BREAKING NEWS

चुनाव के बाद एग्जिट पोल के नतीजे, भाजपा ने राहुल को मारा ताना ◾पकिस्तान द्वारा डाक मेल सेवा पर रोक लगाने के लिए रवि शंकर प्रसाद ने की आलोचना ◾सम्राट नारुहितो के राज्याभिषेक समारोह में शामिल होने जापान पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद ◾गृह मंत्री अमित शाह से मिले CM कमलनाथ, केंद्र से 6,600 करोड़ रुपये की सहायता मांगी ◾पाकिस्तान ने भारत के साथ डाक सेवा बंद की, भारत ने अंतरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन बताया ◾सरकार ने सियाचिन को पर्यटकों के लिए खोलने का फैसला किया : राजनाथ सिंह ◾TOP 20 NEWS 21 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बोले- अगर पाक ने घुसपैठ कराना बंद नहीं की तो सशस्त्र बल उसे मुहंतोड़ जवाब देते रहेंगे◾भारत करतारपुर पर 23 को करेगा एग्रीमेंट, आस्था के नाम पर श्रद्धालुओं से वसूली पर अड़ा पाक ◾महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग समाप्त, जानें किस-किस ने डाला वोट◾उपचुनाव : यूपी समेत 17 राज्यों में वोटिंग समाप्त, जानें कहां कितने प्रतिशत हुआ मतदान◾हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए मतदान समाप्त, जानें कितने प्रतिशत हुआ मतदान◾आरे विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- मेट्रो कंस्ट्रक्शन पर नहीं लगाई कोई रोक ◾BJP विधायक के वीडियो पर राहुल गांधी का तंज, कहा- पार्टी में सबसे ईमानदार व्यक्ति हैं बख्शीश सिंह◾संसद का शीतकालीन सत्र 18 नवंबर से 13 दिसंबर तक चलेगा◾शरद पवार ने डाला वोट, लोगों से की लोकतांत्रिक अधिकार का इस्तेमाल करने की अपील◾संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले- बीते 90 वर्षों से हमें निशाना बनाया जा रहा है ◾हरियाणा में मुकाबला सिर्फ BJP और कांग्रेस के बीच : भूपिंदर सिंह हुड्डा◾केजरीवाल ने BJP पर साधा निशाना - बिजली सब्सिडी खत्म कर देगी भाजपा◾पोस्ट पेमेंट बैंक ने चुनौतियों को अवसर में बदला : PM मोदी ◾

राजस्‍थान

पहले भी गलत साबित हुए हैं एग्जिट पोल : गहलोत 

जयपुर : एग्जिट पोल के अनुमानों की विश्वसनीयता पर सवाल उठाते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को कहा कि इससे पहले भी कई बार एग्जिट पोल गलत साबित हुए हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इन चुनावों में निर्वाचन आयोग निष्पक्ष नहीं रहा यह सिद्ध हो गया है। अपने निवास पर संवाददाताओं से बातचीत में गहलोत ने एग्जिट पोल के रुख पर कहा, ‘'इससे पहले भी कई बार एग्जिट पोल आये थे और पूरी तरह गलत साबित हुए थे। और तो और 2004 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के दौरान भी इंडिया शाइनिंग व फील गुड जैसे विज्ञापनों के जरिये माहौल बनाया गया और एग्जिट पोल उनके पक्ष में आये पर सरकार बनी संप्रग की जो दस साल रही।’' गहलोत ने कहा कि उन्होंने राज्य में कांग्रेस के सभी 25 प्रत्याशियों से बात की है और '‘एग्जिट पोल से किसी तरह का कोई भ्रम पैदा नहीं हुआ है। सब समझते हैं और जानते हैं कि एग्जिट पोल के नतीजों से क्या रहने वाला है।'’

मध्य प्रदेश के ताजा राजनीतिक घटनाक्रम पर गहलोत ने कहा, '‘मध्यप्रदेश की सरकार पूरी तरह मजबूत है। पांच साल चलेगी सरकार चाहे मध्यप्रदेश हो, राजस्थान हो या छत्तीसगढ हो... हां भाजपा के कुछ साथियों को सपने आने लग गये है वो उनके सपने चकनाचूर हो जायेंगे।’' ईवीएम को लेकर की विपक्ष द्वारा की जा रही आपत्तियों पर गहलोत ने कहा कि जब उच्चतम न्यायालय खुद इससे सहमत हो गया था कि ईवीएम में गड़बड़ हो सकती है, छेड़छाड़ हो सकती है तभी तो उसने वीवीपैट का प्रावधान किया। निर्वाचन आयोग की निष्पक्षता पर सवाल उठने पर गहलोत ने कहा, ‘‘निष्पक्षता पर सवाल नहीं उठ रहे हैं, निर्वाचन आयोग निष्पक्ष रहा ही नहीं है, यह सिद्ध हो गया है पूरे चुनाव में। आजादी के बाद पहली बार आयोग पर जिस तरह से आरोप लगे हैं ऐसे पहले कभी नहीं लगे थे।’'