BREAKING NEWS

Defense Ministry ने कहा: पूर्व-अग्निवीरों को तैनात करने के लिए इच्छुक हैं कंपनियां◾योग गुरू रामदेव पर हमलावर हुए भाजपा नेता- नकली घी बेचने का लगाया गंभीर आरोप, 'कपाल भाति' पर भी हुए गुस्सा ◾गुजरात चुनाव : 60 सदस्यीय परिवार का जलूस लेकर वोट डालने मतदान केंद्र पहुंचा BJP नेता◾'भारत जोड़ो यात्रा' पर स्मृति ईरानी का तंज, कहा-'देश समझने निकले हैं राहुल, इसके लिए एक जन्म भी पडे़गा कम' ◾NRI का कैब में छूटा एक करोड़ के गहनों से भरा बैग, पुलिस ने 4 घंटे में खोजा ◾MCD ELECTION 2022 : दिल्ली में 2 से 4 दिसंबर तक रहेगा 'ड्राई डे', मतगणना वाले दिन भी नहीं मिलेगी शराब◾AIIMS Cyberattack : कैसे और किसने की हैकिंग? जारी है दिल्ली पुलिस की IFSO यूनिट की जांच◾राहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना: पेट्रोल-डीजल पर घट सकते है 10 रूपये...लेकिन PM वसूली में मस्त◾Money Laundering Case: सत्येंद्र जैन की जमानत याचिका पर ED को समन, HC ने दो हफ्ते में मांगा जवाब◾दो घंटे तक चले नार्को टेस्ट में आरोपी आफताब ने उगले ये रहस्यमयी राज! यहां देखिये क्या थे पुलिस के बड़े सवाल◾मुंबई : live stream कर रही कोरियाई महिला से छेड़छाड़, जबरन Kiss करने की कोशिश, 2 आरोपी गिरफ्तार◾सानिया मिर्जा से तलाक के बाद क्या होगा शोएब मलिक का प्लान? शादी की अफवाहों को लेकर आयशा ने तोड़ी चुप्पी◾हिंद महासागर में भारत के लिए खतरा बन रहा है चीन, US की डिफेंस एनुअल रिपोर्ट में चौंकाने वाले खुलासे◾Sunanda Pushkar Death Case : शशि थरूर की बढ़ेंगी मुश्किलें, दिल्ली पुलिस की अपील पर कोर्ट ने भेजा नोटिस◾MCD Election : BJP के प्रचार के लिए मैदान में 17 केंद्रीय मंत्री, केजरीवाल ने ली चुटकी◾गुजरात : कलोल से PM मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, कहा- चल रही है प्रधानमंत्री को गाली देने की होड़◾दिल्ली : जज का महिला कर्मचारी संग अश्लील MMS वायरल , HC ने सस्पेंड कर सरकार को दिया ये आदेश◾AAP के गोपाल इटालिया का आरोप - 'जानबूझकर स्लो वोटिंग करा रहा है EC, एक बच्चे को हराने के लिए इतना मत गिरो '◾Gujarat Assembly Election: PM मोदी आज अहमदाबाद में रोड शो से पहले कई जनसभाओं को भी करेंगे संबोधित◾LAC पर सैन्य चौकियां बना रहा है चीन, आक्रामक रुख पर अमेरिकी सांसद का बड़ा बयान◾

अहंकार छोड़कर अग्निपथ योजना को वापस ले मोदी, नौजवानों के भविष्य के हित में नहीं : हुड्डा

कांग्रेस नेता और सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना को देश, सेना एवं नौजवानों के भविष्य के हित में नहीं बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अहंकार छोड़कर इस योजना को वापस लेने की मांग की है। हुड्डा ने आज यहां प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि, केंद्र सरकार को इस योजना को तुरंत वापस लेना चाहिए क्योंकि यह योजना देश, फौज एवं नौजवानों के भविष्य के हित में नहीं हैं। उन्होंने मोदी से आग्रह किया कि अहंकार छोड़े और देश के नौजवानों एवं फौज के मन की बात भी सुने।
दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस कभी फौज को कमजोर नहीं होने देगी और इसे कमजोर करने वाले हर कदम का वह विरोध करेगी और देश की सुरक्षा, फौज को कमजोर एवं नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होने दिया जायेगा। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि, वह राष्ट्रभक्ति के नाम पर वोट तो बंटोरना चाहती है लेकिन नौजवानों की देशभक्ति उसके समझ में नहीं आती और उसने युवाओं के जज्बे का अपमान किया है। उन्होंने कहा कि देश के नौजवान सेना में संविदा के नाम पर नहीं, वे देश की सेवा के लिए फौजी बनना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि, जब देश चारों ओर से दुश्मनों से घिरा हुआ हैं एक तरफ चीन एवं एक तरफ पाकिस्तान है और इस योजना के आधार पर हमारी फौज की संख्या धीरे धीरे कम होगी।

हुड्डा ने कहा कि इस योजना के तहत भर्ती संविदा पर होगी और उसके एक चौथाई पक्के होंगे, ऐसे में देश के सैन्य बलों में पन्द्रह साल बाद सैनिकों की संख्या 14 लाख से घटकर छह लाख हो जायेगी। उन्होंने कहा कि फौज में जाने वाला व्यक्ति अपने भविष्य को लेकर असुरक्षित महसूस करेगा तो वह देश के लिए कैसे लड़ पायेगा।  हुड्डा ने कहा कि दुनियां में सर्वश्रेष्ठ भारत की फौज है और उस फौज की प्रणाली के साथ व्यापक चर्चा किए बिना छेड़खानी करना उसकी नींव को हिलाने का काम किया जा रहा है। यह नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। उन्होंने कहा कि देश की फौज पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।

कांग्रेस नेता ने केंद्र सरकार पर बाहर से नीति लाकर देश में थोपने का आरोप लगाते हुए कहा कि पहले अमरीका का उदाहरण देकर नये कृषि कानून किसानों पर थोपने की कोशिश की गई लेकिन आखिरकार उन्हें वापस लेना पड़ मगर करीब सात सौ किसानों के बलिदान के बाद और अब इजरायल का उदाहरण देते हुए अग्निपथ योजना लेकर आये हैं। उन्होंने कहा कि अमरीका और इजरायल की परिस्थतियां और भारत की परिस्थतियां अलग अलग हैं। ऐसे में बाहर की नीतियों को अपने देश में नहीं थोपा जाना चाहिए।

हुडा ने संसद में अपने एक प्रश्न के उत्तर में मिली जानकारी के आधार पर कहा कि देश में केंद्र एवं विभिन्न राज्यों में 62 लाख नौकरियों के पद रिक्त है, इसमें 26 लाख पद अकेले केंद्र के हैं। इनमें दो लाख रिक्त पद तो सेना में हैं। तीन साल से सेना में भर्ती नहीं हो रही। उन्होंने कहा कि, पहले तो रक्षा मंत्री को इस मामले में माफी मांगनी चाहिए। देश रिकॉर्ड बेरोजगारी का सामना कर रहा है और सरकार ने नौजवानों के साथ बड़ मजाक किया है। अब सेना की संख्या घटेगी तो देश में बेरोजगारी और बढ़गी।