लुधियाना : पंजाब में आतंकवाद के नाम पर हो रही धड़पकड़ के बीच दीवाली की पूर्व संध्या पर कानून व्यवस्था के मद्देनजर जब लुधियाना स्थित रेड़ी मोहल्ला से चार कश्मीरी व्यापारियों को पंजाब पुलिस द्वारा तफ्तीश के लिए पुलिस स्टेशन ले जाया गया तो इस दौरान चुनिंदा समाचार पत्रों के मीडिया कर्मियों ने अपनी जिम्मेदारी से भागते हुए बिना पुलिस की पुष्टि और पुख्ता आधार पर कश्मीरियों को संधिग्द और आतंकी घोषित करते अखबारों की सुर्खियां बना डाली और कलम घिसू पत्रकारों ने अपने कालम के माध्यम से यहां तक लिख दिया कि इनसे असलाह और पाकिस्तानी दस्तावेज बरामद हुए है। हालांकि इसी बीच देर रात तफ्तीश के बाद वे समस्त अपने-अपने घर वापिस आ गए। इन चारों कश्मीरी व्यापारियों ने जब सुबह कुछ समाचार पत्रों के पहले पन्ने में खुद को आंतकवादी लिखा पाया तो उनके हाथ पांव फूल गए।

होश उड़ते ही वे इंसाफ की खातिर पूरी घटना के बाद बड़ी संख्या में अन्य कश्मीरी व्यापारीयों को साथ लेकर जामा मस्जिद लुधियाना से इक_े होकर नायब शाही इमाम मौलाना उसमान रहमानी लुधियानवी के नेतृत्व में पुलिस कमिशनर के कार्यालय पहुंचे। जहां पर डीसीपी अश्वनी कपूर से मिले और बेकसूर व्यपारियों को आतंकी लिखने पर अपना रोष व्यक्त किया। डीसीपी अश्वनी कपूर ने आश्वासन दिया कि कश्मीरी व्यापारियों को घबराने की जरूरत नहीं उन्हें आम शहरियों की तरह सुरक्षा प्रदान की जा रही है।

करतारपुर साहिब गलियारे पर सीएम अमरिंदर ने विदेश मंत्री सुषमा को लिखा पत्र

इस सारे घटनाक्रम को लेकर आज जामा मस्जिद लुधियाना में पंजाब के शाही इमाम मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवी ने पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि कश्मीरी व्यपारियों को आतंकी और संधिग्द लिखना बहुत ही निंदनीय है। शाही इमाम ने कहा दीवाली की खुशी के मौके पर कुछ समाचार पत्रों की ओर से जहां आतंकवादियों की झूठी खबर से शहर में शहरवासियों को भयभीत किया गया वहीं बेकसूर व्यापारियों में खौफ का माहौल पाया जा रहा है।

शाही इमाम ने कहा कि मैं स्वतंत्रता सैनानियों का वंशज हूं और देश विरोधियों का सिर कलम करने का जज़्बा रखता हूं लेकिन झूठे आतंक के नाम पर किसी बेकसूर की जिंदगी बर्बाद करने को कभी भी उचित नहीं ठहरा सकता। शाही इमाम ने कहा कि समाचार पत्र लोकतंत्र का मजबूत स्तंभ है और हम उम्मीद करते है कि आने वाले समय में दोबारा ऐसी कोई खबर जिसका कोई आधार ना हो प्रकाशित नहीं होगी।

इस मौके पर पंजाब कांग्रेस व्यापार सैल के चेयरमैन जतिंदर पाल सिंह व उपचेयरमैन चेतन पुरी ने संयुक्त ब्यान देते हुए कहा कि कश्मीरी व्यापारी हमारे भाई है उनका मान-सम्मान घटने नहीं दिया जाएगा। चेयरमैन ने कहा कि आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता हम सब को मिलकर आतंकवाद के खिलाफ लडऩा है। इसी बीच कश्मीरी व्यापारियों के नेता हाजी अब्दुल समद व हबीबउल्लाह ने कहा कि झूठे आरोपो में हमारे सभी कश्मीरी व्यापारियों को भयभीत कर दिया है। अगर यह सिलसिला आगे भी चलता रहा तो हमें अपना व्यापार समेट कहीं ओर जाना पड़ेगा।

– रीना अरोड़ा