BREAKING NEWS

UP के इटावा में भीषण सड़क हादसा, श्रद्धालुओं से भरी गाड़ी पलटी, 11 लोगों की मौत◾जावड़ेकर बोले- महाराष्ट्र को टीके की 1.10 करोड़ खुराकें मिल चुकी, 1121 वेंटिलेटर दिए जाएंगे ◾चुनाव में हार सुनिश्चित देख हिंसा के पुराने खेल पर उतर आई हैं ममता: PM मोदी ◾MP: कोरोना के बढ़ते केसों के चलते कई शहरों में लॉकडाउन, कुछ जगहों पर बढ़ाई गई अवधि ◾कर्नाटक में कोरोना का कहर : बेंगलुरु सहित कर्नाटक के 7 जिलों में आज से नाइट कर्फ्यू लागू ◾राहुल गांधी ने देश में कोविड की दूसरी लहर पर गहरी चिंता व्यक्त की◾देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों में से 72 % से अधिक महज पांच राज्यों में : स्वास्थ्य मंत्रालय◾कूचबिहार हिंसा मामले में ममता ने केंद्रीय गृह मंत्री का मांगा इस्तीफा, कहा- लोगों की मौत के पीछे अमित शाह ◾CISF की गोलीबारी में चार लोगों की मौत के बाद EC ने सीतलकूची के मतदान केंद्र पर बंद कराई वोटिंग◾कूचबिहार हिंसा के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करे EC, ‘दीदी’ और उनके गुंडों में हार की है बौखलाहट : PM मोदी◾सोनिया का आरोप- कोरोना महामारी में मोदी सरकार ने किया कुप्रबंधन, टीके की देश में होने दी कमी ◾दिल्ली में नहीं होगा लॉकडाउन, जल्द लगाए जाएंगे नए प्रतिबंध : CM केजरीवाल◾बंगाल चुनाव में स्थानीय लोगों के हमले के बाद केंद्रीय बलों ने की फायरिंग, चार लोगों की मौत◾मोदी हैं सर्वश्रेष्ठ, लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए TMC से जुड़े प्रशांत किशोर : लॉकेट चटर्जी◾विफल नीतियों के चलते दोबारा पलायन को मजबूर हैं प्रवासी, सरकार को अच्छे सुझावों से ‘एलर्जी’ : राहुल गांधी ◾वायरल हुई प्रशांत किशोर की ऑडियो, अमित मालवीय बोले- TMC ने भी माना बंगाल में है मोदी लहर ◾हुगली में BJP नेता लॉकेट चटर्जी के काफिले पर हमला, मीडिया वाहनों में हुई तोड़फोड़◾पश्चिम बंगाल : चौथे चरण में अब तक 16.65 फीसदी मतदान, 44 सीटों पर तेजी से चल रही है वोटिंग ◾किसानों ने केएमपी एक्सप्रेस वे को किया बंद, ट्रॉली और चारपाई लेकर हाइवे पर बैठे प्रदर्शनकारी ◾भारत में कोरोना से हाहाकार, पिछले 24 घंटे में 1 लाख 45 हज़ार से ज्यादा केस, 794 मरीजों की मौत ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कृषि कानून : जयपुर में किसान आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस विधायकों का धरना शुरु

केंद्र सरकार द्वारा लाये गए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन के समर्थन में राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल का आज दोपहर यहां एक दिवसीय धरना शुरु हुआ। धरने में भाग लेने पहुंचे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने मीडिया से कहा कि आज धरने का कार्यक्रम यह संदेश देने के लिए किया गया हैं कि कांग्रेस किसानों के साथ हैं और मजबूती के साथ हैं। 

धरना दोपहर बारह बजे शुरु हुआ जिसमें कई मंत्री, पार्टी विधायकों के आने का सिलसिला शुरु हुआ और उनका आना जारी हैं। धरने में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी शामिल होंगे। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि किसान आंदोलन के तहत लाखों लोग सड़कों पर हैं। राजस्थान में भी करीब एक लाख लोग आंदोलन के समर्थन में सड़क पर डटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि किसानों का कहना हैं कि उन्होंने केन्द, सरकार जितनी गूंगी एवं बहरी सरकार आज तक नहीं देखी जो किसानों को कोई बात नहीं सुन रही हैं। 

डोटासरा ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह उद्योगपतियों के साथ मिलकर साजिश करके गोदाम बनवा रही हैं। उन्होंने कहा कि ये गोदाम किस नियम के तहत बनाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों की बात इसलिए नहीं मानी जा रही हैं कि अगर किसानों की बात मान ली गई तो उनके उद्योगपति मित्रों का क्या होगा जिन्होंने करोड़ रुपए इनमें लगा दिया और चंदा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के बाद पांच से ज्ञारह जनवरी को विधायक एवं कांग्रेस के पदाधिकारी गांव गांव लोगों के बीच जाकर उन्हें जागृत करेंगे। 

इससे पहले सरकारी मुख्य सचेतक डा महेश जोशी ने कहा कि केंद्र सरकार के किसान विरोधी लिये गये निर्णय के कारण आज किसान आंदोलनरत हैं और वे आत्महत्या करने को मजबूर हैं। शनिवार को भी एक किसानने आत्महत्या कर ली। डा जोशी नेकहा कि दुख की बात हैं कि केन्द, की असंवेदनशील सरकार किसानों को कोई राहत नहीं दे रही हैं जबकि उन्हें बड़ उद्योगपतियों को बेचे जाने की कोशिश कर रही हैं। 

सरकारी उपसचेतक महेन्द, चौधरी ने कहा कि केंद्र सरकार ने नये कृषि कानूनों को वापस नहीं लिये गये तो आज धरना देने के बाद पांच से ज्ञारह जनवरी तक सभी विधायक अपने अपने क्षेत्रों में जाकर किसानों के समर्थन में लोगों को जागृत करेंगे। उन्होंने कहा कि जब तक यह नये कृषि कानून वापस नहीं लिये जायेंगे तब तक आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी केंद्र सरकार को भूमि अधिगृहण कानून वापस लेना पड़गा और अब उसे ये तीनों कानून वापस लेने पड़गे। धरने में निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ भी पहुंचे। इस अवसर पर लोढ़ ने कहा कि जिस तरह किसान अपने हक के लिए आंदोलन कर रहे हैं, ऐसी स्थिति में देश का कोई भी नागरिक घर में बैठा नहीं रहेगा। 

धरना अपराह्न चार बजे तक चलेगा।