BREAKING NEWS

डॉक्टरों की सुरक्षा की मांग वाली याचिका पर सुनवाई कल : सुप्रीम कोर्ट ◾17वीं लोकसभा का पहला सत्र प्रारंभ, PM मोदी सहित नवनिर्वाचित सांसदों ने ली शपथ ◾संसदीय लोकतंत्र में सक्रिय विपक्ष महत्वपूर्ण, संख्या को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं : PM मोदी ◾डॉक्टरों की देशभर में प्रदर्शन, आज फिर हड़ताल पर रहेंगे एम्स के डॉक्टर◾वर्ल्ड कप में भारत की पाकिस्तान पर सबसे बड़ी जीत, लगा बधाईयों का तांता, अमित शाह ने बताया एक और स्ट्राइक ◾IMA की हड़ताल में शामिल होंगे दिल्ली के अस्पताल, AIIMS ने किया किनारा ◾ममता आज सचिवालय में जूनियर डॉक्टरों से करेंगी बैठक◾विश्व कप 2019 Ind vs Pak : भारत ने पाकिस्तान को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 89 रन से रौंदा◾IMA के आह्वान पर सोमवार को दिल्ली के कई अस्पतालों में नहीं होगा काम ◾सभी वर्गों को भरोसे में लेकर करेंगे सबका विकास : PM मोदी◾PM मोदी ने आतंकवाद के खिलाफ कूटनीतिक और रणनीतिक रिवायत को बदला : जितेन्द्र सिंह◾प्रणव मुखर्जी से मिले नीतीश कुमार◾बिहार में AES की रोकथाम और इलाज के लिए हरसंभाव सहायता देगा केंद्र : हर्षवर्द्धन◾कश्मीरी अलगाववादी नेताओं को विदेशों से मिला धन, निजी फायदे के लिए उसका किया इस्तेमाल : NIA◾Top 20 News - 16 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾एक राष्ट्र, एक चुनाव पर बात करने के लिए PM मोदी ने सभी दलों के प्रमुखों को किया आमंत्रित◾प्रदर्शनकारी डॉक्टरों ने कहा, CM जगह तय करें लेकिन बैठक खुले में होनी चाहिए ◾बिहार : मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से मरने वाले बच्चों का आंकड़ा पहुंचा 93 ◾नए चेहरों के साथ संसद में आए नई सोच, तभी बनेगा नया भारत : PM मोदी◾धर्मयात्रा नहीं राजनीति करने आए है उद्धव ठाकरे : इकबाल अंसारी◾

राजस्‍थान

बीसलपुर बांध से पेयजल आपूर्ति पन्द्रह अगस्त तक

राजस्थान के अजमेर जिले की प्यास बुझाने वाला एक मात्र बीसलपुर बांध में पानी का स्तर केवल 307.08 मीटर रह गया है और नियम के अनुसार इसमें से 299 मीटर तक पानी ही लिया जा सकता है। ऐसी स्थिति में बीसलपुर बांध के जरिए पानी की उपलब्धता पंद्रह अगस्त तक ही रहे सकेगी। विभाग के अधीक्षण अभियंता अरविंद अजमेरा के अनुसार भीषण गर्मी को देखते हुए जिले के लिए वर्तमान में 265 एम.एल.टी। पानी लिया जा रहा है। जिसमें से 116 एम.एल। अजमेर शहर के लिए 21 एम.एल।

ब्यावर के लिए, 20 एम.एल। किशनगढ़ के लिए, साढ़ आठ एम.एल.टी। केकड़ के लिए तथा शेष जिले के ग्रामीण क्षेत्रों को आपूर्ति की जा रही है। उन्होंने बताया कि विभाग का प्रयास है कि 72 घंटे की अंतराल पर जिले में पानी की आपूर्ति को बनाए रखा जाए। यही कारण है कि जयपुर मुख्यालय से निर्देश मिलने के बाद अगले माह जिले के लिए 270 एम.एल.टी।

पानी लिया जाना प्रस्तावित है। उन्होंने बताया कि मार्च में 250 एम.एल.टी। तथा अप्रैल माह में 260 एम.एल.टी। पानी बांध के जरिए लिया गया है। उन्होंने जनता से अपील की है कि वे जागरूक नागरिक का दायित्व निभाते हुए पानी की बर्बादी रोकने का प्रयास करें ताकि पानी की कमी को दूर किया जा सके। उन्होंने आशंका व्यक्त की कि यदि आने वाले वर्षों में जिले में मानसून कमजोर रहा तो अगस्त के बाद बीसलपुर बांध से पानी लिया जाना मुश्किल हो सकता है। उन्होंने बताया कि पानी की आपूर्ति के लिए 200 टैंकर से ज्यादा इस काम में जुटे हुए हैं।

साथ ही अजमेर शहर के चार क्षेत्रों में ट््यूबवेल भी खोदे गए हैं। गौरतलब है कि हाल ही में अजमेर संसदीय क्षेत्र के लिए हुए मतदान के पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के प्रत्याशियों ने पानी के संकट से मुक्त कराने का चुनावी मुद्दा बनाया था। कांग्रेस के रिजु झुनझुनवाला तो अजमेर की पेयजल समस्या का स्थाई समाधान का‘ वचनपत्र‘ भी मतदान पूर्व जारी कर चुके हैं। जिले में पानी की समस्या मूंहबाय खड़ है। लोकसभा चुनाव परिणामों में जो भी प्रत्याशी सांसद बनेगा उसके लिए अजमेर जिले में पानी की समस्या ही सबसे पहली और प्रमुख चुनौती होगी।