BREAKING NEWS

भारत-चीन सीमा विवाद : दोनों पक्ष सैनिकों को पीछे हटाने के लिए वार्ता जारी रखेंगे - विदेश मंत्रालय◾ड्रग्स केस: गोवा से मुंबई पहुंचीं दीपिका पादुकोण, शनिवार को NCB करेगी पूछताछ◾ KXIP vs RCB IPL 2020 : पंजाब ने बैंगलोर को दिया 207 रनों का टारगेट, केएल राहुल ने जड़ा शतक◾महाराष्ट्र में कोरोना के 19164 नए केस, 17185 मरीज हुए ठीक◾जाप ने जारी किया चुनावी घोषणा पत्र, बेरोजगारों को रोजगार देने का किया वादा ◾COVID-19 से संक्रमित मनीष सिसोदिया डेंगू से भी पीड़ित हुए, लगातार गिर रही है ब्लड प्लेटलेट्स◾कृषि और श्रम कानून को लेकर राकांपा का केंद्र पर तंज, कहा- ईस्ट इंडिया कंपनी स्थापित कर रही है सरकार ◾महिला अपराध पर सीएम योगी सख्त, छेड़खानी और बलात्कारियों के पोस्टर लगाने का दिया आदेश ◾कांग्रेस का बड़ा आरोप - केंद्र सरकार ने कृषि विधेयकों के जरिए नयी जमींदारी प्रथा का उद्घाटन किया◾IPL 2020 KXIP vs RCB: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का किया फैसला◾कृषि बिल के विरोध पर बोले केंद्रीय मंत्री तोमर, कांग्रेस पहले अपने घोषणापत्र से मुकरने की करे घोषणा◾महीनों के लॉकडाउन के बाद भी नहीं थम रहा है कोरोना, जानिये भारत क्यों चुका रहा है भारी कीमत◾केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने कहा- विपक्षी दलों की राजनीति हो गई है दिशाहीन ◾ICU में भर्ती डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की हालत स्थिर, अगले कुछ दिनों में फिर होगा कोरोना टेस्ट ◾रेलवे ने जताई चिंता - 'रेल रोको आंदोलन' से जरूरी सामानों और राशन की आवाजाही पर पड़ेगा असर ◾महाराष्ट्र : एकनाथ शिंदे भी कोरोना वायरस से संक्रमित, संपर्क में आए लोगों से जांच करवाने की अपील की ◾कांग्रेस ने अमित शाह की रैली को बताया जनता का अपमान, कोरोना संकट में धनबल की राजनीति का लगाया आरोप◾Fit India Movement के एक वर्ष पूरा होने पर बोले PM मोदी-जितना फिट होगा इंडिया, उतना हिट होगा इंडिया◾कैग की रिपोर्ट में खुलासा: दिल्ली में लगे 44% CCTV कैमरे खराब, 20 साल पुरानी तकनीक के भरोसे पुलिस◾ श्रम कानून : राहुल गांधी ने सरकार पर साधा निशाना, बोले-किसानों के बाद मजदूरों पर किया वार ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

हरकतों से बाज नहीं आ रहा पाक : पंजाब के हुसैनीवाला में पुन: दाखिल हुआ पाकिस्तानी ड्रोन, बीएसएफ द्वारा गोलीबारी, लोगों ने मोबाइल के जरिए बनाई वीडियो

लुधियाना-हुसैनीवाला : पड़ोसी मुलक पाकिस्तान द्वारा बीती रात एक बार फिर ड्रोन के जरिए भारतीय क्षेत्र में दाखिल होने की खबरे मिली है। खबरों की प्राप्ति के दौरान सुरक्षा एजेंयिों की नींद उड़ी हुई है। भारतीय क्षेत्र में ड्रोन के दाखिले के वक्त इसको निशाना बनाने के लिए डयूटी पर तैनात बीएसएफ के जवानों द्वारा गोलीबारी भी की गई ङ्क्षकतु कोई सफलता हाथ ना लगी।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक भारत-पाकिस्तान हुसैनीवालास अंतरराष्ट्रीय सीमा के क्षेत्र बी.ओ.पी टावर के नजदीक ड्रोन के गांव भाखड़ा की तरफ चले जाने की सूचना से पुलिस और बीएसएफ की खुफियां और सुरक्षा एजेंसिया द्वारा कई टीमे बनाकर खोज कार्य जोरो से आरंभ हुए है। 

बताया जा रहा है कि फिरोजपुर के सरहदी क्षेत्र टेंडीवाला में ड्रोन उड़ता देखा गया, इसके बारे में सैनिकों ने उच्च अधिकारियों को सूचना भी दी। यह ड्रोन कुछ वक्त के लिए उड़ता नजर आया लेकिन बाद में वापिस चला गया। इस बारे में अधिकारियों का कहना है कि हो सकता है कि तस्करों द्वारा ड्रोन का इस्तेमाल नशा सप्लाई करने के कारण अलग ढंग अपनाया जा रहा हो। उन्होंने साथ ही कहा कि सैनिक देश की रक्षा के लिए हर पक्ष से तैयार है। उन्होंने यह भी कहा कि जीरो लाइन पर किसी को भी कुछ हलचल दिखाई दे तो सेनिकों को उसकी सूचना दी जाएं।

यहां उल्लेखनीय है कि सुरक्षा एजेंसियां पिछली 2 रातों से लगातार पाकिस्तान के नापाक इरादों को जानने आएं ड्रोन का क्या उददेश्य था, कहां से आया और क्यों आया और क्या कर पाया है आदि के बारे में जानने के लिए जुटी हुई है।  ड्रोन के दाखिले संबंधी अधिक जानकारी देने से उच्च अधिकारियों और बीएसएफ के अधिकारी आना-कानी कर रहे है। फिलहाल फिरोजपुर में दिखे ड्रोनों के बाद भारतीय जवानों द्वारा अंतरराष्ट्रीय सरहद पर सर्तकता बढ़ा दी गई है और देश की सुरक्षा एजेंसियों ने प्रत्येक हरकत पर पैनी नजर रखे हुए है। 

स्मरण रहे पंजाब क ी सीमा पर ड्रोन से हथियार और नशे की सप्लाई पर रोक लगने के बाद हुसैनीवाला सेक्टर में एक रात पहले  भी 4-5 ड्रोन उलटी दिशाओं में देखे गए। यह एरिया तस्करी के लिए बदनाम मल्लावाल और बस्ती रामलाल के इर्द-गिर्द बताया जा रहा है। अगस्त और सितंबर महीने में भी 9 बार भारतीय सरहद तरनतारन सीमा के जरिए पाक ने ड्रोन उड़ाकर भारतीय क्षेत्र में हथियारों का बड़ा जखीरा भेजा था। पहली खेप 13 अगस्त को खेमकरण सेक्टर से आई और इसके बाद अटारी सेक्टर गांव राजोके से ड्रोन के जरिए खेप आई।

- सुनीलराय कामरेड