BREAKING NEWS

झारखंड के चुनाव परिणाम बिहार राजग पर डालेंगे असर! ◾ खट्टर ने स्थानीय युवाओं को नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक न लाने के संकेत दिए ◾सबरीमला में श्रद्धालुओं की जबरदस्त भीड़, 2 महिलायें वापस भेजी गयी ◾जेएनयू छात्रसंघ पदाधिकारियों का दावा, एचआरडी मंत्रालय के अधिकारी ने दिया समिति से मुलाकात का आश्वासन ◾प्रियंका गांधी ने इलेक्टोरल बांड को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾TOP 20 NEWS 18 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद पवार बोले- किसी के साथ सरकार बनाने पर चर्चा नहीं◾INX मीडिया धनशोधन मामला : चिदंबरम ने जमानत याचिका खारिज करने के आदेश को न्यायालय में दी चुनौती ◾मनमोहन सिंह ने कहा- राज्य की सीमाओं के पुनर्निधार्रण में राज्यसभा की अधिक भूमिका होनी चाहिए◾'खराब पानी' को लेकर पासवान का केजरीवाल पर पटलवार, कहा- सरकार इस मुद्दे पर राजनीति नहीं करना चाहती◾संसद का शीतकालीन सत्र : राज्यसभा के 250वें सत्र पर PM मोदी का संबोधन, कहा-इसमें शामिल होना मेरा सौभाग्य◾बीजेपी बताए कि उसे चुनावी बॉन्ड के जरिए कितने हजार करोड़ रुपये का चंदा मिला : कांग्रेस ◾CM केजरीवाल बोले- प्रदूषण का स्तर कम हुआ, अब Odd-Even योजना की कोई आवश्यकता नहीं है ◾महाराष्ट्र: शिवसेना संग गठबंधन पर शरद पवार का यू-टर्न, दिया ये बयान◾ JNU स्टूडेंट्स का संसद तक मार्च शुरू, छात्रों ने तोड़ा बैरिकेड, पुलिस की 10 कंपनियां तैनात◾शीतकालीन सत्र: NDA से अलग होते ही शिवसेना ने दिखाए तेवर, संसद में किसानों के मुद्दे पर किया प्रदर्शन◾शीतकालीन सत्र: चिदंबरम ने कांग्रेस से कहा- मोदी सरकार को अर्थव्यवस्था पर करें बेनकाब◾ PM मोदी ने शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले सभी दलों से सहयोग की उम्मीद जताई ◾संजय राउत ने ट्वीट कर BJP पर साधा निशाना, कहा- '...उसको अपने खुदा होने पर इतना यकीं था'◾देश के 47वें CJI बने जस्टिस बोबडे, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिलाई शपथ◾

राजस्‍थान

माउंट आबू में 15 अगस्त से प्लास्टिक के प्रयोग पर लगेगा पूर्ण प्रतिबंध

सिरोही जिला प्रशासन और वन विभाग ने पर्यावरण और जंगली जानवरों की सुरक्षा के लिये 15 अगस्त से प्लास्टिक के प्रयोग को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित करने का निर्णय लिया है। जिला प्रशासन के अधिकारियों और वन विभाग के अधिकारियों की मंगलवार को हुई एक बैठक में प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया गया। 

माउंट आबू के उपखंड अधिकारी डा.रविन्द्र गोस्वामी ने बताया कि पेड़ पौधों और जानवरों के हितों को ध्यान में रखते हुए हमने माउंट आबू को प्लास्टिक मुक्त करने का निर्णय लिया है। प्लास्टिक पारितंत्र (इकोलॉजी) को नुकसान पहुंचा है और इसे ध्यान में रखते हुए 15 अगस्त से प्लास्टिक को पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया गया है। 

प्रतिबंध के दौरान प्लास्टिक कैरी बैग, बाक्स, पॉउच (तरल पदार्थो के लिये), थर्माकोल कप, थर्माकोल की प्लेट्स, डिस्पोजेबल प्लास्टिक की वस्तुओं का प्रयोग प्रतिबंधित होगा। इसी तरह से बंद पानी की बोतल भी प्रतिबंधित होगी। कम खर्चे में सुरक्षित पीने का पानी उपलब्ध कराने के लिये माउंट आबू के विभिन्न स्थानों पर स्वचालित पीने के पानी निकालने की मशीन स्थापित की जाएगी।

उन्होंने बताया कि प्लास्टिक के प्रयोग की जांच के लिये एक दल गठित किया जायेगा और प्लास्टिक पर प्रतिबंध संबंधी निर्देशों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। बैठक में माउंट आबू के उपखंड अधिकारी डा. रविन्द्र गोस्वामी , वन विभाग उपवन संरक्षक बालाजी कारी, होटल एसोसिएशन के प्रतिनिधि, मार्केट एसोसिएशन और स्थानीय जन प्रतिनिधियों ने भी भाग लिया। 

माउंट आबू एक वन्यजीव अभयारण्य है और यह पर्यावरण संवेदनशील क्षेत्र की श्रेणी में आता है। माउंट आबू लाखों पर्यटकों का एक पसंदीदा स्थान है। यहां विभिन्न भागों से लाखों पर्यटक प्रतिवर्ष आते हैं। यह अरावली पर्वत श्रृंखला पर 1220 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है।