BREAKING NEWS

BJP मुस्लिमों को रिएक्ट करने पर कर रही है मजबूर ताकि गुजरात जैसी घटना दोहरा सके: महबूबा मुफ्ती◾ज्ञानवापी मामले में अगली सुनवाई को लेकर कल आएगा वाराणसी कोर्ट का फैसला◾ पटरियों के सहारे पंजाब को निशाना बना रहा ISI ! इंटेलिजेंस एजेंसियों ने किया PAK का पर्दाफाश◾जापानी कंपनियों के टॉप 4 बिजनेस लीडर्स से PM मोदी ने की मुलाकात, भारत में बिजनेस और इन्वेस्टमेंट की दी जानकारी ◾टिकैत ब्रदर्स पर टुटा मुश्किलों का पहाड़, BKU में बगावत के बाद लगा यह आरोप... ◾बाइडन चीन पर भड़के, कहा- ड्रैगन ने ताइवन पर हमला किया तो उसे बख्शा नहीं जाएगा, जानें पूरा मामला◾मानहानि मामले में किरीट सोमैया की पत्नी ने संजय राउत को भेजा 100 करोड़ का नोटिस◾बिहार की सियासत में बहुत नाजुक हैं अगले 72 घंटे, CM नीतीश ने जारी किया यह फरमान, जानें पूरा मामला ◾UP विधानसभा : बजट सत्र के पहले दिन SP का जोरदार हंगामा, CM योगी बोले-हर विषय पर चर्चा के लिए तैयार◾बिहार के पूर्णिया में बड़ा सड़क हादसा, ट्रक पलटने से 8 मजदूरों की मौत, आठ घायल◾संभाजी राजे को राज्यसभा का टिकट देगी शिवसेना? संजय राउत ने दिया ये जवाब◾जेल की रोटी खाने से नवजोत सिंह सिद्धू ने किया इंकार... अब पहुंचे अस्पताल, जानें क्या है पूरा मामला ◾ज्ञानवापी को लेकर SC में एक और याचिका, वाराणसी कोर्ट में भी आज होगी सुनवाई ◾SP की बैठक से नदारद आजम.. लखनऊ में ली MLA पद की शपथ, अखिलेश के लिए कोई बड़ा संदेश? ◾Share Market : तेजी के साथ हुआ शेयर मार्किट चंद मिनटों में हुआ डाउन, रेड जोन में गए Nifty-Sensex◾देश में एक बार फिर Down हुआ कोरोना का ग्राफ, पिछले 24 घंटे में 2 हजार नए केस ◾दिल्ली-NCR में आंधी-तूफान से टूटे कई पेड़, जाम हुई सड़कें, गुरुग्राम में ट्रैफिक अलर्ट ◾जापान पहुंचे PM मोदी, आज शाम 4 बजे भारतीय समुदाय को करेंगे संबोधित◾कांग्रेस नेता ने अंग्रेजी शब्द के जरिए रेल मंत्रालय पर किया कटाक्ष ◾आज का राशिफल ( 23 मई 2022)◾

बाहरी छात्रों से टैक्स वसूलने की तैयारी में था कोटा नगर निगम , विरोध - प्रदर्शन को देखते हुए फैसला लिया वापस

नगर निगम कोचिंग संस्थानों और प्राइवेट स्कूल-कॉलेजों पर नया टैक्स थोपने के मामले में अब बैकफुट पर आ गया है आपको बता दे कि कोटा के प्राइवेट एज्यूकेशन इंस्टीट्यूट से सफाई के नाम पर 1000 रुपए प्रति छात्र टैक्स वसूलने का फरमान जारी किया गया था। जिसके बाद छात्रों का प्रदर्शन नगर निगम के खिलाफ शुरू हो गया।

जानकारी के मुताबिक प्राइवेट एजुकेशन इंस्टीट्यूट से सफाई के नाम पर एक हजार रुपये प्रति छात्र के हिसाब से नगर निगम टैक्स वसूलने की तैयारी में था। इस नए टैक्स के जरिए नगर निगम को साल में तकरीबन 30 करोड़ रुपये से ज्यादा की कमाई होती।

राजस्व समिति की सोमवार को हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि जिन कोचिंग संस्थानों और शिक्षण संस्थानों में 250 से अधिक छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैं उनका निगम में पंजीयन कराना जरूरी होगा। जानकारी होने पर छात्रों ने इस नियम का विरोध किया जिसके बाद राजस्थान सरकार ने इस फैसले को वापस ले लिया।

कोटा एक एजुकेशन हब है जहां बाहर से छात्र पढ़ाई करने आते हैं. इसके साथ ही टैक्स को लेकर छात्रों ने प्रदर्शन भी शुरू कर दिया। कोटा नगर निगम के अधिकारियों ने निजी शिक्षण संस्थानों पर सफाई के नाम पर नया टैक्स लगाने की वजह बताते हुए कहा था कि आवासीय क्षेत्र में कोचिंग, स्कूल और कॉलेज संचालित हो रहे हैं। इन क्षेत्रों में नगर निगम को अपने संसाधन लगाकर साफ-सफाई करानी पड़ती है। इसलिए यह शुल्क लिया जाएगा। निगम अभी शिक्षण संस्थाओं से नगरीय कर वसूल करता है. अब छात्रों के हिसाब से भी राशि वसूल करेगा।

कोचिंग सेंटर के मुताबिक छात्रों का कहना है कि जीएसटी की वजह से पहले से ही कोचिंग की फीस में 20 हजार तक की बढ़ोत्तरी हो गई है। वहीं कांग्रेस ने कोटा नगर निगम के इस फैसले का विरोध किया है।