लुधियाना : पंजाब में प्रतिदिन हत्याओं का दौर जारी है, आज इसी सिलसिले में औद्योगिक नगर लुधियाना की घनी आबादी क्षेत्र डीएमसी अस्पताल के पास मोटर साइकिल सवार दो नौजवानों ने नाके पर तैनात डयूटी पुलिस मुलाजिम को सरेआम गोलियां मार दी। दोनों नौजवान इस वारदात को अंजाम देने के बाद बड़े आराम से फरार हो गए।

जख्मी मुलाजिम को लोगों की सहायता से अस्पताल ले जाया गया। जानकारी के मुताबिक जख्मी मुलाजिम ने दोनों नौजवानों को नाके पर चैकिंग के लिए रोकने का प्रयास किया था तो तैश में आकर मोटर साइकिल सवारों ने गोली चला दी। उधर घटना की जानकारी मिलते ही उच्च पुलिस अधिकारी मोके पर पहुंचे और मामले की तहकीकात में जुट गए। यह भी पता चला है कि इस मामले को अंजाम देने वाले नौजवान की जख्मी पुलिस अधिकारी ने अपने मोबाइल पर एक नौजवान की पुलिस खींच ली।

जत्थेदारों के बायकाट पर बोले श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह

जानकारी के मुताबिक सोमवार सुबह चौकी के बाहर तैनात कांस्टेबल वाहनों की चेकिंग कर रहा था। इसी दौरान उसने एक मोटरसाइकिल सवार क ो रोका। कांस्टेबल ने उससे कागज मांगे तो मोटरसाइकिल सवार ने उसके टांग पर गोली मार दी। इसके बाद मोटरसाइकिल सवार फरार हो गया। कांस्टेबल दविंदर सिंह को डीएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दविंदर सिंह डीएमसी चौकी में तैनात था। सोमवार सुबह पुलिस ने चौकी के बाहर नाकाबंदी की हुई थी। इसी दौरान डीएमसी पार्किंग में से एक मोटरसाइकिल सवार युवक निकला। शक के आधार पर दविंदर सिंह ने उसे रोका और जब मोटरसाइकिल के कागज दिखाने की बात की तो युवक ने पिस्तौल निकालकर दविंदर की दाहिनी टांग में गोली मार दी।

वारदात को अंजाम देकर बदमाश आसानी के साथ मौके से फरार हो गया। सूचना मिलते ही पुलिस कमिश्नर सुखचैन सिंह गिल मौके और पहुंचे। मामले में पुलिस कमिश्नर का कहना है कि गोली चलाने वाले बदमाश की साफ तस्वीर उनके पास आ गई है। पुलिस बदमाश की तलाश कर रही है जल्द ही उसे काबू कर लिया जाएगा।