BREAKING NEWS

किसान आंदोलन के प्रति समर्थन जुटाने के लिए राकेश टिकैत इन 5 राज्यों का करेंगे दौरा ◾वाराणसी के 2 दिवसीय दौरे पर जेपी नड्डा, मंदिरों में दर्शन-पूजन और सांसद-विधायकों संग करेंगे बैठक◾आज का राशिफल (28 फरवरी 2021)◾गुजरात में स्थानीय निकाय चुनाव रविवार को, 3.04 करोड़ मतदाता मताधिकार का करेंगे इस्तेमाल◾कांग्रेस कमजोर हो रही है, मजबूत करने के लिए एक साथ आये : असंतुष्ट नेताओं ने कहा ◾राज्यसभा से रिटायर हुआ हूं, राजनीति से नहीं, जम्मू-कश्मीर राज्य के लिए लड़ाई जारी रखूंगा : आजाद ◾पश्चिम बंगाल ओपिनियन पोल : टीएमसी को 156, भाजपा को 100 सीटें मिलने का अनुमान◾भाजपा बंगाल में जीती तो अगली बार एक चरण में सुनिश्चित करेंगे विधानसभा चुनाव: दिलीप घोष◾भाजपा बंगाल में जीती तो अगली बार एक चरण में सुनिश्चित करेंगे विधानसभा चुनाव: दिलीप घोष◾निजी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीन की 1 डोज की कीमत होगी 250 रुपये, सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त ◾लंबे समय बाद कांग्रेस में एकजुट नजर आई, एक हेलीकॉप्टर में सवार हुए गहलोत- पायलट ◾PM इमरान खान ने सीजफायर समझौते का किया स्वागत, कहा- “अनुकूल वातावरण” बनाने की जिम्मेदारी भारत की◾आजाद की सभा में जुटे 'G23' के नेता, कपिल सिब्बल बोले- सच्चाई है कि कांग्रेस कमजोर हो रही है◾तमिलनाडु चुनाव : भाजपा-अन्नाद्रमुक में सीट बंटवारे पर बातचीत शुरू, CM पलानीस्वामी से किशन रेड्डी ने की मुलाकात ◾सीमा पर सीजफायर है पर जम्मू कश्मीर में आतंकवाद के खात्मे के अभियान जारी रहेंगे : भारतीय सेना ◾चीन जानता है कि प्रधानमंत्री ‘डरे हुए हैं', जमीन वापस नहीं ले पाएंगे और समझौता करेंगे : राहुल गांधी ◾बंगाल चुनाव पर बोले प्रशांत किशोर, '2 मई को मेरा पिछला ट्वीट निकाल लेना'◾ गाजीपुर बॉर्डर : गर्मी बढ़ते ही बेहद कम हुई आंदोलनकारी किसानों की संख्या, भाकियू ने दिया ये बयान ◾रविदास जयंती के मौके पर प्रियंका गांधी पहुंची काशी, पैदल चल जन्मस्थान मंदिर में मत्था टेका◾बंगाल में बुआ VS बेटी की जंग, 'नवरत्नों' के सहारे BJP का ममता दीदी पर तंज◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध की जीत के जश्न में 11 घंटे के अंदर 180 किलोमीटर दौड़े BSF जवान

भारत-पाकिस्तान 1971 युद्ध के विजय होने के बाद बीएसएफ द्वारा पहली दफा विजय दिवस मनाने के उपलक्ष्य पर यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसके तहत बीएसएफ के जवान बॉर्डर पर तारबंदी के साथ-साथ कच्ची पक्की सड़कों तथा रेत के टीलों के पास दौड़ कर पार करते हुए 180 किलोमीटर का रास्ता मात्र 11 घंटों में तय कर अनूपगढ़ की कैलाश पोस्ट पर पहुंचे।

इस दौड़ में अधिक से अधिक जवानों की भागीदारी हो इसके लिए हर जवान अपनी पूरी ताकत के साथ लगभग 400 से 500 मीटर दौड़ा। इस दौरान कई जवान पेट्रोलिंग भी करते दिखे, कई जवान बैटन को हाथ में लेकर दौडने को लालयित नजर आए। बैटन रिले रेस में करीब 8 सौ पुरुष एवं महिला जवानों ने हिस्सा लिया। जिसमें बीएसएफ के सामान्य जवान से लेकर कमांडेंट तक सभी ने बारी-बारी से बैटन टॉर्च को हाथ में लेकर दौड़ लगाई।

Source : DD News

डीआईजी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ ने बताया कि बॉर्डर की कावेरी पोस्ट (खाजूवाला) से अनूपगढ़ के बीच पूरे रास्ते गहरा कोहरा छाया रहा। इस बीच जवान अपनी नियमित वर्दी में दौड़े। हर कोई हाथ आगे बढ़ाकर बैटन टॉर्च को अपने हाथ में लेने को उत्साहित था। कोहरा इतना ज्यादा था कि 100 मीटर तक कोई नजर नहीं आ रहा था।  

बता दें कि 1971 के युद्ध में पाकिस्तान पर भारत की जीत और बांग्लादेश को आजादी मिलने के बाद से हर साल 16 दिसंबर को भारत में विजय दिवस के तौर पर मनाया जाता है। 3 दिसंबर से शुरू हुए इस युद्ध में भारत ने पाकिस्तान की ऐसी हालत कर दी थी कि उस समय पाकिस्तानी सशस्त्र बल के तत्कालीन प्रमुख जनरल आमिर अब्दुल्लाह खान नियाज़ी ने अपने 93 हजार सैनिकों के साथ भारतीय सेना के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था।