BREAKING NEWS

नितिन गडकरी बोले- सिर्फ आरक्षण से किसी समुदाय का विकास सुनिश्चित नहीं हो सकता ◾TOP 20 NEWS 16 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर बोले- जल्द ही पूरी दुनिया में उपलब्ध होगा दूरदर्शन इंडिया◾योगी सरकार को इलाहाबाद HC से झटका, 17 OBC जातियों को SC में शामिल करने पर रोक◾शरद पवार का ऐलान- महाराष्ट्र में 125-125 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी NCP और कांग्रेस◾हिंदी को लेकर अमित शाह के बयान पर बोले कमल हासन - कोई 'शाह' नहीं तोड़ सकता, 1950 का वादा◾CJI रंजन गोगोई बोले-जरूरत हुई तो मैं खुद जाऊंगा जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट◾गंगवार के बयान पर प्रियंका का वार, कहा-मंत्री जी, 5 साल में कितने उत्तर भारतीयों को दी हैं नौकरियां◾SC ने गुलाम नबी आजाद को कश्मीर जाने की दी अनुमति, कोई राजनीतिक रैली न करने का दिया आदेश◾हिंद महासागर में दिखा चीनी युद्धपोत जियान-32, अलर्ट पर भारतीय नौसेना◾कश्मीर में स्थिति सामान्य करने के लिए हरसंभव प्रयास करें केंद्र : सुप्रीम कोर्ट◾SC ने फारूक अब्दुल्ला को पेश करने संबंधी याचिका पर केंद्र को जारी किया नोटिस ◾जन्मदिन पर चिदंबरम को बेटे कार्ति का पत्र, लिखा-कोई 56 इंच वाला आपको रोक नहीं सकता◾Howdy Modi कार्यक्रम में शामिल होने के ट्रंप के फैसले की PM ने की प्रशंसा, ट्वीट कर कही यह बात◾अयोध्या विवाद में सुन्नी वक्फ बोर्ड और निर्वाणी अखाड़े ने सुप्रीम कोर्ट के मध्यस्थता पैनल को लिखा पत्र◾पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम तिहाड़ जेल में मनाएंगे अपना 74वां जन्मदिन◾‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में शामिल होंगे ट्रम्प, भारतीय-अमेरिकी लोगों को एक साथ करेंगे संबोधित◾पुंछ: पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, तीन जवान घायल◾अखिलेश यादव बोले- तानाशाही से सरकार चलाकर अपना लोकतंत्र चला रही है भाजपा◾शरद पवार ने NCP छोड़ने वाले नेताओं को बताया ‘कायर’◾

पंजाब

पंजाब कैबिनेट की बैठक में नहीं शामिल हुए नवजोत सिंह सिद्धू

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से नाराज चल रहे कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू गुरुवार को कैबिनेट की बैठक में मौजूद नहीं रहे। लोकसभा चुनावों के बाद कैबिनेट की यह पहली बैठक है। अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में बैठक में मंत्रीमंडलीय विभागों में बदलाव जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा सकते हैं। 

दरअसल, पिछले दिनों दोनों नेताओं के बीच खूब बयानबाजी हुई है। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इशारों-इशारों में सिद्धू को नॉन परफॉर्मर करार दिया था। इस बैठक के बारे में सूत्रों का कहना है कि मंत्रियों को विशेष रूप से सूचना देकर बुलाया गया था। बैठक में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के प्रदर्शन की समीक्षा होने के साथ राज्य के अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई।

इससे पहले भी 30 मई को मुख्यमंत्री ने बैठक बुलाई थी। कांग्रेस विधायकों और सांसदों की इस बैठक में सिद्धू शामिल नहीं हुए थे। सिद्धू भी संकेत दे चुके हैं कि सीएम ने अगर मंत्रालय बदला तो फिर अगला कदम वो उठाएंगे और वे कैबिनेट रैंक छोड़ देंगे। सिद्धू ने पिछले दिनों कहा था कि कैबिनेट को लेकर जो फैसला लेना है लें लेकिन मैं अपने विभाग का रिपोर्ट जारी करूंगा।

सिद्धू पर कैप्टन अमरिंदर सिंह यहां तक आरोप लगा चुके हैं कि सिद्धू उन्हें हटाकर खुद सीएम बनना चाहते हैं।अमरिंदर सिंह ने 19 मई को कहा था, ''मैं उन्हें (नवजोत सिंह सिद्धू) बचपन से जानता हूं। मेरा उनके नजरिये को लेकर कोई फर्क नहीं है। शायद मुझे हटाकर वो मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। ये उनका मामला है। लेकिन चुनाव से ठीक एक दिन पहले जो बयान दिया उसका असर पार्टी पर पड़ेगा, न की मुझपर। केंद्रीय नेतृत्व ने इसपर संज्ञान लिया है। पार्टी अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं करती है।