BREAKING NEWS

गुजरात में कोरोना के 376 नये मामले सामने आये, संक्रमितों की संख्या बढ़कर 15205 हुई ◾पड़ोसी देश नेपाल की राजनीतिक हालात पर बारीकी से नजर रख रहा है भारत◾कोरोना वायरस : आर्थिक संकट के बीच पंजाब सरकार ने केंद्र से मांगी 51,102 करोड रुपये की राजकोषीय सहायता◾चीन, भारत को अपने मतभेद बातचीत के जरिये सुलझाने चाहिए : चीनी राजदूत◾महाराष्ट्र : 24 घंटे में कोरोना से 105 लोगों की गई जान, मरीजों की संख्या 57 हजार के करीब◾उत्तर - मध्य भारत में भयंकर गर्मी का प्रकोप , लगातार दूसरे दिन दिल्ली में पारा 47 डिग्री के पार◾नक्शा विवाद में नेपाल ने अपने कदम पीछे खींचे, भारत के हिस्सों को नक्शे में दिखाने का प्रस्ताव वापस◾भारत-चीन के बीच सीमा विवाद पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने की मध्यस्थता की पेशकश◾चीन के साथ तनातनी पर रविशंकर प्रसाद बोले - नरेंद्र मोदी के भारत को कोई भी आंख नहीं दिखा सकता◾LAC पर भारत के साथ तनातनी के बीच चीन का बड़ा बयान , कहा - हालात ‘‘पूरी तरह स्थिर और नियंत्रण-योग्य’’ ◾बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 792 नए मामले आए सामने, अब तक कुल 303 लोगों की मौत ◾प्रियंका ने CM योगी से किया सवाल, क्या मजदूरों को बंधुआ बनाना चाहती है सरकार?◾राहुल के 'लॉकडाउन' को विफल बताने वाले आरोपों को केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने बताया झूठ◾वायुसेना में शामिल हुई लड़ाकू विमान तेजस की दूसरी स्क्वाड्रन, इजरायल की मिसाइल से है लैस◾केन्द्र और महाराष्ट्र सरकार के विवाद में पिस रहे लाखों प्रवासी श्रमिक : मायावती ◾कोरोना संकट के बीच CM उद्धव ठाकरे ने बुलाई सहयोगी दलों की बैठक◾राहुल गांधी से बोले एक्सपर्ट- 2021 तक रहेगा कोरोना, आर्थिक गतिविधियों पर लोगों में विश्वास पैदा करने की जरूरत◾देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा डेढ़ लाख के पार, अब तक 4 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾राजस्थान में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7600 के पार, अब तक 172 लोगों की मौत हुई ◾Covid-19 : राहुल गांधी आज सुबह प्रसिद्ध स्वास्थ्य पेशेवरों के साथ करेंगे चर्चा ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सिमरनजीत सिंह मान पाकिस्तान के गुरूधामों के दर्शन करके पहुंचे भारत

लुधियाना-अमृतसर : शिरोमणि अकाली दल अमृतसर के प्रधान और पूर्व सांसद स. सिमरनजीत सिंह मान अपनी 6 दिवसीय पाकिस्तान यात्रा के बाद वापिस वतन लौट आएं, जहां पार्टी वर्करों और सिख आगुओं ने उनका गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। 

इस दौरान पंथक जयकारों की गूंज के साथ उन्हें सिरौपा देकर सम्मानित भी   किया गया। इसी संबंध में हरबीर सिंह संधू ने बताया कि पार्टी प्रधान स. सिमरजीत सिंह मान 27 अक्तूबर को दिल्ली के गुरूद्वारा नानक पियाऊ से शिरोमणि अकाली दल दिल्ली के प्रधान स. परमजीत सरना द्वारा श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी के संरक्षक में 5 प्यारों की अगुवाई के अंतर्गत दिल्ली से ननकाना साहिब तक शुरू किए गए नगर कीर्तन के साथ  31 अक्तूबर को सरहद पार करके पाकिस्तान रवाना हुए थे, जहां अपने साथियों समेत वह आज वापिस लौटे। अटारी वाघा सरहद पर फूल मालाएं पहनाकर उनका स्वागत किया गया। स्वागत करने वालों की अगुवाई पार्टी के महासचिव स. जसकरण सिंह काहनसिंह वाला और सचिव हरबीर सिंह संधू कर रहे थे। 

पाकिस्तान में कुछ विदेश सिखों ने स. मान से मुलाकात की और पंथक मामले में विचार-विमर्श करते हुए तुरंत हल करने के लिए स. मान ने विश्वास दिलवाया। स. मान  ने कहा कि पहले पातशाह श्री गुरू नानक देव जी का कीरत करो, नाम जपो और वंड छको का संदेश घर-घर पहुंचाने की जरूरत है। विदेशी सिखों का एक जत्था स. हरजीत सिंह सौमल आस्ट्रेलिया की अगुवाई में पहुंचा। जिसमें गुरू साहिब की इलाही जोत को सबसे पहले पहचानने वाले व्यक्ति राय बुलार भटटी की 19 वंश के परिवार राय मोहम्मद अकरम भटटी, राय सलीम भटटी और राय बिलाल भटटी के साथ मुलाकात की और उनके साथ विचार-विमर्श किया। 

शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी ने राय बुलार की तस्वीर केंद्रीय सिंह अजायब घर में लगाने के लिए बुलार साहब की 19वी वंश के परिवार को पत्र लिखकर आमंत्रण दिया है लेकिन भारतीय सफारखाने द्वारा उनको वीजा नहीं दिया जा रहा। राय सलीम भटटी ने बताया कि उन्होंने पिछले साल भी मांग की थी लेकिन उनको इंकार कर दिया। इस बार अभी तक कोई फैसला नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि वे श्री अमृतसर साहिब के दर्शन करना चाहते है और यह भी चाहते है कि उनके पूर्वजों की केंद्रीय सिख अजायब घर में तस्वीर लगते वकत होने वाले समागम में वे शमूलियत करना चाहते है। हालांकि एसजीपीसी ने उन्हें विशेष आमंत्रण पत्र भेजा है। 

उधर शिरोमणि अकाली दल के प्रधान परमजीत सिंह सरना ने भी कहा कि राय बुलार सिख पंथ का अहम हिस्सा है और राय बुलार साहिब के परिवार का गुरू घर के साथ गहरे संबंध है और आज भी उनका परिवार गुरू घर को समर्पित है। उन्होंने यह भी कहा कि राय बुलार के परिवार को बिना किसी देरी से हिंदुस्तान का वीजा मिलना चाहिए ताकि वह गुरू धामों के दर्शन करने के साथ सिख अजायब घर में लगने वाली तस्वीर के समागम में हिस्सा ले सकें।

- सुनीलराय कामरेड