BREAKING NEWS

अमेरिका : पुलिस हिरासत में लिया गया एक संदिग्ध, फायरिंग में हुई थी 6 लोगों की मौत◾ आज का राशिफल ( 05 जुलाई 2022) ◾Maharashtra Politics: शिंदे ने भेजा उद्धव गुट के विधायकों को अयोग्यता नोटिस, 'बालासाहेब के सम्मान' में आदित्य ठाकरे का नाम छोड़ा◾डिजिटल प्रौद्योगिकी की सराहना करते हुए मोदी बोले- भारत ने ‘ऑनलाइन’ जाकर सभी ‘लाइन’ को खत्म किया ◾मोदी सात जुलाई को जाएंगे वाराणसी, विकास परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास◾ रो-कर बागियों को वापस लौटने की अपील करने वाले विधायक शिंदे गुट में शामिल◾राष्ट्रपति चुनाव : मुर्मू संकल्प ले वह निर्वाचित होने के बाद ‘रबर स्टाम्प राष्ट्रपति’ नहीं होगी - यशवंत सिन्हा ◾राष्ट्रपति चुनाव : मुर्मू संकल्प ले वह निर्वाचित होने के बाद ‘रबर स्टाम्प राष्ट्रपति’ नहीं होगी - यशवंत सिन्हा ◾दिल्ली में दरिंदों ने की हदपार! लक्ष्मीनगर इलाके में 7 साल की बच्ची के साथ किया कुर्कम, पॉस्कों एक्ट के तहत दर्ज मामला◾ PM Modi security breach : पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक, चॉपर के उड़ान भरते ही आसमान में उड़ाए गए काले गुब्बारे ◾Punjab News: मान ने पंजाब कैबिनेट का किया विस्तार, इन पांच विधायकों ने ली मंत्री पथ की शपथ ◾मीडिया का परिदृश्य पिछले कुछ सालों में बदल गया......., बोले केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ◾RCP Singh: भाजपा को बड़ा झटका! केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह BJP में नहीं हुए शामिल ◾आप आग से नहीं खेल सकते... नूपुर शर्मा को करें गिरफ्तार! CM ममता ने फिर उठाई कड़ी कार्रवाई की मांग ◾ खाली हाथ रह गया उद्धव गुट, अजीत पवार को चुना गया महाराष्ट्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ◾ ज्ञानवापी केस : जिला अदालत में सुनवाई टली, 12 को पक्ष रखेंगे मुस्लिम अधिवक्ता ◾Punjab Board Result 2022: पंजाब में कल छात्र-छात्राओं का अहम दिन, जारी होगा 10वीं का रिजल्ट, इस लिंक पर करें चेक◾ यशवंत सिन्हा की मुर्मू से अपील उनकी ओछी मानसिकता को दर्शाती है - सीटी रवि ◾शरद के बाद कांग्रेस ने भी शिंदे सरकार को लेकर की भविष्यवाणी, कहा - लंबे समय तक नही़ टिकेगी सरकार ◾महाराष्ट्र में 'कानून का शासन' नहीं, शिवसेना बोली- BJP का स्पीकर चुनाव जीतना हैरानी की बात नहीं... ◾

पंजाब: धुरी सीट से तेज हुआ चुनावी घमासान, कांग्रेस उम्मीदवार ने भगवंत मान को ललकारा, दी खुली बहस की चुनौती

पंजाब सूबे की राजनीति काफी हद तक कांग्रेस के लिए बड़ी लड़ाई है, ऐसे में सत्ता में बैठी पार्टी ने विपक्षी दलों पर जोरदार हमला जारी रखा है। पंजाब की धुरी सीट से कांग्रेस उम्मीदवार एवं मौजूदा विधायक दलवीर सिंह गोल्डी ने आम आदमी पार्टी (आप) के मुख्यमंत्री पद के चेहरे भगवंत मान को विकास कार्यों के मुद्दे पर खुली बहस की चुनौती देते हुए दावा किया कि लोगों से कहने के लिए मान के पास कुछ नहीं है।  

कांग्रेस उम्मीदवार ने किया विकास का बड़ा दावा  

शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने धुरी सीट से संगरूर के पूर्व विधायक प्रकाश चंद गर्ग को मैदान में उतारा है। धुरी, संगरूर संसदीय सीट के विधानसभा क्षेत्रों में से एक है। मान संगरूर से दो बार के सांसद हैं। वहीं, गोल्डी (40) पिछले पांच वर्ष में धुरी निर्वाचन क्षेत्र में किए गए कई विकास कार्यों पर आश्रित हैं। गोल्डी ने कहा, ‘‘ हमने निर्वाचन क्षेत्र में कई विकास कार्य किए हैं और मैं पिछले पांच साल से क्षेत्र के लोगों की सेवा कर रहा हूं।’’ गोल्डी छात्र राजनीति में सक्रिय रहे हैं और 2005-06 में ‘पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस स्टूडेंट काउंसिल’ के अध्यक्ष थे। 

