BREAKING NEWS

भारत-सियेरा लियोन के बीच छह समझौतों पर हस्ताक्षर◾प्रदूषण को लेकर केजरीवाल सरकार के खिलाफ मनोज तिवारी ने बांटे ‘मास्क’◾अखिलेश ने कहा भाजपा कर रही है बदनाम, सरकार ने कहा 'खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे''◾फडणवीस ने ‘नटरंग’ का जिक्र करते हुए पवार पर साधा निशाना◾UP : अयोध्या फिर छावनी में तब्दील, लगाई गई धारा 144, ये है वजह !◾वंदे भारत एक्सप्रेस में आई तकनीकी खामी, एसी और पंखे के बिना करीब एक घंटे तक रहे यात्री ◾Instagram पर PM मोदी के हैं तीन करोड़ से अधिक फॉलोवर ◾फडणवीस ने ‘नटरंग’ का जिक्र करते हुए पवार पर साधा निशाना◾महाराष्ट्र के लोगों को कश्मीर की है फिक्र : रविशंकर प्रसाद ◾राजनाथ के फ्रांस दौरे पर राहुल ने कहा : भाजपा नेताओं को राफेल सौदे का हो रहा अपराधबोध ◾पाकिस्तान ने बारामूला में किया संघर्षविराम का उल्लंघन, एक जवान शहीद ◾चीन को पीछे छोड़ भारत की जनसंख्या हुई 150 करोड़ : गिरिराज ◾PM मोदी ने जम्मू-कश्मीर को बनाया भारत का अभिन्न अंग : शाह◾एशियाई संसदीय सभा की बैठक में कश्मीर मुद्दा उठाने पर थरूर ने पाकिस्तान की निंदा की ◾पश्चिम बंगाल भाजपा 15 अक्टूबर से गांधी संकल्प यात्रा निकालेगी ◾महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना सरकार की योजनाएं जनकल्याण के लिए : योगी ◾मैसेज की राजनीति की आड़ में लोकतंत्र को खत्म कर रहे हैं PM मोदी : अशोक गहलोत ◾रविशंकर प्रसाद ने फिल्म की कमाई से जोड़ने वाला बयान वापस लिया ◾TOP 20 NEWS 13 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾महाराष्ट्र : लातूर में बोले राहुल-मुख्य मुद्दों से लोगों का ध्यान भटका रही है मोदी सरकार ◾

राजस्‍थान

आयुष्मान योजना में खाद्य सुरक्षा का दायरा हो पात्रता का आधार : CM अशोक गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आयुष्मान भारत योजना का अधिकाधिक लाभ आम जनता तक पहुंचाने के लिए खाद्य सुरक्षा अधिनियम में पात्र सभी परिवारों को इसका लाभार्थी मानने की मांग की है। गहलोत ने इस बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। इसमें गहलोत ने कहा है कि प्रदेश के ज्यादा से ज्यादा पात्र परिवारों को आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ मिले, इसके लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, 2013 में पात्र समस्त परिवारों को इसका लाभार्थी माना जाए। 

गहलोत ने पत्र में कहा है कि भारत सरकार की आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में वर्ष 2011 की सामाजिक, आर्थिक एवं जाति आधारित जनगणना के आधार पर लाभार्थियों का चयन किया गया है। इस कारण भारत सरकार द्वारा तय मापदण्ड के आधार पर राजस्थान के केवल 59 लाख 71 हजार परिवारों को ही इस योजना का लाभ मिल पा रहा है जबकि राजस्थान में विगत चार वर्षों से संचालित भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, 2013 (एनएफएसए) के पात्र एक करोड़ परिवारों को निःशुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। 

मुख्यमंत्री ने कहा है कि सामाजिक, आर्थिक एवं जाति आधारित जनगणना के आंकडे़ करीब 8 वर्ष पुराने हैं। आठ वर्ष पुरानी जनगणना को आधार मानने के कारण बड़ी संख्या में प्रदेश के पात्र परिवारों को आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है।