BREAKING NEWS

डॉक्टरों की सुरक्षा की मांग वाली याचिका पर सुनवाई कल : सुप्रीम कोर्ट ◾17वीं लोकसभा का पहला सत्र प्रारंभ, PM मोदी सहित नवनिर्वाचित सांसदों ने ली शपथ ◾संसदीय लोकतंत्र में सक्रिय विपक्ष महत्वपूर्ण, संख्या को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं : PM मोदी ◾डॉक्टरों की देशभर में प्रदर्शन, आज फिर हड़ताल पर रहेंगे एम्स के डॉक्टर◾वर्ल्ड कप में भारत की पाकिस्तान पर सबसे बड़ी जीत, लगा बधाईयों का तांता, अमित शाह ने बताया एक और स्ट्राइक ◾IMA की हड़ताल में शामिल होंगे दिल्ली के अस्पताल, AIIMS ने किया किनारा ◾ममता आज सचिवालय में जूनियर डॉक्टरों से करेंगी बैठक◾विश्व कप 2019 Ind vs Pak : भारत ने पाकिस्तान को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 89 रन से रौंदा◾IMA के आह्वान पर सोमवार को दिल्ली के कई अस्पतालों में नहीं होगा काम ◾सभी वर्गों को भरोसे में लेकर करेंगे सबका विकास : PM मोदी◾PM मोदी ने आतंकवाद के खिलाफ कूटनीतिक और रणनीतिक रिवायत को बदला : जितेन्द्र सिंह◾प्रणव मुखर्जी से मिले नीतीश कुमार◾बिहार में AES की रोकथाम और इलाज के लिए हरसंभाव सहायता देगा केंद्र : हर्षवर्द्धन◾कश्मीरी अलगाववादी नेताओं को विदेशों से मिला धन, निजी फायदे के लिए उसका किया इस्तेमाल : NIA◾Top 20 News - 16 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾एक राष्ट्र, एक चुनाव पर बात करने के लिए PM मोदी ने सभी दलों के प्रमुखों को किया आमंत्रित◾प्रदर्शनकारी डॉक्टरों ने कहा, CM जगह तय करें लेकिन बैठक खुले में होनी चाहिए ◾बिहार : मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से मरने वाले बच्चों का आंकड़ा पहुंचा 93 ◾नए चेहरों के साथ संसद में आए नई सोच, तभी बनेगा नया भारत : PM मोदी◾धर्मयात्रा नहीं राजनीति करने आए है उद्धव ठाकरे : इकबाल अंसारी◾

राजस्‍थान

भाजपा का 'अली-बजरगबली' विमर्श काम नहीं करेगा, देश में 23 मई को बनेगी संप्रग सरकार : सचिन पायलट

राजस्थान के उप मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा कि देश में चारों तरफ ‘बदलाव की लहर’ है। ऐसे में भावनात्मक मुद्दे उठाकर मतदाताओं का ‘ध्रुवीकरण’ करने की भाजपा की ‘हताश’ कोशिश से उसे कोई लाभ नहीं मिलेगा। देश में 23 मई को संप्रग सरकार बनेगी।

राजस्थान में प्रदेश अध्यक्ष के रूप में कांग्रेस के चुनाव प्रचार का नेतृत्व कर रहे सचिन पायलट ने कहा कि भाजपा का 'मंदिर-मस्जिद', 'अली-बजरंगबली', या फिर राष्ट्रवाद को दोबारा परिभाषित करना लोगों की सोच से मेल नहीं खाता है क्योंकि यह यह चुनाव विकास और उनके अधूरे वादों के बारे में है।

उन्होंने बताया कि 2014 का ‘मोदी फैक्टर’ इस चुनाव में काम नहीं करने जा रहा है क्योंकि जनता पिछले पांच वर्षों की ‘अक्षमताओं’ को नजरअंदाज नहीं करेगी। उन्होने कहा कि हिंदी भाषी क्षेत्र में उनकी पार्टी का प्रदर्शन ‘शानदार’ होने जा रहा है क्योंकि भाजपा पूरी तरह से वहां ‘बेनकाब’ हो चुकी है।

pm modi

पायलट ने कहा, "भीड़ द्वारा पीट-पीट कर की गई हत्या (मॉब लिंचिंग) और गोरक्षक जैसे शब्द पांच साल पहले तक हमारी बोल-चाल का हिस्सा नहीं थे। ऐसी ताकतें हैं जो इस तरह के तत्वों को अपना समर्थन दे रही हैं। जिस तरह की हिंसा, कड़ुवाहट और जहर हमारे समाज ने पिछले पांच साल में देखा है, वह स्वीकार करने योग्य नहीं है।"

