BREAKING NEWS

पुलवामा में हमले की बड़ी साजिश को सुरक्षाबलों ने किया नाकाम, विस्फोटक से लदी गाड़ी लेकर जा रहे थे आतंकी◾दुनिया में कोरोना से संक्रमितों का आंकड़ा 57 लाख के करीब, अब तक 3 लाख 55 हजार से अधिक की मौत ◾मौसम खराब होने की वजह से Nasa और SpaceX का ऐतिहासिक एस्ट्रोनॉट लॉन्च टला◾कोविड-19 : देश में महामारी से अब तक 4500 से अधिक लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 1 लाख 58 हजार के पार ◾मुंबई के फॉर्च्यून होटल में लगी आग, 25 डॉक्टरों को बचाया गया ◾अमेरिका में कोरोना मरीजों के आंकड़ों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, मरने वालों की संख्या 1 लाख के पार ◾गुजरात में कोरोना के 376 नये मामले सामने आये, संक्रमितों की संख्या बढ़कर 15205 हुई ◾पड़ोसी देश नेपाल की राजनीतिक हालात पर बारीकी से नजर रख रहा है भारत◾कोरोना वायरस : आर्थिक संकट के बीच पंजाब सरकार ने केंद्र से मांगी 51,102 करोड रुपये की राजकोषीय सहायता◾चीन, भारत को अपने मतभेद बातचीत के जरिये सुलझाने चाहिए : चीनी राजदूत◾महाराष्ट्र : 24 घंटे में कोरोना से 105 लोगों की गई जान, मरीजों की संख्या 57 हजार के करीब◾उत्तर - मध्य भारत में भयंकर गर्मी का प्रकोप , लगातार दूसरे दिन दिल्ली में पारा 47 डिग्री के पार◾नक्शा विवाद में नेपाल ने अपने कदम पीछे खींचे, भारत के हिस्सों को नक्शे में दिखाने का प्रस्ताव वापस◾भारत-चीन के बीच सीमा विवाद पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने की मध्यस्थता की पेशकश◾चीन के साथ तनातनी पर रविशंकर प्रसाद बोले - नरेंद्र मोदी के भारत को कोई भी आंख नहीं दिखा सकता◾LAC पर भारत के साथ तनातनी के बीच चीन का बड़ा बयान , कहा - हालात ‘‘पूरी तरह स्थिर और नियंत्रण-योग्य’’ ◾बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 792 नए मामले आए सामने, अब तक कुल 303 लोगों की मौत ◾प्रियंका ने CM योगी से किया सवाल, क्या मजदूरों को बंधुआ बनाना चाहती है सरकार?◾राहुल के 'लॉकडाउन' को विफल बताने वाले आरोपों को केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने बताया झूठ◾वायुसेना में शामिल हुई लड़ाकू विमान तेजस की दूसरी स्क्वाड्रन, इजरायल की मिसाइल से है लैस◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

नवजोत सिंह सिद्ध की नई राजनीतिक पारी, लोगों तक अपनी पहुंच बनाने के लिए 'जितेगा पंजबा' नाम से शुरू किया यूट्यूब चैनल

अमृतसर : पिछले लंबे वक्त से सियासत से दूर पंजाब के पूर्व केबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू आज पुन: लोगों तक अपनी आवाज बुलंद करने के अंदाज में सगर्म होने जा रहे हैं। उन्होंने घोषणा की कि वह लोगों तक पहुंच बनाने के लिए एक नया यूट्यूब चैनल शुरू कर रहे हैं, जिसका नाम ‘जितेगा पंजाब’होगा।

 

9 महीनों से सत्ता के गलियारों से दूर नवजोत सिद्धू अब इस सोशल चैनल के माध्यम से लोगों के साथ रूबरू हुआ करेंगे। मीडिया से भी काफी दूरी बना चुके नवजोत सिंह सिद्धू ने आज एक बयान जारी कर इसका खुलासा किया। उन्होंने बताया कि वह लोगों से नए मंच के माध्यम से रूबरू होंगे और अपने विचार रखेंगे। सिद्धू ने बताया कि वह यूट्यूब चैनल ‘जितेगा पंजाब’  के जरिए विभिन्न मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त करेंगे और पंजाब के लोगों की नब्ज को समझने की कोशिश करेंगे। 

इसी दौरान सिद्धू ने वीडियो के जरिए विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि पंजाब की सियासत चार-पांच लोगों के इर्द-गिर्द घूम रही है और इसी सियासत को आजाद करवाने के लिए यूट्यूब चैनल के जरिए वह एक मुहिम छेड़ेंगे। इसी दौरान वीडिय़ों शुरू करते ही समस्त लोगों को नमस्ते, आदाब, सतश्रीअकाल के संबोधन के दौरान कहा कि वह लंबे अंतराल के बाद चिंतन करते हुए इसी फैसले पर उतरे हैं, उन्होंने लोगों को यह भी कहा कि  मेरा रब्ब भी तूही, रहबर भी तूही, मेरा सबक कुछ भी तूही। 

सिद्धू का दावा था कि वह समान विचार वाले लोगों को अपने इस चैनल पर आमंत्रित करेंगे और उनके साथ इंटरव्यू और बहस के जरिए मुद्दों के निवारण व विश्लेषण की कोशिश करेंगे। अपने बयान में नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि 9 महीनों में उन्होंने जो चिंतन और मनन किया है उससे एक बात यह सामने आई है कि पंजाब के मुद्दों पर ना केवल अपनी बात रखनी होगी बल्कि इसे सही करने के लिए एक रोडमैप भी तैयार करना होगा।

बता दें कि कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू दो-तीन अवसरों को छोडक़र सार्वजनिक रूप से नजर नहीं आए हैं। उन्होंने मीडिया से भी दूरी बना रखी हैं। सिद्धू 9 महीनों के बाद अपने यूट्यूब चैनल के जरिए पहली बार लोगों के सामने होंगे। इससे पहले वह पाकिस्तान में आयोजित करतारपुर साहिब कॉरिडोर के उद्घाटन के अवसर पर सामने आए थे, जहां पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के समारोह को उन्होंने संबोधित भी किया था। इसके बाद भारत आने पर वह खामोश ही रहे। इसके बाद वह फिर अज्ञातवास पर चले गए थे।

नवजोत सिद्दू अमृतसर ईस्ट हलके से विधायक हैं और वह कुछ अवसरों पर अपने इलाके के लोगों से रूबरू हुए थे, लेकिन मीडिया से दूरी बनाए रखी। इसी बीच उन्होंने सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी से भी मुलाकात की थी लेकिन उसके बारे में उन्होंने बयान जारी कर बताया था कि वह उन्हें पंजाब की स्थिति से अवगत करवाया हैं। सिद्धू के आम आदमी पार्टी के साथ जाने की भी चर्चा चली लेकिन अभी तक उस पर कोई बात आगे नहीं बढ़ी है।

-सुनीलराय कामरेड