BREAKING NEWS

लोकसभा में साध्वी प्रज्ञा के शपथ लेने के दौरान विपक्ष ने किया हंगामा ◾ममता बनर्जी और डॉक्टरों की बैठक को कवर करने के लिए 2 क्षेत्रीय न्यूज चैनलों को मिली अनुमति◾बिहार : बच्चों की मौत मामले में हर्षवर्धन और मंगल पांडेय के खिलाफ मामला दर्ज◾वायनाड से निर्वाचित हुए राहुल गांधी ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ◾सलमान को झूठा शपथपत्र पेश करने के केस में राहत, कोर्ट ने राज्य सरकार की अर्जी खारिज की◾भागवत ने ममता पर साधा निशाना, कहा-सत्ता के लिए छटपटाहट के कारण हो रही है हिंसा ◾लोकसभा में स्मृति ईरानी के शपथ लेने पर सोनिया गांधी समेत कई विपक्षी नेताओं ने किया अभिनंदन ◾डॉक्टरों और ममता बनर्जी के बीच प्रस्तावित बैठक को लेकर संशय◾डॉक्टरों की देशभर में प्रदर्शन, महाराष्ट्र में 40,000 डॉक्टर हड़ताल पर ◾डॉक्टरों की सुरक्षा की मांग वाली याचिका पर सुनवाई कल : सुप्रीम कोर्ट ◾17वीं लोकसभा का पहला सत्र प्रारंभ, PM मोदी सहित नवनिर्वाचित सांसदों ने ली शपथ ◾संसदीय लोकतंत्र में सक्रिय विपक्ष महत्वपूर्ण, संख्या को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं : PM मोदी ◾वर्ल्ड कप में भारत की पाकिस्तान पर सबसे बड़ी जीत, लगा बधाईयों का तांता, अमित शाह ने बताया एक और स्ट्राइक ◾IMA की हड़ताल में शामिल होंगे दिल्ली के अस्पताल, AIIMS ने किया किनारा ◾ममता आज सचिवालय में जूनियर डॉक्टरों से करेंगी बैठक◾विश्व कप 2019 Ind vs Pak : भारत ने पाकिस्तान को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 89 रन से रौंदा◾IMA के आह्वान पर सोमवार को दिल्ली के कई अस्पतालों में नहीं होगा काम ◾सभी वर्गों को भरोसे में लेकर करेंगे सबका विकास : PM मोदी◾PM मोदी ने आतंकवाद के खिलाफ कूटनीतिक और रणनीतिक रिवायत को बदला : जितेन्द्र सिंह◾प्रणव मुखर्जी से मिले नीतीश कुमार◾

राजस्‍थान

प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने किया केंद्रीय कार्यसमिति के प्रस्ताव का अनुमोदन

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रदेश कार्यकारिणी की आज जयपुर में हुई बैठक में सर्वसम्मति से केंद्रीय कार्यसमिति के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। 

बैठक में सर्वप्रथम अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव एवं राजस्थान प्रभारी अविनाश पाण्डे ने केन्द्रीय कार्यसमिति में पारित प्रस्ताव के अनुमोदन का प्रस्ताव रखा, जिसका प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं राज्य के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने समर्थन किया और प्रदेश कार्यकारिणी ने सर्वसम्मिति से प्रस्ताव पारित कर दिया। 

प्रस्ताव में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को सम्बोधित करते हुए कहा गया है कि प्रदेश कार्यकारिणी उन समस्त चुनौतियों, विफलताओं और कमियों को स्वीकार करती है जिसकी वजह से ऐसा जनादेश आया। प्रदेश कार्यकारिणी के सभी सदस्य कांग्रेस अध्यक्ष को अधिकृत करते हैं कि वह पार्टी के संगठनात्मक ढांचे में आमूलचूल परिवर्तन करके विस्तृत पुनर्संरचना करें और यह जल्द से जल्द किया जाये। प्रस्ताव में कहा गया है कि पार्टी ने चुनाव हारा है, लेकिन हमारा अदम्य साहस, सिद्धांतों के प्रति प्रतिबद्धता पहले से ज्यादा मजबूत है। कांग्रेस नफरत एवं विभाजनकारी ताकतों से लोहा लेने के लिये आपके नेतृत्व में कटिबद्ध है।
 
इससे पहले बैठक को सम्बोधित करते हुये श्री पायलट ने कहा कि चुनौतियों का सामना सबको मिलजुलकर करना है, राज्य के कांग्रेसजनों ने पूरी मेहनत की, परन्तु हमें सफलता नहीं मिल पाई जिसे लेकर हम सम्भागवार समीक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने जनादेश को स्वीकार किया है और अब हम केन्द, में सशक्त विपक्ष की भूमिका निभाकर जनता का विश्वास जीतेंगे। उन्होंने कहा कि आरजेडी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री लालू प्रसाद यादव, डीएमके अध्यक्ष श्री स्टॉलिन सहित अन्य पार्टियों के नेताओं ने श्री गॉंधी से कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद पर बने रहकर कांग्रेस पार्टी को नेतृत्व प्रदान करने को अपनी भावना व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ही एक मात्र राष्ट्रीय पार्टी है जो राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा को चुनौती दे सकती है। 

इस अवसर पर पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव एवं राजस्थान प्रभारी अविनाश पाण्डे ने कहा कि श्री राहुल गॉंधी के सक्षम नेतृत्व में पूरी पार्टी का असीम विश्वास है। उन्होंने कहा कि हम सभी कांग्रेसजनों को एकजुटता से पार्टी की विचारधारा, रीति-नीति को आगे बढ़ने के लिये काम करना है और राज्य सरकार की उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाना है। उन्होंने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री ने राज्य में कांग्रेस को मजबूती प्रदान करने के लिये काम किया है। उन्होंने कहा कि सभी कांग्रेसजनों को अपना मनोबल बनाये रखना है और भविष्य की चुनौतियों का सामना करने के लिये हर स्तर पर तैयार रहना है। 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रस्ताव का समर्थन करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े उतार-चढ़व देखे हैं, परन्तु आज का दौर विचित्र है, जहॉं भाजपा ने मूल मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिये धार्मिक एवं जातिवादी भावनाओं को भड़काया और सेना के शौर्य एवं पराक्रम को चुनावी मुद्दा बनाकर जनता को भ्रमित किया। उन्होंने कहा कि पूरा देश सेना के पराक्रम का सम्मान करता है और सेना की वीर गाथा इतिहास में दर्ज है। गहलोत ने कहा कि कांग्रेस ने श्री गॉंधी के नेतृत्व में संसद के अन्दर और बाहर आम जनता के बीच पहुंचकर भाजपा की जनविरोधी नीतियों का मुकाबला किया है जो ऐतिहासिक है। 

उन्होंने कहा कि हमारी हार हुई है, लेकिन हमें एकजुट होकर श्री गॉंधी के नेतृत्व में जनहित में सक्रिय भूमिका निभानी है। आज देश में लोकतंत्र खतरे में है, इसलिये संवैधानिक मूल्यों के संरक्षण के लिये काम करना है, हमारी लड़ई किसी भी पार्टी से व्यक्तिगत नहीं है, वरन् यह विचारधारा और नीतियों की लड़ाई है।