BREAKING NEWS

भारत-चीन सीमा विवाद: गलवान घाटी पर चीन के दावे को भारत ने एक बार फिर ठुकराया, शुक्रवार को हो सकती है वार्ता◾यूपी में कल रात 10 बजे से 13 जुलाई की सुबह 5 बजे तक फिर से लॉकडाउन, आवश्यक सेवाओं पर कोई रोक नहीं ◾दिल्‍ली में 24 घंटे में कोरोना के 2187 नए मामले, 45 की मौत, 105 इलाके सील◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, 24 घंटे 219 लोगों की मौत, 6875 नए मामले◾उप्र एसटीएफ ने उज्जैन से गिरफ्तार विकास दुबे को अपनी हिरासत में लिया, कानपुर लेकर आ रही पुलिस◾वार्ता के जरिए एलएसी पर अमन-चैन का भरोसा, जारी रहेगी सैन्य और राजनयिक बातचीत : विदेश मंत्रालय◾दिल्ली में कोरोना की स्थिति में सुधार, रिकवरी रेट 72% से अधिक : गृह मंत्रालय◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन बोले-देश में नहीं हुआ कोरोना वायरस का कम्युनिटी ट्रांसमिशन◾ इंडिया ग्लोबल वीक में बोले PM मोदी-वैश्विक पुनरुत्थान की कहानी में भारत की होगी अग्रणी भूमिका◾कुख्यात अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद मां ने कहा- हर वर्ष जाते है महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए ◾मोस्ट वांटेड गैंगस्टर विकास दुबे के बारे में शुरुआत से लेकर गिफ्तारी तक का जानिए पूरा घटनाक्रम◾काशीवासियों से बोले PM मोदी- जो शहर दुनिया को गति देता हो, उसके आगे कोरोना क्या चीज है◾ कांग्रेस ने PM मोदी से किया सवाल, पूछा- क्या गलवान घाटी पर भारत का दावा कमजोर किया जा रहा?◾उज्जैन पुलिस की पीठ थपथपाते हुए बोले CM शिवराज-जल्दी UP पुलिस को सौंपा जाएगा विकास दुबे◾चित्रकूट की खदानों में बच्चियों के यौन शोषण पर बोले राहुल-क्या यही सपनों का भारत है◾देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमितों के 24,879 नए मामले और 487 लोगों ने गंवाई जान ◾कानपुर में 8 पुलिसर्मियों की हत्या का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन में गिरफ्तार◾ दुनिया में कोरोना मरीजों के आंकड़ों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, मरने वालों आंकड़ा 5 लाख 48 हजार के पार ◾कानपुर : हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के सहयोगी प्रभात और बउआ को पुलिस ने एनकाउंटर के दौरान मार गिराया ◾PM मोदी वाराणसी की संस्थाओं के प्रतिनिधियों से आज 11 बजे वीडियो कांफ्रेंस पर संवाद करेंगे◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पंजाब : निहंगों के 2 दलों में अमृतसर स्थित महेता कस्बे में जमकर चली गोलियां, सात जख्मी

लुधियाना- अमृतसर : गुरू की नगरी अमृतसर स्थित कस्बा मेहता में उस समय तनाव का माहौल उत्पन्न हो गया, जब इलाके में निहंगों के 2 समूहों के अंदर जबरदस्त खूनी संघर्ष ने विकराल रूप धारण कर लिया। यह संघर्ष गायों को लेकर शुरू हुआ और दोनों पक्षों के सैकड़ों समर्थक एक-दूसरे के सामने आ डटे। इस दौरान ईंट-पत्थर के साथ-साथ कई राउंड गोलियां चली, जिसमें सात लोगों के गंभीर जख्मी होने की खबर है। यह संघर्ष दमदमी टकसाल और तरना दल के समर्थकों के बीच बताया जा रहा है।  

घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। स्थिति तनावपूर्ण और कस्बे में अघोषित कर्फ्यू जैसे हालात बने हुए हैं। पुलिस के आला अधिकारियों ने घटनास्थल पर अतिरिक्त बल भेजने के आदेश भी जारी कर दिए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, दमदमी टकसाल के मुखी हरनाम सिंह के सदस्यों का तरना दल के मुखी गजन सिंह के सदस्यों से पुराना विवाद चल रहा है। तरना दल के कई सदस्य हजारों गाय लेकर बाबा बरथ सिंह की अगुवाई में गुरुद्वारा साहिब के पास पहुंच गए। बाद में ये गायें दमदमी टकसाल के सदस्यों के खेतों में पहुंच गई और फसल को बर्बाद कर दिया। जब इस की सूचना दमदमी टकसाल के सिंहों को लगी तो उन्होंने रोकने की कोशिश की। इसी बीच गायों के झुंडों को लाने वाले सेवादारों की सिंहों के साथ तकरार हो गया, जिसे देखते ही देखते खूनी झड़प का रूप धारण कर लिया।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक इस झड़प के दौरान कई गोलियों की गूंज भी सुनाई दी और दोनों समूहों ने सडक़ पर लावारिस पड़े ईंट-पत्थरों का उपयोग करके एक-दृूसरे की तरफ उछाला। खबर लिख जाने तक हालात तनावपूर्ण थे और  दोनों गुटों के सदस्य आमने-सामने हो गए।

इस खूनी संघर्ष में दोनों पक्षों के दर्जनभर लोग जख्मी हो गए। गोलियों के छर्रे लगने से अमृतपाल सिंह सहित सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को गुरु नानक देव अस्पताल में दाखिल करवाया है। घायल जगतार सिंह, मनप्रीत सिंह, पंथजीत सिंह, नंबरदार सिंह, सुखविंदर सिंह को निजी अस्पतालों में दाखिल करवाया गया है।

मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति पर नियंत्रण करने का प्रयास किया लेकिन देर रात रात तक दोनों पक्षों के बीच स्थिति तनावपूर्ण रही। दोनों पक्षों के करीब पांच सौ से ज्यादा हथियारबंद सदस्य घटनास्थल पर डटे रहे। उधर, मेहता, कंबो, मजीठा, कत्थूनंगल और अन्य थानों से भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। 

इस खूनी झड़प के बाद एसपी हरपाल सिंह ने बताया कि दोनों गुटों का गायों को लेकर विवाद हुआ है। फिलहाल गायों को खेतों और रास्ते से हटवा दिया गया है। स्थिति नियंत्रण में है और जांच जारी है।

- सुनीलराय कामरेड