BREAKING NEWS

कोर्ट की अवमानना मामले में वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण दोषी करार◾जम्मू-कश्मीर : स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पहले श्रीनगर में आतंकवादी हमला, दो पुलिसकर्मी शहीद◾सुशांत मामले में बदले संजय राउत के सुर, कहा-अभिनेता के परिवार को मिले न्याय◾कोरोना वैक्सीन बनाने वाले देशों में से एक होगा भारत, सरकार को वितरण रणनीति बनाने की जरूरत : राहुल गांधी◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटे में 64 हजार 533 मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा 25 लाख के करीब◾दुनियाभर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या 2 करोड़ 7 लाख के पार, 7 लाख 52 हजार लोगों की मौत ◾LAC विवाद पर US ने दिया भारत का साथ, चीनी आक्रामकता की आलोचना करने वाला प्रस्ताव अमेरिकी सीनेट में पेश◾राजस्थान विधानसभा का सत्र आज से, BJP के अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ कांग्रेस लाएगी विश्वास प्रस्ताव◾स्वतंत्रता दिवस : कोरोना महामारी के बीच हर साल से अलग होगा समारोह, दिल्ली में की गई बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था ◾राजस्थान : विधायक दल की बैठक के बाद कांग्रेस ने कहा- सभी विधायकों ने भाजपा का षड्यंत्र विफल करने का लिया संकल्प ◾नहीं थम रहा महाराष्ट्र में कोरोना का कहर, संक्रमितों का आंकड़ा 5.60 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 11,813 नए केस◾आंध्र प्रदेश में कोरोना का प्रकोप जारी, 24 घंटों में 82 लोगों की मौत, 9996 नए मामले◾राजस्थान: विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री गहलोत बोले- कांग्रेस खुद लाएगी विश्वास प्रस्ताव ◾कोविड-19 : राहुल का PM मोदी पर वार, कहा- कोरोना की यह ‘संभली हुई स्थिति’ है तो ‘बिगड़ी स्थिति’ किसे कहेंगे ◾कोविड-19 : स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में मृत्यु दर घटकर 1.96 % हुई, कुल 27 प्रतिशत लोग ही संक्रमित◾राजस्थान : CM आवास पर शुरू हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक, गहलोत से मिले पायलट◾राजस्थान की गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी BJP◾उत्तर प्रदेश में कोरोना के 4 हजार 603 नए मामले की पुष्टि, 50 लोगों की मौत◾रक्षा उत्पादन में घरेलू उद्योगों को पांच वर्षों में चार लाख करोड़ रूपये के दिए जायेंगे आर्डर: राजनाथ◾फेसलेस जांच और अपील से करदाताओं की शिकायतों का बोझ कम होगा, निष्पक्षता बढ़ेगी : सीतारमण ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

राजस्थान CM गहलोत का भाजपा सरकार पर हमला, कहा- भाजपा ने 6 साल में ही देश के लोकतांत्रिक ताने-बाने को तहस-नहस कर दिया

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कांग्रेस पर गृह मंत्री अमित शाह के हमले पर पलटवार करते हुए गुरुवार को कहा कि भाजपा ने केवल छह साल के अपने शासन में ही देश के लोकतांत्रिक एवं सामाजिक तानेबाने को तहस-नहस कर दिया है। गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री शाह ने भाजपा और राजग सरकार को 'हाइजैक' कर लिया है जहां बाकी नेताओं की किसी को परवाह नहीं है।

मुख्यमंत्री गहलोत ने भाजपा और इसके नेताओं पर निशाना साधते हुए कई ट्वीट किए। गहलोत ने ट्वीट कर कहा,‘‘मुझे यह देखकर कोई हैरानी नहीं है कि समूचे विपक्ष में से प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री शाह केवल कांग्रेस को लेकर चिंतित दिखते हैं। उनकी असुरक्षा और भय स्पष्ट है क्योंकि शाह सहित सभी जानते हैं कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में केवल कांग्रेस में ही मौजूदा केंद्र सरकार के अत्याचारों का मुकाबला करने का साहस और शक्ति है।’’

गौरतलब है कि शाह ने गुरुवार को कांग्रेस पर करारा हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि एक परिवार के हित दलीय एवं राष्ट्रीय हितों पर हावी हो गए हैं। उन्होंने साथ ही सवाल किया कि ‘‘आपातकाल की मानसिकता’ ’क्यों आज भी कांग्रेस में विद्यमान है। गहलोत ने कहा, ‘‘यह कोई छुपी बात नहीं है कि पिछले तीन दशकों में गांधी परिवार के किसी भी सदस्य ने सरकार में कोई पद नहीं लिया है। उन्होंने हमेशा मेरे जैसे कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता और जमीनी कार्यकर्ता को प्रोत्साहित और सशक्त किया है और अगर हम सभी जनता से कटे हुए हैं तो शाह को इसकी इतनी चिंता क्यों है?’’

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के अनुसार कांग्रेस ने इस देश में लोकतंत्र बनाया, उसका पोषण किया और उसे सुरक्षित रखा है। गहलोत ने कहा कि जवाहरलाल नेहरू से लेकर अब तक बलिदान कांग्रेस की विरासत है यह उसके खून में है। वहीं भाजपा ने सत्ता में अपने छह साल के कार्यकाल में ही देश के लोकतांत्रिक और सामाजिक ताने बाने को तोड़ दिया है। 

उन्होंने कहा, ‘‘केंद्र में भाजपा को केवल छह साल हुए है और हम देख सकते हैं उन्होंने कैसे हमारे देश के लोकतांत्रिक व सामाजिक ताने बाने को छिन्न भिन्न कर दिया है। क्या हम जान सकते हैं कि भाजपा में मोदी और शाह के आगे कोई और क्यों नहीं दिखता?’’ उन्होंने कहा कि यह चौंकाने वाला है कि लोगों को तीन से चार मंत्रियों के अलावा नहीं पता कि मोदी के मंत्रिमंडल में कौन-कौन हैं।