आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई ने राज्य सरकार की ओर से बस भाड़े में की गई वृद्धि का विरोध किया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं विधायक अमन अरोड़ा ने आज यहां कहा कि सात पैसे प्रति किलोमीटर बस किराये में वृद्धि करके मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार ने आम और गरीब लोगों पर रोजमर्रा के लाखों रुपए का बेवजह बोझ थोप दिया है, जबकि लोग महंगाई के कारण पहले से ही परेशान है।

अमन अरोड़ा ने कहा कि पी.आर.टी.सी की तरफ से बढ़ाया गया बस किराया बाकी सभी सरकारी और प्राईवेट बसों में भी बराबर लागू किया जायेगा।

बादल परिवार को करना होगा एसजीपीसी व अकाली दल से बाहर – वडाला

यदि पी.आर.टी.सी की सिर्फ 1075 बसों के साथ पंजाब के लोगों पर प्रति दिन पौने 8 लाख रुपए का फालतू बोझ पड़ेगा तो हजारों निजी और सरकारी बसों द्वारा यह राशि कई गुणा बढ़गी, जो आम और गरीब यात्रियों की जेब से निकलेगी।

अमन अरोड़ा ने कहा कि यदि सरकार लोगों के हितों का ध्यान रखती होती तो डीजल -पेट्रोल की कीमतों के मुताबिक बस किराया बढ़ने के बजाए डीजल -पेट्रोल पर अपने हिस्से के वैट में कटौती करती। पंजाब सरकार 36 प्रतिशत वैट वसूलने के लिए देश की दूसरी सबसे महंगे भाव डीजल -पेट्रोल बेचने वाली सरकार है।