लुधियाना- पट्टी : पंजाब के सीमावर्ती जिले तरनतारन स्थित पट्टी कस्बे के लाहौर चौक पर कुछ अज्ञात लोगों द्वारा दिनदिहाड़े युवती का अपहरण करने की असफल कोशिश की गई। अपने मकसद में कामयाब ना होते देख युवती को बचाने के लिए आगे आएं सरदार जी को अपहरण कर्ताओं ने गोलियों से जख्मी कर दिया। खून से लथपथ उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां गंभीर हालत देखते हुए उन्हें तरनतारन रेफर कर दिया।

जानकारी के मुताबिक कुल्ला रोड पर लाहौर चौक में स्थित कुछ कार सवारों ने सरेआम एक युवती के अपहरण का प्रयास किया। इसी दौरान पटियाला के आम आदमी पार्टी इंचार्ज और जिला प्रधान चेतन सिंह वहां से गुजर रहे थे कि अचानक उन्होंने एक बेबस युवती को दरिंदों की चुंगल से फंसे देखा, अपहरणकर्ता युवती को जबरदस्ती कार में बैठाने के लिए धकेल रहे थे, इसी दौरान चेतन सिंह ने जब इसका विरोध जताया तो कार सवार युवती को वहीं छोड़ कर फरार हो गए और भागते वक्त चेतन सिंह पर गोलियां चला दी।

‘ फिर मिलेंगे ’ के वायदे के साथ संपन्न हुई भारत-पाक करतारपुर लांघा वार्तालाप, 2 अप्रैल को पुन: होंगी बातचीत

गोली लगने से कार चेतन सिंह बुरी तरह घायल हो गए। उन्हें अमृतसर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मौके पर पुलिस ने इलाके की नाकाबंदी करते हुए कार सवारो की तलाशी शुरू कर दी है। पुलिस आसपास की सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है। अभी तक पुलिस को कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। जबकि सूत्रों के मुताबिक वर्ना कार में आएं 6 नौजवानों ने इस घिनौनी कार्रवाई को अंजाम दिया था।

इस अवसर पर युवती रिंका पुत्री हरपाल सिंह निवासी हरिके ने बताया कि वह वर्धमान फैक्ट्री होशियारपुर में नौकरी करती है और पिछले दिनों ही अपने गांव हरिके में आई थी, आज वह अपना आधार कार्ड बनाकर वापिस हरिके जाने के लिए पहुंची तो वर्ना कार न. पीबी 10बी 7474 पर सवार अज्ञात नौजवानों ने उसे गाड़ी में बैठाने का प्रयास किया। परंतु मोके पर मोजूद चेतन सिंह ने उसे बचा लिया।

– सुनीलराय कामरेड