BREAKING NEWS

FATF ने पाक को ‘ग्रे सूची’ में कायम रखा, कार्रवाई की चेतावनी दी ◾दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को कोर्ट ने सुनाई 6 महीने की सजा, मिली जमानत◾महेंद्रगढ़ रैली में राहुल का प्रधानमंत्री पर वार, बोले-मोदी को नहीं है अर्थव्यवस्था की कोई समझ◾मोदी को डर, 'घेराबंदी' हटने पर कश्मीर में होगा खूनखराबा : इमरान खान◾हिसार में बोले PM मोदी-कांग्रेस ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में पहले ही मान ली है हार◾लखनऊ में हिंदू महासभा के पूर्व नेता की कमलेश तिवारी की गोली मारकर हत्या◾महाराष्ट्र : शाह ने कांग्रेस पर साधा निशाना, पूछा-70 साल के शासन में जनजातीय समुदाय के लिए क्या किया?◾INX मीडिया मामले में CBI ने पी चिदंबरम के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया◾गोहाना रैली में PM मोदी का कांग्रेस पर वार, बोले-सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते ही बढ़ जाता है पेट दर्द◾जयाप्रदा का आजम खान पर तंज, बोलीं- उन्हें औरत के आंसुओं की सजा मिल रही है◾दिल्ली की वायु गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में, सप्ताहांत तक भारी गिरावट की उम्मीद ◾PMC बैंक: सुप्रीम कोर्ट का सुनवाई से इनकार, कहा- खटखटा सकते हैं हाई कोर्ट का दरवाजा◾CJI गोगोई ने केंद्र से की जस्टिस बोबडे को अगला प्रधान न्यायाधीश बनाने की सिफारिश◾हरियाणा विधानसभा चुनाव : कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का महेंद्रगढ़ दौरा रद्द, राहुल करेंगे रैली को संबोधित◾IMF की ताजा रिपोर्ट पर बोली वित्त मंत्री- भारत सबसे तेजी से विकसित होती अर्थव्यवस्थाओं में शामिल◾भाजपा की तरह कांग्रेस का भी बना हाईटेक कार्यालय, 2020 में होगी शिफ्टिंग ◾मध्य प्रदेश की सियासत में 'हेमा के गाल और चील-कौवे' की एंट्री◾सीतारमण का मनमोहन को जवाब- किसी खास अवधि में कब और क्या गलत हुआ इसे याद करना जरूरी◾कांग्रेस-राकांपा को महाराष्ट्र की जनता सबक देगी : नरेंद्र मोदी◾सोनिया गांधी बोली- कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव से पहले नेता सामूहिक नेतृत्व में काम करें◾

राजस्‍थान

राजस्थान : BSP को झटका, छह विधायकों ने थामा कांग्रेस का हाथ

राजस्थान में बहुजन समाजवादी पार्टी के सभी छह विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। इसे नगर निकाय व पंचायत चुनावों से पहले राज्य की अशोक गहलोत सरकार के लिए बड़ी राजनीतिक सफलता के रूप में देखा जा रहा है। बसपा के छह विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी को सोमवार देर रात एक पत्र सौंपा। विधायकों ने बिना शर्त कांग्रेस में शामिल होने की बात कही है। 

राज्य में बसपा के छह विधायक राजेंद्र सिंह गुढ़ा (उदयपुर वाटी), जोगेंद्र सिंह अवाना (नदबई), वाजिब अली (नगर), लाखन सिंह (करौली), संदीप कुमार (तिजारा) और दीपचंद खेरिया (किशनगढ़ बास) है। विधानसभा अध्यक्ष ने देर रात कहा कि 'बसपा विधायकों ने उनसे मुलाकात की और एक पत्र उन्हें सौंपा है। 

प्रधानमंत्री मोदी का 69वां जन्मदिन, राष्ट्रपति कोविंद सहित विपक्ष के अन्य नेताओं ने दी शुभकामनाएं

कांग्रेस के एक नेता ने कहा कि बसपा के सभी छह विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के लगातार संपर्क में थे और आज वे कांग्रेस के पाले में आ गए हैं। इस बारे में बसपा के विधायकों से बात नहीं हो पाई उनके अनुसार बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के कदम से अशोक गहलोत सरकार संख्या बल के आधार पर और अधिक मजबूत होगी। 

200 सीटों वाली राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस के 100 विधायक हैं और उसके सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के पास एक विधायक है और इस तरह सरकार बहुमत में है। इसके अलावा राज्य के 13 निर्दलीय विधायकों में से 12 ने कांग्रेस को बाहर से समर्थन देने की घोषणा कर रखी है। राजस्थान में दिसंबर में विधानसभा चुनाव के बाद बसपा प्रमुख मायावती ने कांग्रेस को बाहर से समर्थन देने की घोषणा की थी। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरदार सरोवर बांध पर की नर्मदा की पूजा-अर्चना

बसपा के विधायकों के कांग्रेस में शमिल होने का लगभग दस साल पुराना इतिहास फिर दोहराया गया है। इससे पहले 2009 में भी अशोक गहलोत के पहले कार्यकाल के दौरान बसपा के सभी छह विधायक कांग्रेस के पाले में चले गए थे। तत्कालीन कांग्रेस सरकार स्पष्ट बहुमत के जादुई आंकड़े से पांच कम थी और यह कमी बसपा के विधायकों के शामिल होने से पूरी हो गयी थी। इस विलय के बाद संख्या बल के हिसाब से राज्य विधानसभा में कांग्रेस के 106 विधायक, भाजपा के 72, माकपा, आरएलपी व बीटीपी के दो दो विधायक हैं। इसके अलावा 13 विधायक निर्दलीय हैं। दो सीट खाली हैं। 

उल्लेखनीय है कि राज्य में नवंबर में राज्य की 52 नगरपालिकाओं के 2455 वार्डों के चुनाव होने हैं। इसके बाद जनवरी में पंचायत के महत्वपूर्ण चुनाव भी हैं। इसके अलावा मंडावा व खींवसर विधानसभा सीट पर उपचुनाव भी होने हैं। ऐसे में बसपा के विधायकों के कांग्रेस में आने को राज्य में बड़ा राजनीतिक घटनाक्रम माना जा रहा है।