BREAKING NEWS

खट्टर ने स्थानीय युवाओं को नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक न लाने के संकेत दिए ◾सबरीमला में श्रद्धालुओं की जबरदस्त भीड़, 2 महिलायें वापस भेजी गयी ◾जेएनयू छात्रसंघ पदाधिकारियों का दावा, एचआरडी मंत्रालय के अधिकारी ने दिया समिति से मुलाकात का आश्वासन ◾प्रियंका गांधी ने इलेक्टोरल बांड को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾TOP 20 NEWS 18 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद पवार बोले- किसी के साथ सरकार बनाने पर चर्चा नहीं◾INX मीडिया धनशोधन मामला : चिदंबरम ने जमानत याचिका खारिज करने के आदेश को न्यायालय में दी चुनौती ◾मनमोहन सिंह ने कहा- राज्य की सीमाओं के पुनर्निधार्रण में राज्यसभा की अधिक भूमिका होनी चाहिए◾'खराब पानी' को लेकर पासवान का केजरीवाल पर पटलवार, कहा- सरकार इस मुद्दे पर राजनीति नहीं करना चाहती◾संसद का शीतकालीन सत्र : राज्यसभा के 250वें सत्र पर PM मोदी का संबोधन, कहा-इसमें शामिल होना मेरा सौभाग्य◾बीजेपी बताए कि उसे चुनावी बॉन्ड के जरिए कितने हजार करोड़ रुपये का चंदा मिला : कांग्रेस ◾CM केजरीवाल बोले- प्रदूषण का स्तर कम हुआ, अब Odd-Even योजना की कोई आवश्यकता नहीं है ◾महाराष्ट्र: शिवसेना संग गठबंधन पर शरद पवार का यू-टर्न, दिया ये बयान◾ JNU स्टूडेंट्स का संसद तक मार्च शुरू, छात्रों ने तोड़ा बैरिकेड, पुलिस की 10 कंपनियां तैनात◾शीतकालीन सत्र: NDA से अलग होते ही शिवसेना ने दिखाए तेवर, संसद में किसानों के मुद्दे पर किया प्रदर्शन◾शीतकालीन सत्र: चिदंबरम ने कांग्रेस से कहा- मोदी सरकार को अर्थव्यवस्था पर करें बेनकाब◾ PM मोदी ने शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले सभी दलों से सहयोग की उम्मीद जताई ◾संजय राउत ने ट्वीट कर BJP पर साधा निशाना, कहा- '...उसको अपने खुदा होने पर इतना यकीं था'◾देश के 47वें CJI बने जस्टिस बोबडे, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिलाई शपथ◾राजस्थान के श्री डूंगरगढ़ के पास बस और ट्रक की भीषण टक्कर, 10 लोगों की मौत◾

पंजाब

लुधियाना जेल की हिंसा के दौरान मारे गए कैदी की मां का दर्दनाक रूदन, पुलिसियों से एक ही सवाल, ‘मेरा शेर जैसा पुत क्यों मारा उसदा की कसूर...सी?’

लुधियाना : ‘हाय.. ओ..रब्बा, मैं कित्थे जावां-मेरा शेर जैसा पुत क्यों मारा उसदा की कसूर सी..’ भारी भीड़ के बीच सैकड़ों खाकी वर्दीधारियों की मोजूदगी में विलाप करती ममतामयी मां पुलिस वालों से पूछती है कि उसे इतना तो बता दो..कि मेरे पुत दा क्या कसूर था, उसे क्यों मारा? लुधियाना के सिविल अस्पताल के बाहर आपातकालीन वार्ड के आगे सगे-संबंधी महिलाओं की मोजूदगी में विलाप क रती मृतक 21 वर्षीय कैदी अजीत सिंह की मां निर्मला मोजूद हर शख्स से एक ही सवाल करती पूछती है कि उसे न्याय कौन देंगा। गमगीन वातावरण के दौरान उपस्थित महिलाएं उसे संभालने का कई बार प्रयास करती है। इसी बीच मां अपने बेटे को याद करके जमीन पर मिटटी पर ही पलाथी मारे बैठ जाती है। 

मृतक अजीत सिंह के पिता हरजिंद्र सिंह ने भी पुलिस अधिकारियों पर कत्ल का मुकदमा दर्ज करने की मांग करते हुए साफ तौर पर स्पष्ट किया है कि पोस्टमार्टम करवाने के लिए ना तो वह किसी सरकारी दस्तावेज पर हस्ताक्षर करेंगे और ना ही वह अपने बेटे की लाश लेंगे। उन्होंने कहा कि मेरे अजीत को जिंदा जेल में लेकर गए थे, तो उसे लाश बनाकर क्यों सौंपा जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि डिप्टी सुपरीटेंड द्वारा उनके बेटे पर गोलियां चलाई गई है। अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज ना होने तक वह संघर्ष जारी रखेंगे। 

दरअसल बीते दिन लुधियाना के ताजपुर रोड़ पर स्थित केंद्रीय जेल में कैदियों और जेल मुलाजिमों के बीच हुई हिंसात्मक झड़प के उपरांत उठे बवाल में लुधियाना के टिब्बा रोड़ पर रहने वाले अजीत सिंह उर्फ भोला पुलिस द्वारा जेल के अंदर चलाई गई गोलीबारी के दौरान मारा गया था। इस झड़प में पंजाब पुलिस के दर्जनों जवान जख्मी हुए थे, जिनमें एसीपी संदीप वडेरा भी शामिल थे। जिनका इलाज लुधियाना के एक  निजी दयानंद अस्पताल में चल रहा है। 

सुनीलराय कामरेड