32 किलोमीटर लंबी सड़कों का निर्माण किया गया  

गोल्डी ने अपने निर्वाचन क्षेत्र में अपने द्वारा किए गए कई कार्यों के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि 57 गांवों में वॉलीबॉल मैदान बनाए गए, जबकि 32 किलोमीटर लंबी सड़कों का निर्माण किया गया और उनकी मरम्मत की गई। जिला स्तर पर दमकल सेवा तथा ग्राम स्तर पर लघु दमकल सेवा की स्थापना की गई और नई सीवरेज प्रणाली तैयार की गई। धुरी में मान से मुकाबले के सवाल पर गोल्डी ने कहा, ‘‘ मैं उन्हें एक कॉमेडियन के तौर पर देखता हूं, एक गंभीर राजनेता के रूप में नहीं।’’ 

यूपी: 'लाल टोपी वाले गुंडे' वाले बयान का सपा उठा रही चुनावी फायदा, कार्यकर्ताओं के लिए बना स्टेटस सिम्बल

मान ने पंजाब के लिए किसी योजना की कभी कोई बात नहीं की 

गोल्डी ने कहा कि मान अपने भाषणों के दौरान लोगों को ‘‘मूर्ख’’ बनाने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सरकार का बखान कर रहे हैं। ‘आप’ ने एक सर्वेक्षण करने के बाद मान को पंजाब में अपना मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया था। गोल्डी ने कहा, ‘‘ मान ने पंजाब के लिए किसी योजना की कभी कोई बात नहीं की।’’ उनका इशारा घटते भूमिगत जल स्तर की ओर था, क्योंकि धुरी ‘डार्क जोन’ में आता है, जिसके बारे में ‘आप’ उम्मीदवार ने कभी बात नहीं की है। 

कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार ने कहा, ‘‘ मान ने कभी खेल, शिक्षा और स्वास्थ्य प्रणाली के बारे में भी कोई बात नहीं की। मुझे नहीं लगता कि वह धुरी निर्वाचन क्षेत्र को लेकर गंभीर हैं। अगर वह हैं, तो उन्हें सांसद पद से इस्तीफा देकर धुरी से चुनाव लड़ना चाहिए।’’ 

मैं उन्हें खुली बहस की चुनौती देता हूं 

गोल्डी ने कहा कि मान को 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव के अलावा धुरी में कभी नहीं देखा गया। एक सांसद होने के नाते वह धुरी के लोगों के लिए कुछ कर सकते थे। गोल्डी ने कहा कि अगर उन्होंने राज्य के लोगों के लिए कुछ किया होता, तो उन्हें पंजाब के लोगों को ‘दिल्ली मॉडल’ के बारे में बताने की जरूरत नहीं पड़ती। गोल्डी ने मान को धूरी निर्वाचन क्षेत्र के लिए किए गए किसी भी विकास कार्य का लेखा-जोखा देने के लिए उनके साथ एक खुली बहस करने की चुनौती दी।

उन्होंने कहा, ‘‘ मैं उन्हें खुली बहस की चुनौती देता हूं। वह अपने पांच सर्वश्रेष्ठ विकास कार्य बताएं और मैं भी अपने पांच सर्वश्रेष्ठ विकास कार्य बताऊंगा।’’ 

‘आप’ और शिअद के उम्मीदवार ‘‘बाहरी’’ हैं  

कांग्रेस उम्मीदवार अपने निर्वाचन क्षेत्र में ‘‘धुरी मेरी मिट्टी, धुरी मेरा परिवार’’ चुनाव अभियान चला रहे हैं और घर-घर जाकर प्रचार कर रहे हैं। उनका कहना है कि वह धुरी से ताल्लुक रखते हैं, जबकि ‘आप’ और शिअद के उम्मीदवार ‘‘बाहरी’’ हैं। गोल्डी ने 2017 विधानभा चुनाव में ‘आप’ उम्मीदवार जसवीर सिंह को 2,811 मतों से मात देकर, जीत दर्ज की थी। धुरी मुख्य रूप से एक ग्रामीण क्षेत्र है, जिसमें 74 गांव शामिल हैं। यहां 77,000 महिलाओं सहित 1.63 लाख मतदाता हैं।