BREAKING NEWS

दिल्ली में मासूम बच्चे से दरिंदगी, दुष्कर्म के बाद प्राइवेट पार्ट में डाली रॉड ◾अरविंद केजरीवाल का गुजरात में बड़ा ऐलान, संविदा कर्मियों को नियमित करने का किया वादा◾जनता की सेवा नहीं करना चाहती... सिर्फ सत्ता का सुख भोगना चाहती है कांग्रेस : अनुराग ठाकुर◾हिमाचल प्रदेश : कुल्लू में खाई में गिरा ट्रैवलर, 7 लोगों की मौत, PM मोदी ने जताया दुख◾गहलोत गुट के विधायकों के तेवर से नाराज हुई सोनिया गांधी, सीएम के इन समर्थकों पर होगी कार्रवाई◾दिल्ली : कई दिनों से हो रही बारिश के चलते अब कुछ जगहों पर पड़ने लगा है कोहरा ◾देशभर में शारदीय नवरात्रों की धूम, वैष्णों देवी मंदिर में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़◾'आप किसी को बेवकूफ नहीं बना रहे हैं ...', अमेरिका पर भड़के विदेश मंत्री जयशंकर◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटो में कोरोना के 4,129 नए मामले दर्ज़, 20 लोगों की मौत ◾राजस्थान में सियासी हलचल तेज, गहलोत गुट के विधायकों ने पार्टी आलाकमान के सामने रखी तीन शर्त◾आज का राशिफल (26 सितंबर 2022)◾राजस्थानः 80 से ज्यादा विधायकों का इस्तीफा, गिर जाएगी गहलोत की सरकार? समझें पूरा गेमप्लान◾Election 2024: विपक्षी एकता की राह में कांग्रेस बनेगी रोड़ा? KCR और ममता बनर्जी का नहीं मिल रहा साथ◾Ind Vs Aus 3rd T20 Match: कोहली-हार्दिक ने किया कमाल, ऑस्ट्रेलिया को रौंदकर भारत ने 2-1 से जीती सीरीज◾अध्यक्ष बनने से पहले गहलोत ने गांधी परिवार को दिखायी ताक़त, दिल्ली से आया फोन, बोले- कुछ नहीं है बसकी बात ◾बांग्लादेश में हिंदू श्रद्धालुओं को मंदिर ले जा रही नौका पलटी, 24 की मौत ◾अंकिता हत्याकांडः सीएम धामी के आश्वासन के बाद NIT घाट पर हुआ अंकिता भंडारी का अंतिम संस्कार ◾HP News: सोमवार को हिमाचल प्रदेश का दौरा करेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ◾गैंगवार से दहल जाती राजधानी, समय रहते पुलिस ने योजना बनाने के आरोप में चार को किया गिरफ्तार ◾Narendra Modi: मोदी का ट्वीट- इजराइलियों को पीएम ने यहूदी नववर्ष की शुभकामनाएं दी ◾

आतंकियों को ढेर करने वाले कमांडो का गांव वालों ने किया जोरदार स्वागत

कमांडो मुबारिक अली का आज राजस्थान के झुंझुनूं जिले में उसके पैतृक गांव में लोगों ने जोरदार स्वागत किया। आपको बता दे कि कमांडो मुबारिक अली ने जम्मू & कश्मीर में सीने पर गोली लगने के बावजूद 3 आंतकवादियों को ढेर किया था ।

इन दिनों मेडिकल रेस्ट पर चल रहे मुबारिक अली ने बताया कि 30 जुलाई को सुबह सात बजे उनकी टीम पुलवामा के दहाब क्षेत्र में सर्च अभियान पर थी और नदी के किनारे गांव में एक घर के पास हलचल हुई। वे कुछ समझ पाते इतने में ही सामने से कुछ लोग फायर करते हुए भागने लगे।

मुबारिक ने उन पर फायर किया। इस दौरान आतंकियों की गोली मुबारिक के दाहिने हाथ से निकल कर पार हो गई। एक गोली उनके सीने पर लगी।

उन्होंने बताया कि बुलेट प्रूफ जैकेट पहनी होने के कारण गोली सीने के पार नहीं हो सकी। घायल होने के बावजूद मुबारिक ने एक हाथ से फायर करते हुए तीन आतंकियों को मार गिराया। पीछे चल रहे साथी जवानों ने इसकी सूचना यूनिट को दी। सेना के हेलीकॉप्टर से कमांडो मुबारिक को श्रीनगर के अस्पताल लाया गया।

माता हाजन आमीना बानो एवं पत्नी शहनाज बानो तथा देश के लोगों की दुआओं की बदौलत कमांडो मुबारिक अली ठीक हो गए। कमांडो के दो भाई सूबेदार सुभान अली दफेदार मोहम्मद रफीक भी सेना में हैं। कमांडो मुबारिक के पिता हाकिम अली किसान है।

कमांडो मुबारिक अली का विधायक नरेंद कुमार खीचड़ ने सम्मान किया। इस अदम्य साहस पर गांव के कायमखानी समाज ने मुबारिक खान की जांबाजी पर गर्व महसूस किया है। कमांडो मुबारिक अली 1997 में सेना की 16 ग्रेनेडियर में भर्ती हुए थे। बाद में 55 राष्ट्रीय राइफल्स में शामिल मुबारिक अली ने करगिल युद्ध में भी भाग लिया था। वे बताते हैं कि उनकी यूनिट करगिल के द्रास सेक्टर में तैनात थी।