BREAKING NEWS

महाराष्ट्र : शिवसेना, कांग्रेस और NCP की बैठक खत्म, सरकार गठन पर हुई चर्चा◾कांग्रेस, NCP और शिवसेना गठबंधन पर बोले गडकरी- वे महाराष्ट्र को एक स्थिर सरकार नहीं दे पाएंगे◾मुंबई में शिवसेना ने मारी बाजी, किशोरी पेडनेकर बीएमसी की नई मेयर चुनीं गईं◾प्रकाश जावड़ेकर बोले- बीजिंग से कम समय में दिल्ली में प्रदूषण से निपट लेंगे◾CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान, बोले-पानी और सीवर के नए कनेक्शन पर देने होंगे 2,310 रुपये ◾NCP ने ली भाजपा की चुटकी, कहा- 'शरद पवार ने राजनीति के चाणक्य को दी मात'◾महाराष्ट्र : सरकार गठन को लेकर मुंबई में शाम 4 बजे होगी शिवसेना, NCP और कांग्रेस की बैठक◾संसद परिसर में कांग्रेस ने 'Electoral Bond' के खिलाफ किया प्रदर्शन◾गठबंधन पर संजय निरुपम तंज, कहा- 'तीन तिगाड़े काम बिगाड़े' वाली सरकार चलेगी कब तक?◾महाराष्ट्र में 5 साल के लिए शिवसेना का ही होगा मुख्यमंत्री : संजय राउत◾इजराइल के PM बेंजामिन नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और विश्वासघात मामले में आरोप तय◾सत्यपाल मलिक बोले- अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर में केवट-शबरी की भी हों मूर्तियां, ट्रस्ट को लिखूंगा चिट्ठी◾झारखंड चुनाव: भाजपा के 'बागी' सरयू राय के बहाने नीतीश ने 'तीर' से साधे कई निशाने◾अयोध्या विवाद पर आए फैसले पर दूसरे देशों से संवाद बहुत सफल रहा : विदेश मंत्रालय◾झारखंड विधानसभा चुनाव : दूसरे चरण में 20 विधानसभा सीटों पर 260 प्रत्याशी आजमाएंगे किस्मत◾उद्धव ठाकरे और आदित्य ने मुंबई में शरद पवार से की मुलाकात ◾सोनिया ने शिवसेना संग गठबंधन के लिए सीडब्ल्यूसी का सुरक्षित रास्ता चुना ◾श्रीलंका की नई सरकार के साथ करीब से मिलकर काम करने को तैयार : भारत◾महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के गठन के आसार बढे , शुक्रवार को हो सकती है इस बारे में घोषणा◾चुनावी बांड से चुनावी राजनीति में साफ धन आया : भाजपा ◾

पंजाब

कांग्रेस नेता प्रताप सिंह बाजवा ने पार्टी के सीनियर नेताओं को दी इस्तीफा देने की सलाह

 pratap singh bajwa

पंजाब से राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा ने भी अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की विदेश मामलों संबंधी समिति के उप प्रधान पद से इस्तीफा भेज दिया। साथ ही उन्होंने पार्टी के सीनियर नेताओं को भी इस्तीफा देने की सलाह दी है। प्रताप सिंह बाजवा ने कहा की कांग्रेस की छवि सुधारने के लिए राहुल गांधी जो भी फैसला लेंगे, हम उनके साथ हैं। मुझे लगता है सभी वरिष्ठ नेताओं को, चाहे वे कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य हों या वर्तमान मुख्यमंत्री या राज्य अध्यक्ष हों, उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। 

बाजवा ने अपना इस्तीफा पार्टी के महासचिव केसी वेणुगोपाल को भेजते हुए लिखा है कि पार्टी प्रधान राहुल गांधी ने पद से इस्तीफा देकर अन्य पार्टी नेताओं के लिए जवाबदेही की एक मिसाल पेश की है। इसे ध्यान में रखते हुए सभी पदाधिकारियों को खुद ही अपने पदों से हट जाना चाहिए और पार्टी का सिस्टम सही ढंग से चलाने के लिए राहुल गांधी को पूरी स्वतंत्रता देनी चाहिए। 

उन्होंने कहा कि पार्टी को मजबूत बनाने के लिए वर्किंग कमेटी के सदस्यों, पदाधिकारियों, प्रदेश प्रधानों सहित सभी मुख्यमंत्रियों को भी अपने पदों से इस्तीफा दे देना चाहिए। पिछले 70 सालों में से 50 साल कांग्रेस ने देश में सरकार चलाई है, इसलिए कार्यकर्ताओं को निराश होने की जरूरत नहीं है। बीजेपी 1984 में दो सीटों वाली पार्टी थी लेकिन उसने आगे बढ़ने के लिए मेहनत की।'  बता दें कि लोकसभा चुनाव में पार्टी के किसी नेता द्वारा हार की जिम्मेदारी न लेने पर राहुल गांधी ने दुख जताया था।