BREAKING NEWS

NFHS के सर्वे से खुलासा, 30 फीसदी से अधिक महिलाओं ने पति के हाथों पत्नी की पिटाई को उचित ठहराया◾कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन को लेकर सरकार सख्त, केंद्र ने लिखा राज्यों को पत्र, जानें क्या है नई सावधानियां ◾AIIMS चीफ गुलेरिया बोले- 'ओमिक्रोन' के स्पाइक प्रोटीन में अधिक परिवर्तन, वैक्सीन की प्रभावशीलता हो सकती है कम◾मन की बात में बोले मोदी -मेरे लिए प्रधानमंत्री पद सत्ता के लिए नहीं, सेवा के लिए है ◾केजरीवाल ने PM मोदी को लिखा पत्र, कोरोना के नए स्वरूप से प्रभावित देशों से उड़ानों पर रोक लगाने का किया आग्रह◾शीतकालीन सत्र को लेकर मायावती की केंद्र को नसीहत- सदन को विश्वास में लेकर काम करे सरकार तो बेहतर होगा ◾संजय सिंह ने सरकार पर लगाया बोलने नहीं देने का आरोप, सर्वदलीय बैठक से किया वॉकआउट◾TMC के दावे खोखले, चुनाव परिणामों ने बता दिया कि त्रिपुरा के लोगों को BJP पर भरोसा है: दिलीप घोष◾'मन की बात' में प्रधानमंत्री ने स्टार्टअप्स के महत्व पर दिया जोर, कहा- भारत की विकास गाथा के लिए है 'टर्निग पॉइंट' ◾शीतकालीन सत्र से पूर्व विपक्ष में आई दरार, कल होने वाली कांग्रेस नेता खड़गे की बैठक से TMC ने बनाई दूरियां ◾उद्धव ठाकरे की सरकार के दो साल के कार्यकाल में विपक्ष पूरी तरह से दिशाहीन रहा : संजय राउत◾कांग्रेस Vs कांग्रेस : अधीर रंजन चौधरी के वार पर मनीष तिवारी का पलटवार◾कल से शुरू हो रहा है संसद का शीतकालीन सत्र, पेश होंगे ये 30 विधेयक◾BJP प्रवक्ता ने फूलन देवी को कहा 'डकैत', अखिलेश ने बताया 'निषाद समाज' का अपमान ◾तमिलनाडु बारिश : चेन्नई के कई इलाकों में जलभराव, IMD ने तटीय जिलों के लिए जारी किया रेड अलर्ट ◾गौतम गंभीर की जान को खतरा, ISIS कश्मीर ने तीसरी बार दी धमकी, कहा- कुछ नहीं कर सकती IPS श्वेता ◾महाराष्ट्र सरकार के 2 साल हुए पूरे, सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा- एमवीए सरकार ने आपदा को अवसर में बदला◾वाट्सऐप पर पेपर लीक के चलते रद्द हुआ UPTET एग्जाम, STF की टीम ने शुरू की धर-पकड़ ◾देश में कोविड-19 के 8 हजार से अधिक नए केस की पुष्टि, इतने मरीजों की हुई मौत ◾World Corona: विश्व में 26.10 करोड़ के पार पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा, जानें कितने लोगों ने गंवाई जान ◾

राजस्थान की बदहाल कानून व्यवस्था पर बरसी बीजेपी, कहा- आपराधिक घटनाएं सरकार की रीति व नीति बयां कर रही

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राज्य की अशोक गहलोत सरकार पर कानून व्यवस्था बनाये रखने एवं महिलाओं एवं बच्चियों पर अत्याचार को रोकने में पूरी तरह विफल रहने का फिर आरोप लगाते हुए कहा है कि प्रदेश में दुष्कर्म और हत्या के मामले अब बहुत आम हो गए हैं और इससे यह स्पष्ट हो गया है कि सरकार किस रीति और नीति से चल रही है। 

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने सोशल मीडिया के जरिए राज्य सरकार पर आज फिर यह आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश में दुष्कर्म और हत्या के मामले अब बहुत आम हो गए हैं। सरकार के ढुलमुल रवैये से अपराधियों के हौंसले बुलंद हैं। प्रदेश सरकार किस रीति और नीति से चल रही है, इन घटनाओं से यह स्पष्ट है।

नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि राजस्थान में महिलाओं एवं बच्चियों की स्थिति असुरक्षित हो गई है।उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द, सिंह राठौड़ ने कहा कि कहां सुरक्षित हैं, बेटियां, जोधपुर में दुष्कर्म की घटना से आहत नाबालिग द्वारा आत्महत्या किया जाना प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान है। कांग्रेस सरकार नाबालिग बच्चियों से दरिंदगी और बलात्कार जैसे अपराधों को रोकने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है, यह दुर्भाज्ञपूर्ण है।

राठौड़ ने कहा कि राजस्थान में महिलाओं एवं बेटियों की सुरक्षा आज सबसे बड़ सवाल है। अपराधों का गढ़ बन चुके प्रदेश में इनकी सुरक्षा मजाक बन गई है। इस तरह के अपराधों की खबरें मन को विचलित करती है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह विभाग मुखिया होने के बाद भी कानून व्यवस्था अपराधियों के समक्ष बौनी नजर आ रही है।

उधर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) के संयोजक एवं नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी इस मामले में राज्य सरकार को आड़ हाथों लेते हुए कहा कि बालिकाओं के साथ छेड़छाड़ एवं दुष्कर्म की घटनाओं का हर रोज होना, आखिर राजस्थान किस दिशा की और जा रहा है। बेनीवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री आखिर अब कब संज्ञान लेकर ऐसे मामलो में आरोपियों के विरुद्ध कड़ कार्रवाई करायेंगे। शासन को संवेदनशील होकर ऐसे मामलों को गंभीरता से लेकर आरोपियों के विरुद्ध कड़ कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए।