BREAKING NEWS

सिद्धू पर लगे एंटीनेशनल के आरोपों पर BJP का सवाल, सोनिया और राहुल चुप क्यों हैं?◾सुखजिंदर रंधावा हो सकते पंजाब के नए मुख्यमंत्री, अरुणा चौधरी और भारत भूषण बनेंगे डिप्टी सीएम◾इस्तीफा देने से पहले सोनिया को अमरिंदर ने लिखी थी चिट्ठी, हालिया घटनाक्रमों पर पीड़ा व्यक्त की◾सिद्धू के सलाहकार का अमरिंदर पर वार, कहा-मुझे मुंह खोलने के लिए मजबूर न करें◾पंजाब : मुख्यमंत्री पद की रेस में नाम होने पर बोले रंधावा-कभी नहीं रही पद की लालसा◾प्रियंका गांधी का योगी पर हमला, बोलीं- जनता से जुड़े वादों को पूरा करने में असफल क्यों रही सरकार ◾पंजाब कांग्रेस की रार पर बोली BJP-अमरिंदर की बढ़ती लोकप्रियता के डर से लिया गया उनका इस्तीफा◾कैप्टन के भाजपा में शामिल होने के कयास पर बोले नेता, अमरिंदर जताएंगे इच्छा, तो पार्टी कर सकती है विचार◾कौन संभालेगा पंजाब CM का पद? कांग्रेस MLA ने कहा-अगले 2-3 घंटे में नए मुख्यमंत्री के नाम का होगा फैसला◾पंजाब में हो सकती है बगावत? गहलोत बोले-उम्मीद है कि कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने वाला कदम नहीं उठाएंगे कैप्टन ◾CM योगी ने साढ़े चार साल का कार्यकाल पूरा होने पर गिनाईं अपनी सरकार की उपलब्धियां◾राहुल ने ट्वीट किया कोरोना टीकाकरण का ग्राफ, लिखा-'इवेंट खत्म'◾अंबिका सोनी ने पंजाब CM की कमान संभालने से किया इनकार, टली कांग्रेस विधायक दल की बैठक◾अफगानिस्तान में आगे बुनियादी ढांचा निवेश को जारी रखने के बारे में पीएम मोदी करेंगे निर्णय : नितिन गडकरी◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 30,773 नए मामलों की पुष्टि, 309 लोगों की हुई मौत◾पंजाब के बाद अब राजस्थान और छत्तीसगढ़ पर टिकी निगाहें, क्या होगा उलटफेर?◾पंजाब के बाद राजस्थान कांग्रेस में हलचल, CM गहलोत के OSD लोकेश शर्मा ने दिया इस्तीफा◾तीन दिन की अंतरिक्ष की सैर कर वापस लौटे यात्री, अटलांटिक सागर में लैंड हुआ कैप्सूल◾ योगी सरकार के साढ़े चार साल हुए पूरे, CM योगी आज उपलब्धियों का रिपोर्ट कार्ड करेंगे पेश ◾दुनियाभर में जारी है कोरोना महामारी का प्रकोप, संक्रमितों का आंकड़ा 22.81 करोड़ से अधिक ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पंजाब सरकार 'फतेह' किट की खरीद की जांच का आदेश क्यों नहीं दे रही : अकाली दल

शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने बृहस्पतिवार को पंजाब सरकार से सवाल किया कि वह 'फतेह' किट की खरीद मामले में जांच का आदेश क्यों नहीं दे रही है। इसके साथ ही पार्टी ने आरोप लगाया कि जिस कंपनी ने किट की आपूर्ति की, उसके पास वैध लाइसेंस नहीं था और वह एक कोल्ड स्टोर से संचालित कर रही थी।

कोविड मरीजों को दी जाने वाली मेडिकल किट में ऑक्सीमीटर, थर्मामीटर, मास्क, स्टीमर, सैनिटाइजर, विटामिन सी और जिंक की गोलियां तथा कुछ अन्य दवाइयां दी जाती हैं।

शिअद सांसद बलविंदर सिंह भुंडर ने एक बयान में आरोप लगाया कि पंजाब सरकार को 26 करोड़ रुपये की किट की आपूर्ति करने वाली कंपनी के बारे में हालिया खुलासे से संकेत मिलता है कि पूरा अभियान 'फर्जीवाड़ा' था।

उन्होंने आरोप लगाया , “... मूल निविदा एक कंपनी को छह महीने की वैधता के साथ 837 रुपये प्रति किट की दर पर दी गयी थी, लेकिन निविदा दो बार फिर से जारी की की गयी और दोनों बार दूसरी कंपनी को 1,226 रुपये और 1,338 रुपये प्रति किट की बढ़ी हुई कीमतों पर दी गयी।

उन्होंने आरोप लगाया कि मेडिकल किट की आपूर्ति के लिए कंपनी के पास वैध लाइसेंस नहीं है। उन्होंने कहा कि केवल स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच से ही इस घोटाले के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई हो सकती है।

शिअद, आम आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी जैसे विपक्षी दल मेडिकल किट की खरीद में कथित गड़बड़ी को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साध रहे हैं। आप ने पंजाब के लोकपाल को पत्र लिखकर इस मामले की जांच कराने की मांग की है।