BREAKING NEWS

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने तिहाड़ जेल में डीके शिवकुमार से की मुलाकात◾दिल्ली के कनॉट प्लेस में मुठभेड़, दो बदमाश गिरफ्तार◾झारखंड चुनाव में कसौटी पर होगी JDU-भाजपा दोस्ती!◾कमलेश तिवारी हत्याकांड: मां बोलीं- हत्या के आरोपियों को मिले फांसी की सजा ◾कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने की मोदी सरकार की तारीफ, 'आयुष्मान भारत योजना' को लेकर कही यह बात◾आनंदन ने विश्व मिलिट्री खेलों में भारत को दिलाया दूसरा स्वर्ण ◾सोनिया गांधी बुधवार को शिवकुमार से तिहाड़ में मिलेंगी◾‘‘ग्रेट पैट्रियॉटिक वॉर’’ जीत की 75 वीं वर्षगांठ पर मोदी का स्वागत करने के लिए उत्सुक है रूस ◾आप ने विमर्श की दिशा बदल दी, दिल्ली में हिंदू-मुस्लिम राजनीति करने की भाजपा की हिम्मत नहीं : केजरीवाल ◾J&K : सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी ढेर◾अयोध्या में दीपोत्सव का खर्चा UP सरकार के जिम्मे◾बंगाल में लागू नहीं होगा NRC : ममता◾प्रियंका ने प्रदेश में महिलाओं के साथ बढते अपराध पर UP सरकार को घेरा◾कमलेश तिवारी हत्याकांड : गुजरात ATS को मिली बड़ी कामयाबी, दोनों मुख्य आरोपी गिरफ्तार◾गुलाबी बस टिकटों पर केजरीवाल के चित्र मामले में दिल्ली भाजपा ने लोकायुक्त से शिकायत की◾हरियाणा में भाजपा, कांग्रेस में कांटे की टक्कर, महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन की शानदार वापसी : एग्जिट पोल ◾हरियाणा : कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी शैलजा बोली- एग्जिट पोल को भूल जाइये, कांग्रेस बनाएगी सरकार◾राज्य में कोई भी डिटेंशन सेंटर स्थापित नहीं होगा : CM ममता ◾TOP 20 NEWS 22 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾अयोध्या मामला : सुप्रीम कोर्ट ने ‘निर्वाणी अखाड़ा’ को लिखित नोट दाखिल करने की दी इजाजत ◾

राजस्‍थान

बीयर की बोतल की जगह केन बीयर की बिक्री को प्रोत्साहित करने की पहल

राजस्थान के एक मात्र पर्वतीय पर्यटक स्थल माउंट आबू में पर्यटकों द्वारा बीयर की कांच की बोतलों को जंगल क्षेत्र में फेंकने से पर्यावरण और जानवरों पर बढते खतरे और दुष्प्रभाव से बचने के लिये सिरोही जिला प्रशासन और शराब के अधिकृत विक्रताओं ने कांच की बोतल की जगह केन बीयर की बिक्री को प्रोत्साहित करने की पहल की है। 

माउंट आबू के उपखंड अधिकारी डॉ. रविन्द्र गोस्वामी ने बताया कि बीयर की कांच की बोतल और केन बीयर की बिक्री करने वाले अनुज्ञाधारियों से आग्रह किया गया है कि बीयर की जिन ब्रांड की कैन में उपलब्धता है उनमें कांच की बोतलें आबू पर्वत के लिये निर्गम नहीं की जायें। इस मत के अनुरूप जिन ब्रांड में कैन उपलब्ध नहीं है उन में बोतलों का निर्गम किया जायेगा। 

उन्होंने बताया कि जंगल में फैंकी गई खाली कांच की बोतल के टुकडों से जंगल के जानवरों को नुकसान होता है इसलिये यह पहल शुरू की गई है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा उपभोक्ताओं से 20 रूपया प्रति बोतल अतिरिक्त चार्ज किया जायेगा और यह राशि उन्हें वापस कर दी जायेगी यदि वे खाली बोतल को वापस कर देंगे। बाद में एकत्रित खाली बोतलों को नष्ट कर दिया जायेगा। 

भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी गोस्वामी ने बताया कि प्रशासन की इस पहल का उद्देश्य अगले कुछ महीनों में कांच की बोतलों का प्रयोग कम से कम आधा करने का है। गोस्वामी ने बताया कि पर्यावरण और पर्यटन को बढाने के लिये जंगल के क्षेत्र में टूटे हुए कांच के टुकडों की गंदगी से बचाने की वास्तविकता में आवश्यकता थी, जो इस पहल के जरिये की जायेगी। 

उन्होंने बताया कि नक्की झील की सफाई के दौरान हजारो खाली बोतले मिली थी। झील क्षेत्र से खाली बोतलों को हटाने के लिये तीन ट्रेक्टरों का उपयोग किया गया था। उन्होंने बताया कि हाल ही में अधिकृत शराब विक्रताओं से के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिये एक बैठक की गई थी जिसमें उन्होंने नयी प्रक्रिया पर अपनी सहमति जताई है। 

समुद्र तल से करीब 1,220 मीटर उंचाई पर अरावली पर्वतमाला श्रृंखला में स्थित माउंट आबू में प्रत्येक वर्ष लाखों पर्यटक आते है और गर्मियों के दिनों में काफी संख्या में पर्यटक यहां पहुंचते है। माउंट आबू के जंगली क्षेत्र की सैंक्चूरी में स्लोथ भालू सहित अन्य जंगली जानवर पाये जाते है। अरावली पर्वत श्रृखला में 1,722 मीटर पर गुरू शिखर सबसे ज्यादा उंचाई पर है।