसभा क्षेत्रों में हुए अवैध निर्माणों और अवैध कॉलोनियों की चेकिंग की। शुरुआत रामामंडी इलाके में बन रहे कांग्रेस पार्षद के कॉमर्शियल कांप्लेक्स से की। सिद्धू ने कहा कि उनके पास 93 इमारतों और बिङ्क्षल्डगों की सूची थी।

दिनभर में करीब 35-40 जगह चेङ्क्षकग की। वो जहां-जहां गए सब जगह बड़े पैमाने पर अनियमितताएं पाई गई। सिद्धू ने कहा कि इस पैमाने पर भ्रष्टाचार फल-फूल रहा है। किसी भी अधिकारी के पास उनके सवालों का जवाब नहीं था। उन्होंने कहा कि यह शुरुआत है। अभी इसमें बहुत से अफसरों व सीनियर अफसरों पर भी गाज गिर सकती है। सिद्धू ने गुस्से में बिल्डिंग ब्रांच के अफसरों के लिए चोर शब्द का भी इस्तेमाल किया। दो से तीन साइट पर उन्होंने मौके पर ही अफसरों को नौकरी से बर्खास्त करने की चेतावनी तक दे दी। सिद्धू के साथ ायरेक्टर लोकल बॉडीज करुनेश शर्मा, निगम कमिश्नर बसंत गर्ग, एडिशनल कमिश्नर विशेष सारंगल, डिप्टी मेयर हरसिमरनजीत ङ्क्षसह बंटी और निगम के अन्य अफसर भी मौजूद थे। परगट बने सिद्धू के सारथी, दिनभर गाड़ी में घुमाया शहर पूरी कार्रवाई के दौरान शहर के अलग-अलग इलाकों में सिद्धू को घुमाने का काम विधायक परगट ङ्क्षसह ने किया। परगट दिनभर सिद्धू की गाड़ी चलाते रहे। कमिश्नर बसंत गर्ग और एडिशनल कमिश्नर विशेष सारंगल उनकी गाड़ी में पीछे बैठे सिद्धू के सवालों के जवाब देते रहे।

- सुनीलराय कामरेड

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।