BREAKING NEWS

इस्तीफा देने से पहले सोनिया को अमरिंदर ने लिखी थी चिट्ठी, हालिया घटनाक्रमों पर पीड़ा व्यक्त की◾सिद्धू के सलाहकार का अमरिंदर पर वार, कहा-मुझे मुंह खोलने के लिए मजबूर न करें◾पंजाब : मुख्यमंत्री पद की रेस में नाम होने पर बोले रंधावा-कभी नहीं रही पद की लालसा◾प्रियंका गांधी का योगी पर हमला, बोलीं- जनता से जुड़े वादों को पूरा करने में असफल क्यों रही सरकार ◾पंजाब कांग्रेस की रार पर बोली BJP-अमरिंदर की बढ़ती लोकप्रियता के डर से लिया गया उनका इस्तीफा◾कैप्टन के भाजपा में शामिल होने के कयास पर बोले नेता, अमरिंदर जताएंगे इच्छा, तो पार्टी कर सकती है विचार◾कौन संभालेगा पंजाब CM का पद? कांग्रेस MLA ने कहा-अगले 2-3 घंटे में नए मुख्यमंत्री के नाम का होगा फैसला◾पंजाब में हो सकती है बगावत? गहलोत बोले-उम्मीद है कि कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने वाला कदम नहीं उठाएंगे कैप्टन ◾CM योगी ने साढ़े चार साल का कार्यकाल पूरा होने पर गिनाईं अपनी सरकार की उपलब्धियां◾राहुल ने ट्वीट किया कोरोना टीकाकरण का ग्राफ, लिखा-'इवेंट खत्म'◾अंबिका सोनी ने पंजाब CM की कमान संभालने से किया इनकार, टली कांग्रेस विधायक दल की बैठक◾अफगानिस्तान में आगे बुनियादी ढांचा निवेश को जारी रखने के बारे में पीएम मोदी करेंगे निर्णय : नितिन गडकरी◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 30,773 नए मामलों की पुष्टि, 309 लोगों की हुई मौत◾पंजाब के बाद अब राजस्थान और छत्तीसगढ़ पर टिकी निगाहें, क्या होगा उलटफेर?◾पंजाब के बाद राजस्थान कांग्रेस में हलचल, CM गहलोत के OSD लोकेश शर्मा ने दिया इस्तीफा◾तीन दिन की अंतरिक्ष की सैर कर वापस लौटे यात्री, अटलांटिक सागर में लैंड हुआ कैप्सूल◾ योगी सरकार के साढ़े चार साल हुए पूरे, CM योगी आज उपलब्धियों का रिपोर्ट कार्ड करेंगे पेश ◾दुनियाभर में जारी है कोरोना महामारी का प्रकोप, संक्रमितों का आंकड़ा 22.81 करोड़ से अधिक ◾कई अफगान दूतावासों ने तालिबान सरकार से तोड़ा संपर्क, कामगारों ने मेजबान देशों में मांगी थी शरण ◾अमरिंदर सिंह का इस्तीफा, विधायक दल ने नया नेता चुनने के लिए सोनिया को अधिकृत किया◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की कम हुई प्रदेश की सियासत में महत्ता, भाजपा के पोस्टरों से हुई गायब

राजस्थान की राजनीति में हाल ही में हुए हलचल के बाद भाजपा के प्रदेश मुख्यालय से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पोस्टर हटा दिया है। मौजूदा पोस्टर में एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और दूसरी तरफ सतीश पूनिया और गुलाब चंद कटारिया हैं, लेकिन कहीं भी राजे की कोई तस्वीर नहीं है।

दूसरे पोस्टरों में वरिष्ठ नेताओं को श्रद्धांजलि के रूप में अनुभवी नेताओं दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी की तस्वीरें हैं, जबकि पहले के पोस्टरों में एक तरफ राजे की तस्वीर थी। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौर की तस्वीरें थीं। दूसरे पक्ष में पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तस्वीर पेश की।

भाजपा पदाधिकारियों ने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व ने गाइडलाइन जारी की है कि राज्य में भाजपा के सभी पोस्टरों में नियमानुसार मोदी और नड्डा के साथ मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष की तस्वीर होनी चाहिए, जबकि जिन राज्यों में भाजपा विपक्ष में है वहां प्रदेश भाजपा अध्यक्ष की तस्वीर होनी चाहिए। मोदी और नड्डा के साथ विपक्ष के नेता और इसलिए यह बदलाव आया है।

पिछले कुछ महीनों में राजे को राज्य पार्टी कार्यालय और राज्य पार्टी के नेताओं से दूरी और अंतर बनाए रखते हुए देखा गया है और खुद को सभी राज्य भाजपा गतिविधियों से अलग रखते हुए ''ब्रांड राजे'' का प्रचार करते देखा गया है। जब पार्टी सेवा ही संगठन अभियान चला रही है तो वसुंधरा राजे रसोई के प्रचार में लगी हुई हैं।

साथ ही उनके अनुयायी सोशल मीडिया पर 'टीम वसुंधरा राजे 2023' अभियान चला रहे हैं, जिसमें उन्हें बीजेपी के लिए राजस्थान का अगला सीएम चेहरा बताया जा रहा है। वह महामारी के दौरान जरूरतमंदों की मदद के लिए ट्विटर पर 'वसुंधरा राजे का कार्यालय' हैंडल चला रही हैं, जबकि बीजेपी उन लोगों की मदद के लिए अपना खुद का हैंडल चला रही थी जो दवाएं, ऑक्सीजन, बिस्तर आदि चाहते थे।