BREAKING NEWS

कोरोना संकट : देश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 1000 के पार, मौत का आंकड़ा पहुंचा 24◾कोरोना महामारी के बीच प्रधानमंत्री मोदी आज करेंगे मन की बात◾कोरोना : लॉकडाउन को देखते हुए अमित शाह ने स्थिति की समीक्षा की◾इटली में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,000 के पार, 92,472 लोग इससे संक्रमित◾स्पेन में कोरोना वायरस महामारी से पिछले 24 घंटों में 832 लोगों की मौत , 5,600 से इससे संक्रमित◾Covid -19 प्रकोप के मद्देनजर ITBP प्रमुख ने जवानों को सभी तरह के कार्य के लिए तैयार रहने को कहा◾विशेषज्ञों ने उम्मीद जताई - महामारी आगामी कुछ समय में अपने चरम पर पहुंच जाएगी◾कोविड-19 : राष्ट्रीय योजना के तहत 22 लाख से अधिक सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को मिलेगा 50 लाख रुपये का बीमा कवर◾कोविड-19 से लड़ने के लिए टाटा ट्रस्ट और टाटा संस देंगे 1,500 करोड़ रुपये◾लॉकडाउन : दिल्ली बॉर्डर पर हजारों लोग उमड़े, कर रहे बस-वाहनों का इंतजार◾देश में कोविड-19 संक्रमण के मरीजों की संख्या 918 हुई, अब तक 19 लोगों की मौत ◾कोरोना से निपटने के लिए PM मोदी ने देशवासियों से की प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करने की अपील◾कोरोना के डर से पलायन न करें, दिल्ली सरकार की तैयारी पूरी : CM केजरीवाल◾Coronavirus : केंद्रीय राहत कोष में सभी BJP सांसद और विधायक एक माह का वेतन देंगे◾लोगों को बसों से भेजने के कदम को CM नीतीश ने बताया गलत, कहा- लॉकडाउन पूरी तरह असफल हो जाएगा◾गृह मंत्रालय का बड़ा ऐलान - लॉकडाउन के दौरान राज्य आपदा राहत कोष से मजदूरों को मिलेगी मदद◾वुहान से भारत लौटे कश्मीरी छात्र ने की PM मोदी से बात, साझा किया अनुभव◾लॉकडाउन को लेकर कपिल सिब्बल ने अमित शाह पर कसा तंज, कहा - चुप हैं गृहमंत्री◾बेघर लोगों के लिए रैन बसेरों और स्कूलों में ठहरने का किया गया इंतजाम : मनीष सिसोदिया◾कोविड-19 : केरल में कोरोना वायरस से पहली मौत, देश में अबतक 20 लोगों की गई जान ◾

धार्मिक नगरी पुष्कर के नाम पर मेगजिन ने परोसी अश्लीलता

पुष्कर : सस्ती लोकप्रियता हांसिल करने की इस अंधी दौड़ में किस तरह लोग अपने सामाजिक दायित्व को तांक में रख देते है इसका उदहारण मनोरंजन के लिए छापी जाने वाली मनोहर कहानियों के मई संस्करण में साफ नजर आता है। पुस्तक में जिस तरह पुष्कर सरोवर के किनारे जबरन कृत्रिम अश्लीलता परोसी गई है, उससे सामाजिक और धार्मिक संगठनों का उबाल बढ़ता जा रहा है।

हिंदूवादी संगठन और रेस्क्यू कमेटी विरोध में आगे आ चुकी है, वहीं जैसे-जैसे सोशल मीडिया के जरिये आम लोगों तक जानकारी पहुंच रही है, उनका गुस्सा भी बढ़ता जा रहा है। विहिप के तहसील प्रमुख जयकुमार पाराशर ने बताया की पुरानी घटनाओं को जोड़कर जिस तरह धार्मिक नगरी की मर्यादाओं के साथ खिलवाड़ करने की कोशिश की गई है, उसे किसी भी सूरत में बर्दास्त नहीं किया जाएगा। यदि प्रशासन और पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा। विहिप ने मांग की है कि या तो मनोहर कहानियां मैगजीन प्रबंधन अपनी इस करतूत के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगे नहीं तो न्यायालय की शरण ली जाएगी।

दूसरी तरफ रेस्क्यू कमेटी के अध्यक्ष अमित भट्ट ने भी इस हरकत की निंदा करते हुए कहा की यह आस्था से जुड़ा मामला है इसलिए सरकार को इस दिशा में ध्यान देना चाहिए, जिससे की लोगो की धार्मिक भावनाएं आहत न हो।

गौरतलब है की मनोहर कहानियां नामक एक हिंदी मैगजीन के मई संस्करण में पुष्कर का मेला आंचल नामक शीर्षक को मुख्य पृष्ठ पर प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया गया है, इसके मुख्य पृष्ठ और अंदर तीर्थ राज पुष्कर को बदनाम करने की नियत से आपत्ति जनक सामग्री परोसी गई है, जिसमें दिखाया गया है कि पुष्कर तीर्थ में विदेशी महिलाएं नशे के आगोश में समाकर यहां सैक्स का खेल खलती है, इसी तरह पवित्र सरोवर के बीच विदेशी महिलाओं की अद्र्धनग्न तस्वीरें एडिट की गई है। मैगजीन रेलवे और बस स्टेशनों के अलावा ऑनलाइन भी बेची जा रही हैं।

- अजय सिंह सिसोदिया