BREAKING NEWS

दिल्ली सरकार की चेतावनी - अगर सड़कों पर पुराने वाहन चलते हुए पाये गए तो उन्हें जब्त किया जाएगा◾Kanpur Tractor-Trolley Accident : ट्रैक्टर-ट्राली तालाब में गिरने से 22 से ज्यादा लोगों की मौत, PM मोदी और CM योगी ने हादसे पर जताया दुख◾Madhya Pradesh: कलेक्टर के साथ अभद्र व्यवहार करने पर, बसपा विधायक रामबाई परिहार के खिलाफ मामला दर्ज◾मनसुख मांडविया बोले- ‘रक्तदान अमृत महोत्सव’ के दौरान ढाई लाख लोगों ने रक्त दान किया◾उपमुख्यमंत्री सिसोदिया बोले- हर बच्चे के लिए मुफ्त और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की व्यवस्था जरूरी◾इदौर ने दोबार रचा इतिहास, लगातार छठी बार बना देश का सबसे स्वच्छ शहर, जानें 2nd, 3rd स्थान पर कौन रहा◾मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने 100 साल पार के बुजुर्ग मतदाताओं को लिखा पत्र, चुनाव में हिस्सा लेने के लिए जताया आभार◾UP News: यूपी के चंदौली में हादसा, दीवार गिरने से चार मजदूरों की मौत, नींव से ईट निकालने का हो रहा था काम ◾Congress President Election: केएन त्रिपाठी का नामांकन पत्र खारिज, अब खड़गे-थरूर के बीच महामुकाबला ◾Baltic Sea : बाल्टिक सागर में मीथेन लीक होने से भारी विस्फोट, UN ने जताई चिंता◾ 5G से नये युग की शुरूआत, Airtel ने कहा- आठ राज्यों में 5G की सेवाएं शुरू होने जा रही, 2024 तक का लक्ष्य ◾घपला, घोटाला और गरीबी...अखिलेश यादव ने समझाया 5G का असली अर्थ ◾दिल्ली हाई कोर्ट से सत्येंद्र जैन को झटका! धन शोधन मामले के ट्रांसफर को चुनौती देने वाली याचिका खारिज◾UP News: कांग्रेस का फैसला- बृजलाल खाबरी को यूपी कांग्रेस का बनाया अध्यक्ष, अजय कुमार की ली जगह◾शादी के बाद सामने आया नई नवेली दुल्हन का बड़ा कारनामा, ससुराल वाले रह गए हैरान, थाने पहुंचा पति ◾Congress President : थरूर बोले-खड़गे साहब महत्वपूर्ण अंग, बदलाव चाहते हैं तो मुझे दें वोट◾गांधी परिवार की 'कठपुतली' होगा कांग्रेस पार्टी का नया अध्यक्ष : सुशील मोदी◾ दिल्ली सरकार का फैसला- वाहन चालक हो जाए सावधान, 25Oct से इन सर्टिफिकेट वालों को ही मिलेगा पेट्रोल डीजल ◾जम्मू-कश्मीर: महबूबा मुफ्ती की केंद्र से मांग, अलगावादी नेता अल्ताफ शाह को मानवीय आधार पर किया जाए रिहा ◾भारत जोड़ो यात्रा से केंद्र पर वार! राहुल कोरोना पीड़ित परिवार से मिले, बोले- सुविधाओं के नाम पर मिला छल◾

8 महीनों से कुवैत की जेल में बंद पंजाबी नौजवान को सुनाई फांसी की सजा, पारिवारिक वारिसों का पंजाब में रो-रोकर बुरा हाल

लुधियाना- होशियारपुर : पंजाब के दोआबा और माझा इलाके से बेरोजगारी के चलते पंजाबी गबरूओं का विदेशी धरती की ओर अग्रसर होना लाजिम है और इसी के चलते कई बार उन्हें साजिशन अपनी जिंदगियों से  हाथ धोने पड़ते है और इसी का जीता-जागता सबूत 8 माह पहले कुवैत की जेल में बंद पंजाबी गबरू के पारिवारिक सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल है।  

गांव रामपुर निवासी एक महिला ने कुवैत की जेल में बंद अपने भाई को हुई फांसी की सजा बचाने के लिए केंद्र और सूबा सरकार को अपील की है। बीती रात कुवैत की खरबानियां जेल से आए एक फोन ने पीडि़त परिवार को सदमे में डाल रखा है और उन्होंने अपने बच्चे की सही-सलामती वापिसी के लिए भागदौड़ शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार कुवैत में नशा तस्करी के मामले में दोषी पाए गए होशियारपुर के गांव तारागढ़ के युवक राजिंदर सिंह को फांसी की सजा सुनाई गई है। परिवार ने बताया कि उन्हें जनवरी में पता चला कि राजिंदर को कुवैत में नशीले पदार्थ के साथ गिरफ्तार करने के बाद जेल भेज दिया गया है। अब उसे फांसी की सजा होने की सूचना मिली है। परिजनों ने प्रधानमंत्री, विदेश मंत्री और मुख्यमंत्री से गुहार लगाई है कि उनके बेटे को फांसी की सजा से बचाकर वापस लाया जाए। 

राजिंदर की बहन इंद्रजीत कौर और जीजा गुरजिंद्र सिंह समेत अन्य ने बतायास कि उनका इकलौता 30 वर्षीय भाई 7 साल पहले दुबई गया था और फिर दोहा-कतर चला गया। उन्होंने बताया कि जनवरी 2016 में वह कुवैत चला गया। यहां उसने सावी शहर में काम किया। फरवरी 2019 में उसके वीजा की मियाद खत्म हो गई थी। वह लौटने की तैयारी में था। मार्च में परिवार उसकी शादी करवाना चाहता था। लौटने से पहले वह अपने दोस्त सतविंदर से मिलने कुवैत के शहर खरवानिया चला गया और वहां काम करने लगा।

इस साल 15 जनवरी को वह काम पर जाने के लिए बस का इंतजार कर रहा था। इसी दौरान किसी ने उसे अपना बैग थमा दिया और 10 मिनट में लौटाने की बात कही, लेकिन वह वापस नहीं आया। पुलिस ने राजिंदर को गिरफ्तार कर लिया। बैग से नशीले पदार्थ बरामद हुए। तब से वह जेल में था।

राजिंद्र सिंह  के पारिवारिक सदस्यों ने बताया कि उस दिन के बाद ही बीती रात जेल में से उनके लडक़े राजिंद्र सिंह का फोन आया कि उसको फांसी की सजा हुई और उसके पास वकील करने के पैसे भी नहीं है। उन्होंने बताया कि फोन सुनकर उनके होश उड़ गए और पुन: संपर्क किया तो स्पष्ट हो गया कि कुवैत की अदालत ने राजिंद्र को फांसी की सजा दी है। पारिवारिक सदस्यों ने रो-रोकर बताया कि वह काफी गरीब होने के कारण पैसा नही दे सकते। उनका वकील किया जा सकें। उन्होंने केंद्र और सूबा सरकार से मांग की कि उनके बेटे को वापिस पंजाब लाया जाएं।  

- सुनीलराय कामरेड