BREAKING NEWS

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का समापन समारोह आज, कई विपक्षी पार्टियां होगी रैली में शामिल◾अमित शाह :'महात्मा गांधी के विचारों को अपनाकर उन पर चलना ही उनको सच्ची श्रद्धांजलि'◾Ramcharitmanas controversy: लखनऊ में रामचरितमानस का अपमान करने के आरोप में 8 लोगों पर मामला दर्ज ◾भूपेंद्र सिंह चौधरी ने कहा- गजनी, गोरी ने हिंदुओं की आस्था पर प्रहार किया, वही कार्य सपा प्रमुख कर रहे◾मध्यप्रदेश में खेलो इंडिया’यूथ गेम्स 2022 का भव्य आगाज, 6000 खिलाड़ी करेंगे शिरकत◾अडानी पर हिंडनबर्ग का हमला, कहा- 'धोखाधड़ी को राष्ट्रवाद से ढका नहीं जा सकता'◾1 फरवरी को संसद के पटल पर होगा बजट पेश, 'लोगों को काफी उम्मीदें'◾राजस्‍थान में शीतलहर का कहर, 5वीं कक्षा तक के स्‍कूल 31 जनवरी तक बंद ◾आज का राशिफल (30 जनवरी 2022)◾सिर्फ मोदी को लगता है, चीन ने हमारी जमीन नहीं ली : राहुल गांधी◾BCCI ने भारतीय अंडर-19 महिला टीम के लिए 5 करोड़ के नकद पुरस्कार की घोषणा की◾भारतीय महिला टीम बनी अंडर-19 टी20 विश्व कप चैम्पियन, बधाइयों का लगा तांता◾बारिश भी नहीं डिगा सका बीटिंग रिट्रीट के जज्बे को, गणतंत्र दिवस समारोह का हुआ औपचारिक समापन◾दिल्ली में बारिश, अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री नीचे◾ओडिशा के मंत्री नब किशोर दास की गोली लगने से मौत, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री ने शोक जताया◾IND vs NZ : स्पिनरों के दबदबे के बीच भारत ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया, श्रृंखला 1-1 से बराबर◾हमीरपुर में दूषित जल पीने से बीमार पड़ने वालों की संख्या 535 हुई, मुख्यमंत्री ने रिपोर्ट मांगी◾प्रधानमंत्री मोदी : 'तकनीकी दशक बनाने का भारत का सपना होगा साकार'◾रामचरितमानस विवाद में घिरे स्वामी प्रसाद को अखिलेश ने बनाया राष्ट्रीय महासचिव, चाचा शिवपाल को भी मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾यूपी के मंत्री जितिन प्रसाद ने स्वामी प्रसाद मौर्य के रामचरितमानस बयान को बताया चुनावी रणनीति◾

मनप्रीत बादल के कांग्रेस छोड़ने पर स्टेट चीफ वडिंग ने कहा- अच्छा हुआ, छुटकारा मिला

पंजाब कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने बुधवार को मनप्रीत सिंह बादल के पार्टी से इस्तीफे देने पर प्रतिक्रिया जताते हुए कहा कि ‘‘अच्छा हुआ, छुटकारा मिला।’’ वडिंग ने बादल को ‘‘सत्ता का भूखा’’ करार दिया। मनप्रीत बादल कांग्रेस छोड़ने के बाद दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए।

अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने ट्वीट किया, ‘‘अच्छा हुआ, छुटकारा मिला। वह (मनप्रीत सिंह बादल) पैदाइशी सत्ता के भूखे हैं। वह यह समझकर कांग्रेस में शामिल हुए थे कि पार्टी जीत रही है। उन जैसे किसी व्यक्ति के लिए पांच साल तक सत्ता से बाहर रहना काफी लंबा समय है।...उन्हें कांग्रेस से विश्वासघात के लिए माफी मांगनी चाहिए।’’

पंजाब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने एक अन्य ट्वीट में मनप्रीत पर कटाक्ष करते हुए कहा, ‘‘कोई भी मीर जाफ़र कभी भी एक राजा के तौर पर याद नहीं किया जाता। भारत के राजनीतिक इतिहास में उनका शर्मनाक कृत्य अंकित है। ’’ मनप्रीत बादल पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के भतीजे हैं। उन्होंने 2016 में अपनी पार्टी पीपुल्स पार्टी ऑफ पंजाब का विलय कांग्रेस में करके उसमें शामिल हो गए थे।

पिछले साल राज्य विधानसभा चुनावों में बठिंडा शहरी सीट से चुनाव हारने के बाद, वह कांग्रेस की बैठकों में दिखाई नहीं दे रहे थे। पार्टी हलकों में ऐसी चर्चा थी कि बादल और वडिंग के बीच मतभेद थे। मनप्रीत बादल भाजपा में शामिल होने वाले कांग्रेस के एक और वरिष्ठ नेता हैं। इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और सुनील जाखड़ समेत कांग्रेस के कई अन्य नेता भाजपा में शामिल हुए थे। पांच बार के विधायक मनप्रीत बादल पिछली कांग्रेस सरकार में वित्त मंत्री थे।