सचिन पायलट ने की मोदी की राजीव गांधी पर टिप्पणी की निंदा

पायलट ने आरोप लगाया कि भाजपा लोगों को अपना रिपोर्ट कार्ड देने के बदले विफलताओं से निकलने के लिए कुछ भी करने की कोशिश कर रही है और मतदाताओं का ध्रुवीकरण करने के लिए भावनात्मक मुद्दे उठा रही है। अकेली बडी़ पार्टी के रूप में उभरने की कांग्रेस की संभावना पर 41 वर्षीय नेता ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि 23 मई को जब लोकसभा चुनाव का परिणाम आएगा तो देश में संप्रग सरकार बनेगी और नया प्रधानमंत्री बनेगा। उन्होंने कहा कि नई सरकार का नेतृत्व कौन करेगा, इसका फैसला सभी पार्टियां बैठकर करेंगी।

सचिन पायलट ने कहा कि कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी निश्चित रूप से अग्रिम मोर्चा संभाल रहे हैं और भाजपा पर कई मुद्दों को लेकर हमला बोल रहे हैं। उन्होंने कहा, "अखिल भारतीय स्तर पर कांग्रेस एक मात्र ऐसी पार्टी है जो भाजपा को चुनौती दे सकती है और हरा सकती है। इसमें कोई शक नहीं है कि सभी क्षेत्रीय पार्टियां महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगी और सभी का साझा उद्देश्य राजग को सत्ता से बाहर करने का है। इसलिए मैं मानता हूं कि कांग्रेस केंद्रीय भूमिका में होगी।"

congress

मोदी सरकार के पक्ष में खामोश लहर को लेकर केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के बयान पर उन्होंने कहा कि 2019 दरअसल 2014 से अलग है क्योंकि लोग उस समय भाजपा को एक मौका देने के लिए तैयार थे क्योंकि वह लंबे चौड़े वादे कर रही थी जिसका सत्यापन अभी तक हुआ नहीं था।

सचिन पायलट ने कहा कि केंद्र में बहुमत में होने और ज्यादातर राज्यों में भी सरकार होने के बाद भाजपा ने अपने एक भी वादे पूरे नहीं किए, चाहे ये वादे कालाधन, शिक्षा, किसान आय दुगुना करने या फिर भ्रष्टचार और नक्सलवाद को समाप्त करने का हो। उन्होंने कहा, "देश भर में परिवर्तन की लहर है और कुछ राज्यों में भाजपा अपना खाता भी नहीं खोलेगी। जिन राज्यों में उसकी सर्वाधिक सीटें हैं, वह वहां ज्यादातर सीटें खोने जा रही है। कहीं ऐसा इलाका नहीं है जहां वह इसकी भरपाई कर सकती है।"

मोदी झूठ बोलने में माहिर, असल मुद्दों पर कोई बात नहीं करते : गहलोत

पायलट ने चुनाव प्रचार में भाजपा द्वारा लगातार पाकिस्तान का मुद्दा उठाने की भी आलोचना की। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी ने प्रधानमंत्री के रूप में पाकिस्तान के दो टुकड़े कर दिये और उनके 90,000 सैनिकों को युद्धबंदी के रूप में पकड़ लिया था।

सचिन पायलट ने कहा, "मनमोहन सिंह 10 साल तक प्रधानमंत्री रहे और पाकिस्तान के हिस्से में जन्म लेने के बाद भी वह वहां कभी नहीं गए क्योंकि उन्होंने कहा था कि आतंकवाद और दोस्ती साथ-साथ नहीं चल सकता है। यह उनकी नीति रही। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिना घोषणा किए पाकिस्तान गए और जब चुनाव आया है तब वह पाकिस्तान के बारे में बात कर रहे हैं।"