पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को एक पत्र लिख उनसे पाकिस्तान सरकार के समक्ष डेरा बाबा नानक से करतारपुर साहिब तक एक गलियारा खोलने का मुद्दा उठाने की अपील की है। आधिकारिक बयान में शुक्रवार को कहा गया कि मुख्यमंत्री ने स्वराज को लिखे पत्र में कहा कि पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के नारोवाल जिला स्थित करतारपुर साहिब सिखों के लिए बेहद पवित्र स्थल है।

गुरु नानक ने अपने जीवन का अधिकतर समय करतारपुर साहिब में बिताया है। यह गुरुद्वारा गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक के चार किलोमीटर पश्चिम में स्थित है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बार-बार केंद्र से अंतरराष्ट्रीय सीमा से करतारपुर साहिब तक एक गलियारा खोलने का मुद्दा पड़ोसी देश के समक्ष उठाने की अपील की है।

करतारपुर साहिबः श्रद्धालु यहां दूरबीन से करते हैं गुरुद्वारा के दर्शन, जानिये महत्व

नवम्बर में गुरु नानक की 550वीं जयंती का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने सुषमा स्वराज को बताया कि 27 अगस्त को पंजाब विधानसभा में गलियारे के निर्बाध उद्घाटन की मांग के लिए सर्वसम्मति से एक प्रस्ताव पारित किया गया था। अमरिंदर ने अगस्त में भी सुषमा से मुद्दा उठाने की अपील की थी।