BREAKING NEWS

राज्यसभा में पूर्वोत्तर की सभी पार्टियों ने नागरिकता विधेयक के पक्ष में वोट किया : गोयल ◾येचुरी ने सरकार पर लगाया आरोप कहा- भाजपा CAB के जरिए द्विराष्ट्र के सिद्धांत को फिर से जिंदा करने की कोशिश कर रही है ◾नागरिकता विधेयक के खिलाफ जारी प्रदर्शनों के बीच मुख्यमंत्री के घर पर किया गया पथराव ◾नागरिकता संशोधन विधेयक को निकट भविष्य में अदालत में चुनौती दी जाएगी : सिंघवी ◾नागरिकता विधेयक को संसद की मंजूरी मिलने पर भाजपा ने खुशी जताई ◾सुप्रीम कोर्ट में खारिज हो जाएगा CAB : चिदंबरम ◾नागरिकता विधेयक पारित होना संवैधानिक इतिहास का काला दिन : सोनिया गांधी◾मोदी सरकार की बड़ी जीत, नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा में हुआ पास◾ राज्यसभा में अमित शाह बोले- CAB मुसलमानों को नुकसान पहुंचाने वाला नहीं◾कांग्रेस का दावा- ‘भारत बचाओ रैली’ मोदी सरकार के अस्त की शुरुआत ◾राज्यसभा में शिवसेना का भाजपा पर कटाक्ष, कहा- आप जिस स्कूल में पढ़ रहे हो, हम वहां के हेडमास्टर हैं◾CM उद्धव ठाकरे बोले- महाराष्ट्र को GST मुआवजा सहित कुल 15,558 करोड़ रुपये का बकाया जल्द जारी करे केन्द्र◾TOP 20 NEWS 11 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾कपिल सिब्बल ने राज्यसभा में कहा- विभाजन के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताने पर माफी मांगें अमित शाह◾नागरिकता विधेयक के खिलाफ असम में भड़की हिंसा, पुलिस ने चलाई रबड़ की गोलियां◾चिदंबरम ने CAB को बताया 'हिन्दुत्व का एजेंडा', कानूनी परीक्षण में नहीं टिकने का जताया भरोसा◾इसरो ने किया डिफेंस सैटेलाइट रीसैट-2BR1 लॉन्च, सेना की बढ़ेगी ताकत ◾हैदराबाद एनकाउंटर: सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए पूर्व न्यायाधीश को नियुक्त करने का रखा प्रस्ताव ◾पाकिस्तान : हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवाद वित्तपोषण के आरोप तय◾मनमोहन सिंह की सलाह पर लाया गया है नागरिकता संशोधन विधेयक : भाजपा◾

पंजाब

पंजाब : निहंगों के 2 दलों में अमृतसर स्थित महेता कस्बे में जमकर चली गोलियां, सात जख्मी

 amritsar murder cases

लुधियाना- अमृतसर : गुरू की नगरी अमृतसर स्थित कस्बा मेहता में उस समय तनाव का माहौल उत्पन्न हो गया, जब इलाके में निहंगों के 2 समूहों के अंदर जबरदस्त खूनी संघर्ष ने विकराल रूप धारण कर लिया। यह संघर्ष गायों को लेकर शुरू हुआ और दोनों पक्षों के सैकड़ों समर्थक एक-दूसरे के सामने आ डटे। इस दौरान ईंट-पत्थर के साथ-साथ कई राउंड गोलियां चली, जिसमें सात लोगों के गंभीर जख्मी होने की खबर है। यह संघर्ष दमदमी टकसाल और तरना दल के समर्थकों के बीच बताया जा रहा है।  

घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। स्थिति तनावपूर्ण और कस्बे में अघोषित कर्फ्यू जैसे हालात बने हुए हैं। पुलिस के आला अधिकारियों ने घटनास्थल पर अतिरिक्त बल भेजने के आदेश भी जारी कर दिए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, दमदमी टकसाल के मुखी हरनाम सिंह के सदस्यों का तरना दल के मुखी गजन सिंह के सदस्यों से पुराना विवाद चल रहा है। तरना दल के कई सदस्य हजारों गाय लेकर बाबा बरथ सिंह की अगुवाई में गुरुद्वारा साहिब के पास पहुंच गए। बाद में ये गायें दमदमी टकसाल के सदस्यों के खेतों में पहुंच गई और फसल को बर्बाद कर दिया। जब इस की सूचना दमदमी टकसाल के सिंहों को लगी तो उन्होंने रोकने की कोशिश की। इसी बीच गायों के झुंडों को लाने वाले सेवादारों की सिंहों के साथ तकरार हो गया, जिसे देखते ही देखते खूनी झड़प का रूप धारण कर लिया।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक इस झड़प के दौरान कई गोलियों की गूंज भी सुनाई दी और दोनों समूहों ने सडक़ पर लावारिस पड़े ईंट-पत्थरों का उपयोग करके एक-दृूसरे की तरफ उछाला। खबर लिख जाने तक हालात तनावपूर्ण थे और  दोनों गुटों के सदस्य आमने-सामने हो गए।

इस खूनी संघर्ष में दोनों पक्षों के दर्जनभर लोग जख्मी हो गए। गोलियों के छर्रे लगने से अमृतपाल सिंह सहित सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को गुरु नानक देव अस्पताल में दाखिल करवाया है। घायल जगतार सिंह, मनप्रीत सिंह, पंथजीत सिंह, नंबरदार सिंह, सुखविंदर सिंह को निजी अस्पतालों में दाखिल करवाया गया है।

मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति पर नियंत्रण करने का प्रयास किया लेकिन देर रात रात तक दोनों पक्षों के बीच स्थिति तनावपूर्ण रही। दोनों पक्षों के करीब पांच सौ से ज्यादा हथियारबंद सदस्य घटनास्थल पर डटे रहे। उधर, मेहता, कंबो, मजीठा, कत्थूनंगल और अन्य थानों से भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। 

इस खूनी झड़प के बाद एसपी हरपाल सिंह ने बताया कि दोनों गुटों का गायों को लेकर विवाद हुआ है। फिलहाल गायों को खेतों और रास्ते से हटवा दिया गया है। स्थिति नियंत्रण में है और जांच जारी है।

- सुनीलराय कामरेड