BREAKING NEWS

coronavirus : तमिलनाडु में कोविड-19 से 621 लोग संक्रमित, 574 मामलें तबलीगी जमात से जुड़े◾Coronavirus : तेलंगाना मुख्यमंत्री कार्यालय की सफाई, कहा- सीएम ने लॉकडाउन बढ़ाने की सलाह दी लेकिन कोई घोषणा नहीं ◾स्वास्थ्य मंत्रालय : तबलीगी जमात से जुड़े 1,445 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए, 25 हजार से अधिक एकांतवास में◾दिल्ली में कोरोना से अब तक 523 लोग हुए संक्रमित, पिछले 24 घंटे में 20 नए मामले आए सामने ◾कोरोना से हुई कुल मौतों में 73 प्रतिशत पुरुष जबकि 27 प्रतिशत महिलाएं : स्वास्थ्य मंत्रालय◾केंद्र का बड़ा फैसला, PM सहित कैबिनेट मंत्रियों और सांसदों के वेतन में 30 फीसदी की होगी कटौती◾PM मोदी ने की वीडियो लिंक के जरिये पहली बार कैबिनेट की बैठक की अध्यक्षता◾कोरोना की चपेट में आई मुकेश अंबानी की संपत्ति, 2 महीने में 28 प्रतिशत गिरकर हुई 48 अरब डॉलर◾कांग्रेस प्रवक्ता बोले- पेट्रोल-डीजल पर मुनाफा जनता के साथ साझा करें सरकार◾मौलाना साद को क्राइम ब्रांच ने भेजा दूसरा नोटिस, पहले नोटिस में नहीं दिए थे सवालों के जवाब◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी बोले- कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में जीत हो यही देश का लक्ष्य और संकल्प है◾BJP विधायक ने PM मोदी की सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की उड़ाई धज्जियां, समर्थकों के साथ सड़क पर निकाला जुलूस◾इंसानों के बाद जानवरों पर कोरोना की मार, न्यूयॉर्क के चिड़ियाघर की बाघिन हुई संक्रमित ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों की संख्या 4000 के पार, 109 लोगों की अब तक मौत◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी, नड्डा और शाह ने कार्यकर्ताओं को दी शुभकामनाएं, कहा- एकजुट होकर देश को कोविड-19 से करें मुक्त◾भोपाल में कोविड-19 से 52 वर्षीय व्यक्ति की हुई मौत, कोरोना से मरने वालो का आकंड़ा 14 हुआ ◾ब्रिटेन के PM बोरिस जॉनसन कोरोना वायरस से संबंधी जांचों के लिए अस्पताल में हुए भर्ती ◾अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमितो की संख्या 3,37,274 हुई, पिछले 24 घंटो में 1200 लोगों ने गवाई जान ◾प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर उनकी मां ने भी दीया जलाया◾लॉकडाउन: दिल्ली पुलिस ने शब-ए-बारात के दिन मुस्लिम समुदाय के लोगों से घरों में रहने का आग्रह किया◾

डेरा मामले में मनोहर लाल के आरोप हास्यास्पद : अमरिंदर

चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हरियाणा के अपने समकक्ष मनोहर लाल खट्टर द्वारा डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख को अदालती सजा के बाद भड़की हिंसा का दोष पंजाब के सिर मढऩे की कड़ी आलोचना करते इसे श्री खट्टर द्वारा अपनी जिम्मेदारी से भागने के लिए निराशाजनक और बेतुकी कोशिश बताया है। कैप्टन सिंह ने श्री खट्टर द्वारा पंजाब सरकार विरुद्ध लगाए आरोपों को हास्यस्पद बताते हुए कैप्टन ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री राम रहीम के खिलाफ अदालती फैसला आने के बाद घटी हिंसा को रोकने में अपनी सरकार की नाकामी पर पर्दा डालने के लिए निराशा भरी कोशिश कर रहे हैं।

मुख्य मंत्री ने कहा कि श्री खट्टर की मायूसी इस तथ्य से ही झलकती है कि अदालत के फैसले के बाद राम रहीम को भगाने की कथित साजिश के लिए उनको अपनी ही पुलिस के पाँच कर्मचारियों को निलंबित करना पड़ा और अब वह इस समूचे मसले की जिम्मेदारी पंजाब पुलिस के सिर डालने की कोशिश कर रहे हैं और इससे हास्यास्पद और बात नहीं हो सकती। कैप्टन ने अपने पड़ोसी सूबे में भाजपा के शासन वाले मुख्यमंत्री को कहा,''यदि हरियाणा पुलिस के पाँच कर्मी दोषी नहीं थे तो फिर उन की सरकार ने इन्हें निलंबित क्यों किया?'' कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राम रहीम के खिलाफ बलात्कार केस में अदालत के फैसले से पहले पंचकुला में डेरे के एक लाख से अधिक श्रद्धालुओं को इकठ्ठा होने के लिए खट्टर द्वारा पंजाब को कसूरवार ठहराने की कड़े शब्दों में आलोचना की। उन्होंने कहा कि अदालती फैसले के बाद घटी हिंसा में मौतें हो जाने और कई लोगों के जख्मी होना यह स्पष्ट दिखाता है कि हरियाणा से बड़ी संख्या में डेरा प्रेमी जुड़े थे तो फिर डेरा समर्थकों को हरियाणा में प्रवेश करने पर काबू करने में पंजाब सरकार से किस तरह आशा रखी जा सकती है।

कैप्टन ने कहा कि पंचकुला में अमन -कानून की व्यवस्था के लिए सिर्फ हरियाणा जिम्मेदार है जो अदालत के फैसले के बाद के हालात बारे खुफिया रिपोर्टों में दी चेतावनी के बावजूद इलाको में लोगों को एकत्रित होने से रोकने में असफल रहा। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि श्री खट्टर यह सच भूल गए हैं कि पंचकूला में हुए खून -खराबे के बाद पंजाब में न सिर्फ एक -दो और मामूली घटनाएँ ही घटी हैं बल्कि कोई जानी नुकसान भी नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि यदि पंचकूला में बड़ी तादाद में एकत्रित हुए डेरा प्रेमी पंजाब से होते तो स्थिति और भयानक होनी थी। उन्होंने कहा कि पंचकूला में स्थिति बेकाबू हो जाने की इजाजत देने के लिए अदालत ने भी हरियाणा सरकार को जिम्मेदार ठहराया। मुख्यमंत्री ने श्री खट्टर को इस मसले पर संकुचित राजनीति खेलने से बचने की अपील की जिसमें बड़ी संख्या में मानवीय जानें गई और जायदाद को नुकसान पहुँचा।