BREAKING NEWS

हैदराबाद गैंगरेप : एनकाउंटर के बाद पुलिसवालों पर बरसाए गए फूल, महिलाओं ने राखी बांधकर किया धन्यवाद ◾हैदराबाद गैंगरेप: जिस फ्लाईओवर के नीचे जिंदा जलाई गई थी डॉक्टर, उसी जगह मारे गए आरोपी◾हैदराबाद गैंगरेप: आरोपियों के एनकाउंटर पर पीड़िता के परिवार का बयान, कहा- 'न्याय मिला'◾हैदराबाद गैंगरेप केस के चारों आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया◾झारखंड चुनाव : बिना 'कप्तान' के मैदान में डटे JDU के 'खिलाड़ी' मायूस!◾भीमराव अंबेडकर की पुण्यतिथि पर उपराष्ट्रपति, पीएम मोदी और अमित शाह ने दी श्रद्धांजलि◾थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना के लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित◾कर्नाटक उपचुनाव में 62.18 प्रतिशत मतदान, 12 सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला ◾प्याज को लेकर भाजपा सांसद ने कांग्रेस पर कसा तंज ◾मोदी को तानाशाह के रूप में बदनाम करने की साजिश : स्वामी◾आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री पहुंचे दिल्ली, मिलेंगे प्रधानमंत्री एवं केंद्रीय मंत्रियों से ◾उन्नाव बलात्कार पीड़िता दिल्ली हवाई अड्डे पहुंची, पुलिस ने अस्पताल तक बनाया ग्रीन कॉरीडोर ◾अनुच्छेद 370 : लाइव स्ट्रीमिंग संबंधी याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾हफ्ते भर बाद भी मंत्रियों को नहीं मिला विभाग, भाजपा ने की आलोचना ◾बैंक धोखाधड़ी : ईडी ने रतुल पुरी की जमानत अर्जी का किया विरोध◾राहुल गांधी ने प्याज पर सीतारमण के बयान को लेकर तंज कसा ◾TOP 20 NEWS 05 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾PNB घोटाला : नीरव मोदी भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित ◾DTC और क्लस्टर बसों में लगेंगे CCTV कैमरे, पैनिक बटन, GPS : केजरीवाल ◾मायावती ने केंद्र द्वारा लाए गए नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और असंवैधानिक◾

राजस्‍थान

राजस्थान :युवाओ को मिली सौगात, गहलोत सरकार ने 75000 नौकरियों की घोषणा की

 rj gehlot

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने  2019-20 के संशोधित बजट में 75000 सरकारी नौकरियों की घोषणा की है।लोगों के लिए ये भर्तियां कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, राजस्व, कॉपरेटिव, गृह समेत विभिन्न विभागों में खाली पड़े पदों के लिए की जाएंगी। 

राज्य के बेरोजगार युवाओं के लिए सीएम अशोक की ये घोषणा एक अच्छी खबर है लेकिन इन रिक्त पदों को भरना राज्य सरकार के लिए चुनौतीपूर्ण साबित होगा। 

जानकारी के अनुसार, राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के अध्यक्ष उपेन यादव ने कहा, '2013 और 2018 में विभिन्न सरकारी विभागों में निकाली गईं 1 लाख भर्तियां अभी भी बची हुई है और फिलहाल ये प्रक्रिया अभी तक पूरी नहीं हो पाई है। 

इसके बाद अब गहलोत सरकार ने और 75000 नौकरियों की घोषणा कर दी है लेकिन इसमें दिक्कत ये है कि सरकार यह कैसे निर्धारित करेगी कि इन सभी पदों को कैसे भरा जाएगा ।' उन्होंने साथ ही सुझाव देते हुए  कहा कि भर्ती पक्रियाओं पर नज़र रखने के लिए सरकार को एक समिति की स्थापना का गठन करना चाहिए। 

आपको बता दे, पिछले साल के बजट में बीजेपी सरकार ने 1.8 लाख सरकारी नौकरियों की घोषणा की थी। इनमें से 77000 नौकरिया तो सिर्फ शिक्षा विभाग में निकली थीं।लेकिन एक साल बाद भी 40 फीसदी पद खाली बचे हुए हैं।