BREAKING NEWS

केरल विमान हादसा : एअर इंडिया एक्सप्रेस का एलान- कोझिकोड तक तीन राहत उड़ानों का किया गया प्रबंध ◾LAC के पास सेना और वायुसेना को उच्च स्तर की सतर्कता बरतने के दिए गए निर्देश◾चीनी अतिक्रमण का उल्लेख करने वाली रिपोर्ट से धूमिल हुई रक्षा मंत्री की छवि : कांग्रेस ◾केरल विमान हादसा : कोझिकोड एयरपोर्ट पर रनवे पर विमान फिसलने से अब तक 18 लोगों की मौत◾कोझीकोड में हुए विमान हादसे पर PM मोदी ने ट्वीट कर जताया दुख, कहा- हादसे से व्यथ‍ित हूं◾केरल के कोझीकोड एयरपोर्ट पर रनवे से फिसला विमान, दो हिस्सों में टूटा, पायलट और को-पायलट समेत 17 लोगों की मौत◾महाराष्ट्र में कोरोना से 300 लोगों की मौत, 10483 नए मामले की पुष्टि◾सुशांत केस: रिया चक्रवर्ती की याचिका में पक्षकार बनने के लिये केन्द्र ने न्यायालय में दी अर्जी◾असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ अवमानना कार्यवाही को लेकर SC में याचिका दायर ◾दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 1,192 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.42 लाख के पार ◾केरल में भूस्खलन की घटना पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने जताया दुख, कांग्रेस कार्यकर्ताओं से राहत बचाव कार्य में मदद करने की अपील की◾सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबीयत बिगड़ी, लखनऊ मेदांता अस्पताल में भर्ती◾देश में 24 घंटे के भीतर कोरोना से 49 हजार 769 मरीज हुए ठीक, मृत्यु दर घटकर 2.05 % हुई : स्वास्थ्य मंत्रालय◾यूपी में 24 घंटे में कोरोना से 63 लोगो की मौत, 4404 नए मामले◾मुझे नहीं, सुशांत मामले की जांच को किया गया था क्वारंटाइन : IPS विनय तिवारी◾शपथ ग्रहण के बाद बोले उपराज्यपाल सिन्हा-अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद मुख्यधारा में आया J&K◾CM केजरीवाल ने दिल्ली में इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी का किया ऐलान◾केरल में भारी बारिश के कारण बाढ़ जैसे हालात, इडुक्की में भूस्खलन से 5 लोगों की मौत ◾सुशांत सुसाइड केस : रिया चक्रवर्ती ED के सामने हुई पेश, एजेंसी ने मोहलत देने से किया इंकार◾नई शिक्षा नीति : PM मोदी- 'हाऊ टू थिंक' पर दिया जा रहा है बल, नए भारत की फाउंडेशन की एक कोशिश◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सीएम गहलोत का दावा - भाजपा के लोग षड्यंत्र रच रहे हैं लेकिन उनकी सरकार स्थिर है और पांच साल चलेगी

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को कहा कि भाजपा नेता राज्य में उनकी निर्वाचित सरकार को गिराने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन सरकार स्थिर है, स्थिर रहेगी और पांच साल चलेगी। गहलोत ने यह भी कहा कि भाजपा के स्थानीय नेता अपने केंद्रीय नेतृत्व के इशारे पर राजस्थान में सरकार को अस्थिर करने का षडयंत्र रच रहे हैं। 

गहलोत ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ने के लिए मैंने सबको साथ लेकर चलने की कोशिश की। परंतु भाजपा के नेताओं ने मानवता और इंसानियत की सारी हदें तोड़ दी हैं। एक तरफ तो हम जीवन और आजीविका बचाने में लगे हैं तो दूसरी ओर ये लोग सरकार गिराने में लगे हैं।’’ 

उन्होंने कहा,‘‘हम लोग जहां महामारी से लड़ाई पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं वहीं ये (भाजपा नेता) लोग सरकार कैसे गिरे, किस प्रकार से तोड़ फोड़ करें ... खरीद फरोख्त करें इन तमाम काम में लगे हैं।’’ गहलोत ने कहा,‘‘राजस्थान में सरकार स्थिर है, स्थिर रहेगी ...पांच साल चलेगी और अगला चुनाव जीतने की तैयारी में हम लग गए हैं।’’ गहलोत ने अपने संबोधन में भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ का नाम लिया। 

उन्होंने कहा, ‘‘सतीश पूनियां हो, राजेंद्र राठौड़ हों.. ये जिस तरह का खेल खेल रहे हैं राजस्थान में सरकार को गिराने के लिए अपने केंद्रीय नेताओं के इशारे पर ... ये तमाम बातें जनता के सामने आ चुकी हैं। जनता समझ चुकी है।’’ 

क्या वह इन तीनों को मुख्य किरदार मानते हैं यह पूछे जाने पर गहलोत ने कहा,‘‘ये तीन नाम तो मैंने इसलिए लिए क्योंकि तीन पदों पर बैठे हुए हैं इनके जो आका हैं दिल्ली में जिनकी में आलोचना हमेशा करता रहता हूं ... चाहे वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हो या गृहमंत्री अमित शाह हों। वो सहन (टॉलरेट) नहीं कर पा रहे मुझे व मेरी सरकार को। इसलिए उनका लक्ष्य पूरा करने में इन तीनों में प्रतिस्पर्धा है।’’ 

गहलोत ने कहा कि राजस्थान में भी मध्य प्रदेश जैसा माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा,‘‘बकरा मंडी में जिस ढंग से बकरे बिकते हैं उसी ढंग से खरीदारी करके आप राजनीति करना चाहते हैं। यह इनकी बेशर्मी की हद है।’’ प्रधानमंत्री और गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए गहलोत ने कहा,‘‘आज जो इनको घमंड है मोदी और अमित शाह को .. उसे देश की जनता समय आने पर चकनाचूर कर देगी।’’ 

गहलोत ने कहा,‘‘राजस्थान में सरकार स्थिर है, स्थिर रहेगी ...पांच साल चलेगी और अगले चुनाव जीतने की तैयारी में हम लग गए हैं। राजस्थान सरकार अगला चुनाव जीतने की तैयारी में लग गयी है। उसी ढंग से हमने बजट पेश किए हैं और उसी ढंग से हम शासन दे रहे हैं। उसी ढंग से हम संकट की इस घड़ी में काम कर रहे हैं।’’ 

मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘ कोरोना वायरस संकट के समय राजस्थान सरकार के प्रबंधन की पूरे मुल्क में सराहना हुई और यह हम सभी के लिए गर्व की बात है ... उस माहौल में सरकार को गिराने का प्रयत्न करना .... राजस्थान की जनता कभी माफ नहीं करेगी सबक सिखाएगी।’’ 

उल्लेखनीय है कि विधायकों को प्रलोभन देकर राज्य की निर्वाचित कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने के प्रयास के आरोप पर राजस्थान पुलिस के विशेष कार्यबल (एसओजी) ने शुक्रवार को ही एक प्राथमिकी दर्ज की थी। एसओजी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट और सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी को बयान देने के लिए बुलाया है। 

हॉर्स ट्रेडिंग मामले में एसओजी ने सीएम गहलोत और डिप्टी सीएम को बयान देने के लिए बुलाया