BREAKING NEWS

आज सोनभद्र जाएंगे CM योगी, पीड़ित परिवार से करेंगे मुलाकात ◾LIVE : निगमबोध घाट पर होगा शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार, श्रद्धांजलि देने पहुंची सुषमा स्वराज◾शीला दीक्षित की पहले भी हो चुकी थी कई सर्जरी◾BJP को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का निधन◾पार्टी की समर्पित कार्यकर्ता और कर्तव्यनिष्ठ प्रशासक थीं शीला दीक्षित : रणदीप सुरजेवाला ◾सोनभद्र घटना : ममता ने भाजपा पर साधा निशाना ◾मोदी-शी की अनौपचारिक शिखर बैठक से पहले अगले महीने चीन का दौरा करेंगे जयशंकर ◾दीक्षित के बाद दिल्ली कांग्रेस के सामने नया नेता तलाशने की चुनौती ◾अन्य राजनेताओं से हटकर था शीला दीक्षित का व्यक्तित्व ◾जम्मू कश्मीर मुद्दे के अंतिम समाधान तक बना रहेगा अनुच्छेद 370 : फारुक अब्दुल्ला ◾दिल्ली की सूरत बदलने वाली शिल्पकार थीं शीला ◾शीला दीक्षित के आवास पहुंचे PM मोदी, उनके निधन पर जताया शोक ◾शीला दीक्षित कांग्रेस की प्रिय बेटी थीं : राहुल गांधी ◾जीवनी : पंजाब में जन्मी, दिल्ली से पढाई कर यूपी की बहू बनी शीला, फिर बनी दिल्ली की मुख्यमंत्री◾शीला दीक्षित ने दिल्ली एवं देश के विकास में दिया योगदान : प्रियंका◾शीला दीक्षित के निधन पर दिल्ली में 2 दिन का राजकीय शोक◾Top 20 News 20 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शीला दीक्षित के निधन पर जताया दुख ◾दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का निधन, PM मोदी सहित कई नेताओं ने जताया दुख◾दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का 81 साल की उम्र में निधन◾

राजस्‍थान

अफवाहों पर ध्यान ना दें, आपसी सौहार्द्र बनाए रखें : गहलोत

शास्त्रीनगर में एक बच्ची से दुष्कर्म की घटना के बाद जयपुर के कुछ हिस्सों में तनाव की घटनाओं के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बृहस्पतिवार को जनता से शांति बनाए रखने की अपील की और कहा कि वे अफवाहों पर ध्यान नहीं दें। 

मुख्यमंत्री गहलोत दोपहर दिल्ली से यहां पहुंचे और हवाई अड्डे पर ही राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ शास्त्रीनगर दुष्कर्म प्रकरण के संदर्भ में चर्चा की। 

बयान के अनुसार गहलोत ने इस प्रकरण की पीड़िता के स्वास्थ्य की जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि पीड़िता को बेहतर उपचार उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करें। 

मुख्यमंत्री ने नागरिकों से शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि लोग अफवाहों पर ध्यान ना दें और आपसी सौहार्द्र व सद्भाव बनाए रखें। 

इसके साथ ही उन्होंने अधिकारियों को कानून-व्यवस्था में कोई कोताही नहीं बरतने के निर्देश देते हुए कहा कि माहौल खराब करने वाले असामाजिक तत्वों के साथ सख्ती से निपटें और ऐसे लोगों के खिलाफ तुरंत कड़ी कार्रवाई करें। 

बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव, गृह, राजीव स्वरूप, पुलिस महानिदेशक भूपेंद्र सिंह यादव और जयपुर पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव व अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।