लुधियाना-अमृतसर : आम आदमी पार्टी हाईकमान द्वारा अपने ही 2 विधायक सुखपाल सिंह खैहरा और कंवल संधू को बरखास्त किए जाने के पश्चात आज अमृतसर में पी,ए,सी सदस्य सुरेश शर्मा और हलका अटारी इंचार्ज मास्टर जसविंद्र सिंह जहांगीर की अगुवाई में सैकड़ों वलंटियरों और पदाधिकारियों ने पार्टी को हमेशा के लिए अलविदा करते हुए अपनी आरंभिक सदस्यता से इस्तीफे दे दिए।

इस अवसर पर सुरेश शर्मा और जहांगीर ने संयुक्त तौर पर कहा कि आम आदमी पार्टी, जिसको पंजाब के अंथक कार्यकर्ताओं ने अपने खून-पसीने के साथ खड़ा किया था लेकिन अफसोसपार्टी हाई कमान और सुप्रीमों अरविंद केजरीवाल के अडिय़ल व्यवहार और अहंकार के चलते पंजाब में आम आदमी पार्टी को खत्म कर दिया है। आम आदमी पार्टी का पंजाब में पतन होने का जिम्मेदार सिर्फ पार्टी हाई कमान और जुंडली है।

आम आदमी पार्टी के बागी नेता सुखपाल खैहरा व कंवर संधू हुए हिटविकट

हाई कमान का पंजाब विरोधी चेहरा उस वक्त बेनकाब हो चुका था जब उनके द्वारा पंजाब के मुदों को उठाने वाले निडर नेता सुखपाल सिंह खैहरा को पंजाब विधानसभा के प्रतिपक्ष नेता की जिम्मेदारी से हटाकर हरपाल सिंह चीमा को लगाया गया था।

वही दूसरी तरफ पार्टी जो अकसर कहती थी कि हम कभी धर्म की राजनीति नहीं करेंगे, परंतु नेता विरोधी बदलते समय धर्म से संबंधित तर्क दे दिए गए जो पार्टी की दोगुली नीति उजागर करता है।

– सुनीलराय कामरेड