लुधियाना- बठिण्डा  : 19 सितंबर को पंजाब में होने जा रहे जिला परिषद और पंचायती चुनावों के लिए बठिण्डा के गिल कलां गांव से आम आदमी पार्टी के जिला परिषद उम्मीदवार हरिंद्र हिंदा का कत्ल उसी की बीवी किरनपाल कोर ने अपने प्रेमी और उसके साथियों के साथ मिलकर नामांकन छटनी के एक दिन पहले रिहायशी स्थल गांव जेठु के में किया था।

बाकायदा इस कत्ल से पहले हरिंद्र हिंदा को नशे की गोलियां दी गई थी। जिसके बाद उसका हाकी के साथ कत्ल कर दिया गया। कातिल बीवी और उसके पे्रमी के साथी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जबकि उसका प्रेमी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है। इसका खुलासा आज बठिण्डा में विशेष प्रैस वार्तालाप के दौरान आई.जी एम एफ फारूखी ने किया। हालांकि इस कत्ल के बाद आम आदमी पार्टी के नेताओं ने इसे सियासी रंजिश के तहत कत्ल कहकर काफी बवाल मचाया था।

21 सिंतबर को मनाया जाएगा यौम-ए-आशूरा : शाही इमाम

स्मरण रहे कि 9 सितंबर की रात को जिला परिषद चुनाव के प्रत्याशी हरिंदर सिंह हिंदा का घर में ही कत्ल कर दिया गया था। उसकी पत्नी ने पुलिस का बयान दिए थे कि शाम को तीन लोग हरिंदर के घर पर आए थे। वे सभी देर रात तक शराब पीते रहे। वह बेटे को साथ लेकर ऊपर की मंजिल में जाकर सो गई। सुबह जब चाय देने के लिए कमरे में आई तो कमरे में खून से लथपथ हिंदा का शव पड़ा था। हरिंदर सिंह हिंदा आम पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ रहे होने के चलते काफी गंभीर बन गया। आम आदमी पार्टी के नेता इसको सियासी कत्ल मान रहे थे।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान किरनपाल कौर, जैमल सिंह, चमकौर सिंह, मक्खन सिंह के तौर पर हुई है। जबकि आरोपी महिला का प्रेमी संदीप कुमार पुलिस की गिरफत से बाहर है। जिस की गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयास कर रही है।

वीरवार को प्रेस वार्ता के दौरान आईजी फारूकी ने बताया कि नौ और दस सितंबर की मध्य रात्रि को गांव जेठूका में जिला परिषद गिल कलां जोन के उमीदवार हरविंदर सिंह हिंदा की हत्या कर दी गई थी। जिस के बाद पुलिस ने तेजी के साथ जांच शुरू कर दी।जांच में सामने आया कि आप उमीदवार हिंदा की पत्नी के मानसा के संदीप कुमार के साथ पिछले लंबे समय से अबैध संबंध थे।जिस के चलते किरनपाल अपने प्रेमी संदीप के साथ शादी करना चाहती थी और हिंदा उसके रास्ते में रूकावट बन रहा था।

आईजी ने बताया कि हिंदा को अपने रास्ते से हटाने के लिए किरनपाल ने अपने प्रेमी संदीप कुमार के साथ योजना बनाई और उसी योजना के तहत दोनों एक तांत्रिक मक्खन राम को अपने साथ लिया।जिस ने आगे दो लोगों चमकौर सिंह और जैमल सिंह को हिंदा की हत्या करने के लिए साथ देने के लिए पचास पचास हजार रूपए देने का लालच दिया।

आईजी ने बताया कि आरोपियों ने बनाई योजना के तहत 9 सितंबर हिंदा की पत्नी ने पहले हिंदा को नशीली गोलियां खिलाकर बेहोश कर दिया और बाद में अपने प्रेमी और तात्रिक के अलावा दो अन्य साथियों के साथ मिलकर तकिए से हिंदा की मूंह बंद कर दिया और बाद में उसके सिर पर किसी तेजधार हथियार से हमला कर उसकी हत्या कर दी थी।

हत्या करने के बाद हिंदा की पत्नी अपने बेटे के साथ उपर लेट गई और बाकी आरोपी फरार हो गए थे।आईजी ने बताया कि आरोपी महिला किरनपाल ने पुलिस को गुमराह करने के लिए प्रयास किया था।लेकिन पुलिस ने अपने तरीके से जांच कर उक्त मामलें का खुलासा कर दिया।आईजी ने बताया कि पांचों आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है और फरार आरोपी संदीप की गिरफतारी के लिए पुलिस की ओर से छापामरी की जा रही है।