लुधियाना-जालंधर : देश में चुनावी दस्तक के साथ पंजाब में भी 13 लोकसभा संसदीय सीटों के लिए अलग-अलग सियासी पार्टियों ने शतरंज बिछाकर प्यादों की बिसात बिछानी शुरू कर दी, इसी क्रम में आज शिरोमणि अकाली दल (बादल) के प्रधान और पूर्व मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने आज लोकसभा संसदीय क्षेत्र जालंधर से पूर्व विधानसभा स्पीकर चरणजीत सिंह अटवाल को अपनी पार्टी प्रत्याशी घोषित किया है तो दूसरी तरफ पंजाब जमहूरी गठजोड़ ने पंजाब एकता पार्टी के आगु सुखपाल ङ्क्षसह खैहरा को लोकसभा हलके बठिण्डा से उम्मीदवार घोषित किया है।

इससे पहले पंजाब डेमोके्रटिक एलाइंस ने लोकसभा चुनावों के लिए 7 उम्मीदवार घोषित किए थे, जिनमें मास्टर बलदेव सिंह को फरीदकोट और बीबी परमजीत कौर खालड़ा को खंडूर साहिब से उम्मीदवार घोषित किया गया है जबकि डॉ धर्मवीर गांधी को पटियाला और मनविंद्र सिंह गयासपुरा को फतेहपुर साहिब से पार्टी प्रत्याशी घोषित किया गया है इसके अलावा बसपा द्वारा विकास सिंह सोढ़ी को श्रीआनंदपुर साहिब, बलविंद्र सिंह को जालंधर और चौधरी खुशीराम को होशियारपुर से चुनाव मैदान में उतारा जा चुका है।

करतारपुर को लेकर अमरिंदर को पाकिस्तान की मंशा पर संशय

लोकसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर चरनजीत सिंह अटवाल जालंधर लोकसभा सीट से शिरोमणि अकाली दल और भाजपा के साझा उम्मीदवार होंगे। अटवाल के नाम की घोषणा शनिवार को अकाली दल प्रधान सुखबीर सिंह बादल ने जालंधर में प्रैस वार्तालाप के दौरान दी। स. अटवाल के नाम की घोषणा की पहले से ही चर्चा में थी क्योंकि हाल में उन्होंने जालंधर में अपनी गतिविधियां तेज कर दी थीं। स्मरण रहे कि जालंधर लोकसभा सीट से कांग्रेस के चौधरी संतोख सिंह निवर्तमान सांसद हैं।

सुखबीर बादल ने पत्रकारों के सवाल पर अटवाल की दावेदारी का एलान किया। उन्होंने मंच से कार्यकर्ताओं से पूछा कि उनका उम्मीदवार कैसा है। जवाब में कार्यकर्ताओं ने अटवाल को अच्छा उम्मीदवार बताया। सुखबीर बादल ने डेरा सच्चा सौदा से समर्थन के सवाल पर सीधा जवाब देने की बजाय कहा कि अकाली दल पंथ की पार्टी है और पंथ के हुक्म से ही चलती है। डेरे के समर्थन पर स्टैंड स्पष्ट करने की बजाय उन्होंने कहा कि बीबी जागीर कौर के बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है।

– सुनीलराय कामरेड