BREAKING NEWS

पंजाब सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने आप नेता के अवैध खनन के आरोप को किया खारिज◾UP: बुलंदशहर में RLD नेता काफिले पर अंधाधुंध फायरिंग हुई, चार घायल समेत एक की मौत◾महाराष्ट्र के बाद अब राजस्थान में ओमीक्रॉन ने दी दस्तक, 9 केस मिलने से राज्य मे मचा हड़कंप◾महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन के 8 और नए मामले आए सामने, देश में अब तक 13 लोग हो चुके संक्रमित◾ व्यापारियों ने मन बनाया है तो भाजपा का जाना और सपा का आना तय: अखिलेश यादव ◾विशेष राज्य का दर्जा बहाल कराने के लिए हमें भी किसानों की तरह देना होगा बलिदान: फारूक अब्दुल्ला ◾निकम्मी और भ्रष्टाचारी गहलोत सरकार को उखाड़ फेंकिए, भाजपा की सरकार बनवाइएः अमित शाह◾भगवंत मान का दावा, बोले- BJP के वरिष्ठ नेता ने पार्टी में शामिल होने के लिए केंद्रीय मंत्री पद की पेशकश की◾ममता बनर्जी ने नागालैंड में गोलीबारी की घटना की विस्तृत जांच कराने की मांग की, कहा- सभी पीड़ितों को मिले न्याय ◾राज्यसभा से निलंबन के बाद शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने संसद के कार्यक्रम पद से दिया इस्तीफा◾दिल्ली: सिद्धू का केजरीवाल को 'जैसे को तैसा'! गेस्ट टीचरों के प्रदर्शन में शामिल होकर 'AAP' पर साधा तीखा निशाना ◾क्या कांग्रेस मुक्त विपक्ष बना पाएंगी ममता बनर्जी? शिवसेना ने TMC के मंसूबों को बताया घातक, कही ये बात ◾ओमीक्रोन के मद्देनजर भारत समेत अन्य देशों से आने वाले यात्रियों को US में एंट्री के लिए दिखानी होगी नेगेटिव रिपोर्ट◾लखनऊ लाठीचार्ज पर राहुल का ट्वीट, 'BJP वोट मागंने आए तो याद रखना'◾नागालैंड फायरिंग: सेना ने दिया ‘कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी’ का आदेश, जानिए क्या है पूरा घटनाक्रम ◾'PAK के साथ व्यापार संबंधी कोई भी बातचीत करना बेकार और व्यर्थ' सिद्धू के बयान पर मनीष तिवारी का जवाब◾दिल्ली में 'ओमीक्रॉन' वेरिएंट ने दी दस्तक, तंजानिया से आए यात्री में हुई पहले मामले की पुष्टि, LNJP में भर्ती ◾देश में जारी है कोरोना महामारी का कहर, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 8 हजार से अधिक नए केस की पुष्टि ◾सियालकोट लिंचिंग: पाकिस्तान की क्रूरता ने लांघी सीमा, मारे गए श्रीलंकाई ने 'गलतफहमी के लिए मांगी थी माफी' ◾BSF स्थापना दिवस : अमित शाह बोले-हमारी सीमा और जवानों को कोई हल्के में नहीं ले सकता◾

राजस्थान के 8 शहरों में रात्रिकालीन कर्फ्यू,मास्क नहीं लगाने पर अब 500 रुपये जुर्माना

राजस्थान सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित आठ जिला मुख्यालयों में रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है। इसके साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना बढ़ाकर 500 रुपये कर दिया गया है। वहीं राजधानी जयपुर में धारा 144 लगाई गयी है। 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में शनिवार रात को राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में ये फैसले किए गए। बैठक में सर्दी और त्योहारी सीजन के कारण संक्रमण के बढ़ते मामलों को नियंत्रित करने के उपायों पर विचार हुआ। 

बैठक में यह निर्णय किया गया कि संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित आठ जिला मुख्यालयों (जयपुर, जोधपुर, कोटा, बीकानेर, उदयपुर, अजमेर, अलवर व भीलवाड़ा) के नगरीय क्षेत्र में बाजार, रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल व अन्य वाणिज्यिक संस्थान शाम सात बजे तक ही खुले रहेंगे। इन आठ जिला मुख्यालयों के नगरीय क्षेत्र में रात आठ बजे से सुबह छह बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू रहेगा। वहीं मास्क नहीं पहनने पर लगाया जाने वाला जुर्माना 200 रुपये से बढ़ाकर अब 500 रूपये कर दिया गया है। 

हालांकि इस दौरान विवाह समारोह में जाने वाले, दवाइयों सहित अति आवश्यक सेवाओं से संबंधित लोगों तथा बस, ट्रेन व हवाई जहाज में सफर करने वालों को आवागमन की छूट होगी। 

संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित आठ जिलों (जयपुर, जोधपुर, कोटा, बीकानेर, उदयपुर, अजमेर, अलवर एवं भीलवाड़ा) में जिला मुख्यालय स्थित नगरीय क्षेत्र में ऐसे राजकीय व निजी कार्यालयों एवं संस्थान जहां 100 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं वहां कार्य दिवसों में कार्मिकों की उपस्थिति 75 प्रतिशत से अधिक नहीं होगी। इन संस्थानों एवं कार्यालयों में स्टाफ को रोटेशन के आधार पर बुलाया जाएगा ताकि किसी भी कार्य दिवस पर 75 प्रतिशत से अधिक कर्मचारी कार्यालय में उपस्थित नहीं हों। 

एक सरकारी बयान के अनुसार बैठक में तय किया गया कि राज्य में संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, ऐसे में पूरे प्रदेश में विवाह समारोह सहित राजनीतिक, सामाजिक, धार्मिक, सांस्कृतिक इत्यादि आयोजनों में शामिल होने वाले लोगों की संख्या अधिकतम 100 होगी। 

इसी तरह बैठक में निजी मेडिकल कॉलेजों से जुड़े कुछ अस्पतालों को जरूरत पड़ने पर कोविड निर्दिष्ट अस्पताल बनाने के लिए अधिग्रहित करने हेतु सैद्धान्तिक सहमति दी गई। इसकी विस्तृत प्रक्रिया तय करने व कार्रवाई के लिए चिकित्सा शिक्षा विभाग को अधिकृत किया गया है। मेडिकल कॉलेज तृतीय वर्ष व चतुर्थ वर्ष के मेडिकल छात्रों की कक्षाएं शुरू कर सकेंगे। इन मेडिकल छात्रों को कोविड-19 के लिए ड्यूटी पर भी लगाया जा सकेगा। 

इस बीच राजधानी जयपुर में संक्रमण को देखते हुए धारा-144 लागू कर दी गयी है। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त राहुल प्रकाश ने शनिवार को इस बारे में आदेश जारी किए। इसके तहत पांच से अधिक व्यक्तियों के समूह में एकत्रित होने पर प्रतिबंध रहेगा और किसी भी सार्वजनिक स्थल पर मास्क लगाना अनिवार्य होगा।