BREAKING NEWS

गाजीपुर बॉर्डर पर भावुक हुए राकेश टिकैत, कहा- कृषि कानून वापस नहीं तो कर लूंगा आत्महत्या◾ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा से संबंधित मामलों की जांच करेगी दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच, एक्शन शुरू◾भारत 26 जनवरी तक सबसे ज्यादा कोविड-19 टीकाकरण करने वाला पांचवां देश बन गया : स्वास्थ्य मंत्रालय◾WEF में बोले मोदी - कोरोना महामारी के दौरान भारत ने लोगों की जान बचाते हुए वैश्विक जिम्मेदारी भी निभायी ◾गाजीपुर विरोध स्थल पर भारी पुलिस बल की तैनाती, टिकैत बोले - आंदोलन नहीं रुकेगा◾विवादों में घिरे दीप सिद्धू का पलटवार, कहा - मैं गहरे भेद खोल दूंगा तो इन्हे भागने का रास्ता नहीं मिलेगा ◾बंगाल विधानसभा ने कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव को किया पारित, ममता बोलीं- दिल्ली हिंसा के लिए BJP जिम्मेदार ◾महामारी हो या बॉर्डर की चुनौती, भारत अपनी रक्षा के लिए मजबूती से हर कदम उठाने में सक्षम : PM मोदी ◾ट्रैक्टर रैली में घायल हुए पुलिसकर्मियों को लेकर केंद्र संवेदनशील, गृह मंत्री ने अस्पताल जाकर पूछा हालचाल ◾2020 में LAC पर चीन की हरकतों से दोनों देशों के संबंध गंभीर रूप से प्रभावित : एस जयशंकर◾CM केजरीवाल का ऐलान- अगले 2 साल में UP, उत्तराखंड समेत छह राज्यों में चुनाव लड़ेगी AAP◾2-3 उद्योगपतियों के लिए काम कर रहे हैं PM, किसान बिल की डिटेल को समझेंगे तो पूरे देश में होगा आंदोलन : राहुल ◾दिल्ली-NCR के लोगों को मिली राहत, NH-24 और दिल्ली से गाजियाबाद जाने वाले रास्ते खुले◾दिल्ली में फिर से महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 2.8 रही तीव्रता ◾कृषि कानून को लेकर 64वें दिन प्रदर्शन जारी, मंद पड़ी किसान आंदोलन की धार◾देश में कोरोना के 11 हजार नए मामले, महामारी से 123 और लोगों ने गंवाई जान◾दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, महामारी से मरने वालों का आंकड़ा 21.7 लाख से पार◾लाल किले पर हिंसा से संबंधित दिल्ली पुलिस की FIR में अभिनेता दीप सिद्धू और लक्खा सिधाना का आया नाम ◾प्रधानमंत्री मोदी आज NCC रैली और विश्व आर्थिक मंच के दावोस संवाद को करेंगे संबोधित ◾कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे भारतीय किसान यूनियन ने अपना धरना वापस लिया◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पानी के बिना धरती पर जीवन का आस्तित्व संभव नहीं - जिला एंव सत्र न्यायाधीश

लुधियाना : पानी देवता है, पानी पिता है इसके बिना धरती पर जीवन का आस्तित्व संभव नहीं है, शहर निवासियों को अपने आस पास के क्षेत्र और विशेष रूप से नहर में गन्दगी और प्लास्टिक बैग/लिफाफे नहीं फेंकने चाहिए, क्योंकि यह नहर के पानी में घुल कर पानी को जहरीला करते हैं, जिस का प्रयोग हम खुद, पशु पक्षी और खेती के लिए किया जाता है।

ये विचार श्री गुरबीर सिंह जिला एंव सत्र न्यायाधीश ने आज जिला लीगल सर्विस अथार्टी लुधियाना के प्रयत्नों से शुरू की गई सिद्धवां नहर के सफाई अभियान दौरान एकत्र हुए पैरा लीगल वालंटियर, पैनल एडवोकेट, एन. जी. ओ के प्रतिनिधियों और कालेज विद्यार्थियों क ो संबोधन करते हुए रखे हैं। इस मौके उनके साथ सचिव जिला कानूनी सेवाएं अथार्टी डा. गुरप्रीत कौर भी उपस्थित रही। इस अवसर पर श्री गुरबीर सिंह जिला और सैशन जज और डा. गुरप्रीत कौर सचिव कानूनी सेवाएं ने उपस्थित लोगों का सुरक्षित ढंग से कूड़ा कर्कट बेहतर तरीके से उठाने बारे बताया और खुद भी कचरा आदि उठा कर सिद्धवां नहर की सफाई मुहिम का हिस्सा बने।

इस अभियान बाबत विस्तृत जानकारी देते हुए जिला और सैशन जज ने बताया कि सिंचाई विभाग की तरफ से खरफ के सीजन के लिए नहरों में पानी छोडऩे में सिर्फ दो दिन बाकी हैं। लीगल सर्विस अथार्टी लुधियाना को सूचना मिली थी कि सिद्धवां नहर में प्लास्टिक थैले, पुराने कपड़े, चमड़े की जूतियां और थैले, प्लास्टिक और मिट्टी के बर्तन, एक्सपायरी दवाएँ, घरों का कचरा व अवशेष और धार्मिक सामग्री भारी मात्रा में पड़ी है, जिसकी पानी आने से पहले सफाई की जानी बहुत जरूरी है।

उन्होंने बताया कि यह वस्तुएँ पानी में घुल कर नहरी पानी को जहरीला कर देंगी और फिर इसी पानी का प्रयोग खुद हमारे और पशु पक्षियों की तरफ से पीने के लिए और खेती के लिए किया जाना है, जिस का सीधा प्रभाव मानवीय सेहत पर पड़ेगा और बीमारियों में भारी वृद्धि होगी। उन्होंने बताया कि नहर की सफाई की अहमीयत को देखते हुए जिला लीगल सर्विस अथार्टी लुधियाना ने तुरंत कार्यक्रम बनाया और पैरा लीगल वालंटियर, समाज सेवीं संस्थाओं, पैनल ऐडवोकेटों और कालेज विद्यार्थियों को साथ ले कर सफाई मुहिम शुरू की गई है, जिससे हमारी फसलों, सब्जियों और फलों की सिंचाई, पशु पक्षियों और अन्य उपयोग के लिए साफ और स्वच्छ पानी प्राप्त हो सके।

जिला और सैशन जज ने शहर निवासियों से अपील की है कि आने वाली पीढिय़ों को निरोगी सेहत और बीमारियों से मुक्त जीवन देने के लिए प्राकृतिक स्रोतों की साफ सफाई के साथ सांझ संभाल जरूर करें और इसेे जीवन का एक अंग बना लेना चाहिए। इस अवसर पर उनके साथ सिंचाई और नहरी विभाग के एस. ई श्री डी. पी. सिंह, बाल कलाकार श्री करमजीत सिंह ललतों, एन. जी. ओ के प्रतिनिधि और जी. एन. ई. व खालसा कालेज के विद्यार्थी उपस्थित रहे।

- सुनीलराय कामरेड

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।