BREAKING NEWS

पंजाब केसरी दिल्ली के मुख्य संपादक और पूर्व भाजपा सांसद श्री अश्विनी कुमार जी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि ◾निर्भया गैंगरेप: अपराध के समय दोषी पवन नाबलिग था या नहीं? 20 जनवरी को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾सीएए पर प्रदर्शनों के बीच CJI बोबड़े ने कहा- यूनिवर्सिटी सिर्फ ईंट और गारे की इमारतें नहीं◾करनाल से बीजेपी के पूर्व सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा के निधन पर राजनाथ सिंह समेत इन नेताओं ने जताया शोक ◾कमलनाथ सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे MLA मुन्नालाल गोयल, घोषणा पत्र में किए गए वादों को पूरा नहीं करने का लगाया आरोप ◾नवाब मलिक बोले- अगर भागवत जबरदस्ती पुरुष की नसबंदी कराना चाहते हैं तो मोदी जी ऐसा कानून बनाए◾संजय राउत ने सावरकर को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना, बोले- विरोध करने वालों को भेजो जेल, तब सावरकर को समझेंगे'◾दोषियों को माफ करने की इंदिरा जयसिंह की अपील पर भड़कीं निर्भया की मां, बोलीं- ऐसे ही लोगों की वजह से बच जाते हैं बलात्कारी◾पाकिस्‍तान: सुप्रीम कोर्ट ने देशद्रोह मामले में फैसले के खिलाफ मुशर्रफ की याचिका पर सुनवाई से किया इनकार ◾सीएए और एनआरसी के खिलाफ लखनऊ में महिलाओं का प्रदर्शन जारी◾NIA ने संभाली आतंकियों के साथ पकड़े गए DSP दविंदर सिंह मामले की जांच की जिम्मेदारी◾वकील इंदिरा जयसिंह की निर्भया की मां से अपील, बोलीं- सोनिया गांधी की तरह दोषियों को माफ कर दें◾ट्रंप ने ईरान के 'सुप्रीम लीडर' को दी संभल कर बात करने की नसीहत◾ राजधानी में छाया कोहरा, दिल्ली आने वाली 20 ट्रेनें 2 से 5 घंटे तक लेट◾निर्भया : घटना के दिन नाबालिग होने का दावा करते हुए पवन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट◾PM मोदी ने मंत्रियों से कहा, कश्मीर में विकास का संदेश फैलाएं और गांवों का दौरा करें ◾भाजपा ने अब तक 8 पूर्वांचलियों पर लगाया दांव◾यूरोपीय संघ के उच्च प्रतिनिधि ने PM मोदी से भेंट की◾दिल्ली पुलिस आयुक्त को NSA के तहत मिला किसी को भी हिरासत में लेने का अधिकार◾न्यायालय से संपर्क करने से पहले राज्यपाल को सूचित करने की कोई जरूरत नहीं : येचुरी◾

बीयर की बोतल की जगह केन बीयर की बिक्री को प्रोत्साहित करने की पहल

राजस्थान के एक मात्र पर्वतीय पर्यटक स्थल माउंट आबू में पर्यटकों द्वारा बीयर की कांच की बोतलों को जंगल क्षेत्र में फेंकने से पर्यावरण और जानवरों पर बढते खतरे और दुष्प्रभाव से बचने के लिये सिरोही जिला प्रशासन और शराब के अधिकृत विक्रताओं ने कांच की बोतल की जगह केन बीयर की बिक्री को प्रोत्साहित करने की पहल की है। 

माउंट आबू के उपखंड अधिकारी डॉ. रविन्द्र गोस्वामी ने बताया कि बीयर की कांच की बोतल और केन बीयर की बिक्री करने वाले अनुज्ञाधारियों से आग्रह किया गया है कि बीयर की जिन ब्रांड की कैन में उपलब्धता है उनमें कांच की बोतलें आबू पर्वत के लिये निर्गम नहीं की जायें। इस मत के अनुरूप जिन ब्रांड में कैन उपलब्ध नहीं है उन में बोतलों का निर्गम किया जायेगा। 

उन्होंने बताया कि जंगल में फैंकी गई खाली कांच की बोतल के टुकडों से जंगल के जानवरों को नुकसान होता है इसलिये यह पहल शुरू की गई है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा उपभोक्ताओं से 20 रूपया प्रति बोतल अतिरिक्त चार्ज किया जायेगा और यह राशि उन्हें वापस कर दी जायेगी यदि वे खाली बोतल को वापस कर देंगे। बाद में एकत्रित खाली बोतलों को नष्ट कर दिया जायेगा। 

भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी गोस्वामी ने बताया कि प्रशासन की इस पहल का उद्देश्य अगले कुछ महीनों में कांच की बोतलों का प्रयोग कम से कम आधा करने का है। गोस्वामी ने बताया कि पर्यावरण और पर्यटन को बढाने के लिये जंगल के क्षेत्र में टूटे हुए कांच के टुकडों की गंदगी से बचाने की वास्तविकता में आवश्यकता थी, जो इस पहल के जरिये की जायेगी। 

उन्होंने बताया कि नक्की झील की सफाई के दौरान हजारो खाली बोतले मिली थी। झील क्षेत्र से खाली बोतलों को हटाने के लिये तीन ट्रेक्टरों का उपयोग किया गया था। उन्होंने बताया कि हाल ही में अधिकृत शराब विक्रताओं से के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिये एक बैठक की गई थी जिसमें उन्होंने नयी प्रक्रिया पर अपनी सहमति जताई है। 

समुद्र तल से करीब 1,220 मीटर उंचाई पर अरावली पर्वतमाला श्रृंखला में स्थित माउंट आबू में प्रत्येक वर्ष लाखों पर्यटक आते है और गर्मियों के दिनों में काफी संख्या में पर्यटक यहां पहुंचते है। माउंट आबू के जंगली क्षेत्र की सैंक्चूरी में स्लोथ भालू सहित अन्य जंगली जानवर पाये जाते है। अरावली पर्वत श्रृखला में 1,722 मीटर पर गुरू शिखर सबसे ज्यादा उंचाई पर है।