BREAKING NEWS

अगर तीन दिन से ज्यादा किसी अधिकारी ने रोकी फाइल, तो होगी सख्त कार्रवाई : योगी◾कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त होने के बाद बोले नड्डा- कार्यकर्ता के तौर पर BJP को करुंगा मजबूत◾जम्मू-कश्मीर : अनंतनाग में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ शुरू◾WORLD CUP 2019, WI VS BAN : साकिब के शतक से बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज को सात विकेट से हराया ◾दिल्ली में बढ़ा हुआ ऑटो किराया मंगलवार से लागू होगा, अधिसूचना जारी ◾मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मुर्सी का अदालत में सुनवाई के दौरान निधन ◾ममता बनर्जी से मिलने के बाद बंगाल के चिकित्सकों ने हड़ताल खत्म की ◾जे पी नड्डा भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किये गये ◾पुलवामा में आतंकवादियों ने किया IED विस्फोट, 5 जवान घायल ◾कांग्रेस ने बिहार में दिमागी बुखार से बच्चों की मौत को लेकर सरकार पर निशाना साधा ◾Top 20 News - 17 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾बैंकों ने जेट एयरवेज को फिर खड़ा करने की कोशिश छोड़ी, मामला दिवाला कार्रवाई के लिए भेजने का फैसला ◾लोकसभा में साध्वी प्रज्ञा के शपथ लेने के दौरान विपक्ष ने किया हंगामा ◾ममता बनर्जी और डॉक्टरों की बैठक को कवर करने के लिए 2 क्षेत्रीय न्यूज चैनलों को मिली अनुमति◾बिहार : बच्चों की मौत मामले में हर्षवर्धन और मंगल पांडेय के खिलाफ मामला दर्ज◾वायनाड से निर्वाचित हुए राहुल गांधी ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ◾सलमान को झूठा शपथपत्र पेश करने के केस में राहत, कोर्ट ने राज्य सरकार की अर्जी खारिज की◾भागवत ने ममता पर साधा निशाना, कहा-सत्ता के लिए छटपटाहट के कारण हो रही है हिंसा ◾लोकसभा में स्मृति ईरानी के शपथ लेने पर सोनिया गांधी समेत कई विपक्षी नेताओं ने किया अभिनंदन ◾डॉक्टरों और ममता बनर्जी के बीच प्रस्तावित बैठक को लेकर संशय◾

पंजाब

पंजाब कैबिनेट की बैठक में नहीं शामिल हुए नवजोत सिंह सिद्धू

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से नाराज चल रहे कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू गुरुवार को कैबिनेट की बैठक में मौजूद नहीं रहे। लोकसभा चुनावों के बाद कैबिनेट की यह पहली बैठक है। अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में बैठक में मंत्रीमंडलीय विभागों में बदलाव जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा सकते हैं। 

दरअसल, पिछले दिनों दोनों नेताओं के बीच खूब बयानबाजी हुई है। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इशारों-इशारों में सिद्धू को नॉन परफॉर्मर करार दिया था। इस बैठक के बारे में सूत्रों का कहना है कि मंत्रियों को विशेष रूप से सूचना देकर बुलाया गया था। बैठक में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के प्रदर्शन की समीक्षा होने के साथ राज्य के अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई।


इससे पहले भी 30 मई को मुख्यमंत्री ने बैठक बुलाई थी। कांग्रेस विधायकों और सांसदों की इस बैठक में सिद्धू शामिल नहीं हुए थे। सिद्धू भी संकेत दे चुके हैं कि सीएम ने अगर मंत्रालय बदला तो फिर अगला कदम वो उठाएंगे और वे कैबिनेट रैंक छोड़ देंगे। सिद्धू ने पिछले दिनों कहा था कि कैबिनेट को लेकर जो फैसला लेना है लें लेकिन मैं अपने विभाग का रिपोर्ट जारी करूंगा।

सिद्धू पर कैप्टन अमरिंदर सिंह यहां तक आरोप लगा चुके हैं कि सिद्धू उन्हें हटाकर खुद सीएम बनना चाहते हैं।अमरिंदर सिंह ने 19 मई को कहा था, ''मैं उन्हें (नवजोत सिंह सिद्धू) बचपन से जानता हूं। मेरा उनके नजरिये को लेकर कोई फर्क नहीं है। शायद मुझे हटाकर वो मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। ये उनका मामला है। लेकिन चुनाव से ठीक एक दिन पहले जो बयान दिया उसका असर पार्टी पर पड़ेगा, न की मुझपर। केंद्रीय नेतृत्व ने इसपर संज्ञान लिया है। पार्टी अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं करती है।