आम आदमी पार्टी (आप) को लोकसभा चुनाव से पहले बड़ा झटका लगा है। पंजाब से विधायक सुखपाल खैरा ने रविवार को आम आदमी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। सुखपाल खैरा ने आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया। इसके साथ ही उन्होंने केजरीवाल पर निशाना भी साधा है।

kejriwal

खैरा ने केजरीवाल को लिखे पत्र में कहा है कि पार्टी उस विचारधारा और सिद्धांतों से पूरी तरह से भटक गई है, जिस पर अन्ना हजारे आंदोलन के बाद इसका गठन हुआ था। खैरा ने कहा, “दुर्भाग्य से पार्टी में शामिल होने के बाद मैंने महसूस किया कि आप का पदक्रम भी पारंपरिक केंद्रीकृत राजनीतिक पार्टियों से अलग नहीं है।”

 पिछले साल जुलाई में पंजाब विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाए जाने के बाद से वह आप नेतृत्व के मुखर आलोचक रहे हैं। पद से हटाए जाने के बाद खैरा ने सात समर्थकों के साथ बागियों के एक समूह का गठन किया जिसने पार्टी की पंजाब इकाई के लिए स्वायत्तता की मांग की। बता दें कि इससे पहले पंजाब आम आदमी पार्टी नेता और सिख विरोधी दंगे के वकील हरविंदर सिंह फुलका ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। इस बात की जानकारी उन्होंने ट्वीटर के जरिए गुरुवार को दी थी।

AAP के वरिष्ठ नेता एच एस फुल्का ने पार्टी से दिया इस्तीफा