एक समय टीम इंडिया के स्टार क्रिकेटर रहे इरफान पठान का मानना है कि पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को अभी क्रिकेट से संन्यास नहीं लेना चाहिए। इरफान पठान ने यहां कहा कि धौनी के अभी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का कोई सवाल ही नहीं बनता है। उनमें अभी बहुत दम है और काफी क्रिकेट बचा है।

इरफान पठान

यहां पत्रकारों से बातचीत में इरफान पठान ने कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम को अभी पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी की जरूरत है। अभी उनमें काफी दमखम बाकी है और वह युवा खिलाडियों को सही तरीके से मार्गदर्शन कर सकते हैं और वह ऐसा कर भी रहे हैं।

इरफान पठान करते है धोनी को सलाम

इरफान पठान

पठान ने यहां पंजाब की पहली क्रिकेट अकादमी ऑफ पठांस (सीएपी) का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि सीएपी पंजाब के युवा क्रिकेटरों को जिला और राज्य स्तर पर चयन के लिए तैयार करने के प्रयास में उन्हें गुणवत्तायुक्त सेवाएं मुहैया कराएगी। इससे प्रतिभावान खिलाड़ी उभरकर सामने आएंगे।

इरफान पठान

उन्होंने यह भी कहा कि पंजाब के बच्चे क्रिकेट को बहुत प्यार करते है और इनमें भी कई भविष्य के खिलाड़ी बनकर उभर सकते है। शर्त यह है कि इन्हे उचित मार्गदर्शक मिलना चाहिए।

इरफान पठान

महेंद्र सिंह धौनी के कैरियर पर पूछे सवाल पर पठान ने कहा कि उनके संन्यास का अभी कोई सवाल नहीं बनता है। उनमें अब भी काफी दम है। जो लोगों उन पर संन्यास का दबाव बढ़ा रहे हैं, वे सरासर गलत हैं। वे भारतीय क्रिकेट का नुकसान कर रहे हैं। धौनी अभी भी दुनिया के सर्वक्षेष्ठ विकटकीपर बल्लेबाज हैं। एक-दो पारियों से इतने महान खिलाड़ी पर सवाल उठाना ज्यादती है।

dhoni

जालंधर और अमृतसर में भी खुलेगी अकादमी
पठान ने कहा कि अकादमी पंजाब में उभरते क्रिकेटरों के प्रशिक्षण और विकास के लिए अत्याधुनिक कोचिंग तकनीक का इस्तेमाल करेगी।

इरफान पठान

पठान ने बताया कि सीएपी मौजूदा समय में 13 शहरों दिल्ली, कोटा, पटना, मोर्बी, नोएडा, बेंगलूरु, राजकोट, सूरत, सोनीपत, पोर्ट प्लेयर, रायपुर और लूनावाड़ा में है।

इरफान पठान

अगले साल के मध्य तक भारत के विभिन्न शहरों में 20 नई अकादमी खोलने की योजना है। इनमें मैनपुरी, श्रीरामपुर, मैसूर, इंदौर, भोपाल, पठानकोट, जालंधर, और अमृतसर शामिल है।

– सुनीलराय कामरेड