लुधियानाा : कुछ दिन पहले जिस शख्स ने पंजाब पुलिस पर रौब डालते हुए स्वयं को उत्तर प्रदेश का आईपीएस अधिकारी बताकर सिक्योरिटी ले ली और लुधियाना के पुलिस कमीश्रर आफिस में जाकर खाकी वर्दीधारियों को पार्टी दी, लडडू खिलाएं और जश्र भी मनाया, उसी 32 वर्षीय शख्स को आज लुधियाना पुलिस ने तहकीकात के दौरान नकली पाते हुए जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। हालांकि उस शख्स ने अपने हुनर के बलबूते पर पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल, मंत्री शरणजीत सिंह ढिल्लो समेत कई नेताओं के साथ मीठी जुबां के चलते अपने उल्लू साधे है। पुलिस के मुताबिक इस नकली आईपीएस अधिकारी के विरूद्ध 4 लाख रूपए की ठगी की शिकायत भी प्राप्त हुई है।

इस बात का खुलासा करते हुए पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नकली अधिकारी बनकर पंजाब पुलिस को बेवकूफ बनाने वाला रूपिंद्र सिंह स्वयं 8वीं पास निकला और सरदार नगर में रहने वाला वह ट्रक ड्राइवर था। उच्च अधिकारियों के हुकमों के उपरांत पुलिस स्टेशन सलीम टाबरी में आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज हुआ तो छापेमारी के दौरान वह पुलिस के शिकंजे में आ गया।

जानकारी के मुताबिक रूपिंद्र सिंह, सिविल सर्विसेस की परीक्षा नही पास कर सका तो फिल्मों से प्रभावित हो खुद ही बन गया आईपीएस और फिर रौब डालने के चक्कर में एक बार झूठ का सहारा लिया तो फिर झूठ के घोड़े पर सवार होकर वह सरपट दौड़ा। आरोपी युवक पिछले करीब एक-डेढ़ साल से लोगों पर अपनी धौंस जमाने और सरकारी विभागों में अपने काम करवाने को लेकर एक एसीपी रैंक के अधिकारी द्वारा इस्तेमाल की जानी वाली वर्दी का इस्तेमाल करता था. आज इस बहरूपिया के बारे में मीडिया से मुखातिब होते हुए सुरिंदर लांबा (एडीसीपी-स्पेशल ब्रांच, लुधियाना) ने बताया कि नकली आईपीएस अधिकारी किसी को शक न हो इसके लिए अपने साथ पुलिस के एक असली होमगार्ड को लेकर जाता था जो कि इसका एक बेहद खास दोस्त है और लुधियाना के ही एक थाने में तैनात है और पुलिस के मुताबिक आरोपी ने उसे भी अपने झांसे में लेकर रखा और उसका इस्तेमाल करता रहा।

पुलिस ने पक ड़े गये इस आरोपी के पास से एसीपी रैंक के अधिकारी की दो वर्दियों के सेट, एक लाइसेंसी रिवाल्वर, 32 के करीब जिंदा कारतूस, एक नीली बत्ती व् कई स्टार्स व् बैच व् अन्य सामान भी बरामद किये है. इस नकली आईपीएस पुलिस अधिकारी ने पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल के साथ अपनी कुछ तस्वीरें भी खिंचवा रखी है. पुलिस अब इस बात की जांच कर रही है के उसने यह वर्दियां और उसके उपर लगने वाले स्टार्स और बैच कहाँ से और किस से बनवाए और अब तक इसने किन-किन लोगों को अपना शिकार बनाया है. इसकी तहकीकात जारी है। सूत्रों के मुताबिक यह भी पता चला है कि इस आरोपी ने कई उच्च अधिकारियों को कहा हुआ था कि इन दिनों गृहमंत्री राजनाथ सिंह की सिक्योरिटी में वह लगा है। आरोपी ने अपने लिए 3 हथियारों के लाइसेंस भी बना रखे थे, जिन्हें अब पुलिस ने रदद कर दिया है।

– सुनीलराय कामरेड

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।