BREAKING NEWS

ममता ने PM मोदी को खत लिख सबके लिए टीके खरीदने में मदद मांगी ◾सिर्फ मोटेरा स्टेडियम का नामकरण मोदी पर हुआ, परिसर पटेल के ही नाम पर रहेगा : सरकार ◾मोटेरा स्टेडियम का नाम PM मोदी के नाम पर रखना उनकी दूरदृष्टि को सम्मान देने का प्रयास : जे पी नड्डा ◾CM योगी आदित्यनाथ से नीति आयोग के उपाध्यक्ष ने मुलाकात की ◾दिल्ली के सरकारी स्कूलों में 8वीं तक के छात्रों को नहीं देनी होगी परीक्षा : शिक्षा निदेशालय ◾एसकेएम राष्ट्रपति कोविंद को लिखा पत्र, गिरफ्तार किसानों की बिना शर्त रिहाई की मांग की ◾25 फरवरी को पश्चिम बंगाल का दौरा करेंगे जे पी नड्डा , कई कार्यक्रमों में करेंगे शिरकत ◾स्टेडियम का नाम बदलने को लेकर राहुल का केंद्र पर तंज, कहा- नरेंद्र मोदी स्टेडियम में एक अडाणी छोर- रिलायंस छोर ◾राजनाथ सिंह को मिले किसानों से बात करने की आजादी, तो हो जाएगा सम्मानजनक फैसला : नरेश टिकैत◾भारत और चीन की सीमा पर सैनिकों का पीछे हटना दोनों पक्षों के लिए लाभकारी : थल सेना प्रमुख ◾'बनावटी' जानकारी वाले नेता है राहुल, भारतीयों का अपमान करना पसंदीदा शगल है : जावड़ेकर ◾इशांत को 100वें टेस्ट की उपलब्धि मैच में राष्ट्रपति और गृहमंत्री द्वारा सम्मान के साथ मिला ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ ◾सरकार का काम व्यवसाय करना नहीं, उसका ध्यान जन कल्याण पर होना चाहिए : PM मोदी ◾अक्षर की जादुई फिरकी के आगे ढेर हुई रुट कंपनी, पहली पारी में महज 112 रन पर सिमटा इंग्लैंड ◾CM योगी का राहुल का तीखा हमला- देश को इतना खतरा आतंकवादियों से नहीं जितना ऐसी मानसिकता से है ◾1 मार्च से होगा शुरू कोरोना वैक्सीन का दूसरा चरण, 60 साल से अधिक उम्र वालों को लगेगा टीका◾ममता बनर्जी ने PM मोदी को बताया सबसे बड़ा दंगाबाज,कहा- उनकी किस्मत डोनाल्ड ट्रंप से भी बुरी होगी◾नरेंद्र मोदी स्टेडियम के नाम से जाना जायेगा मोटेरा स्टेडियम, अमित शाह ने खासियतें बताते हुए किये ये ऐलान ◾गिरिराज का राहुल पर तंज, जो काम आपके नाना जी से नहीं हुआ, वो PM मोदी ने किया ◾विश्व के सबसे बड़े मोटेरा स्टेडियम का रामनाथ कोविंद ने किया उद्घाटन, भारत-इंग्लैड के बीच आज होगा मैच ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

राजस्थान : गहलोत सरकार की पहल देगी भिखारियों को रोजगार

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की पहल पर गृह विभाग ने 1162 सड़क भिखारियों का सर्वेक्षण किया है, जिसके बाद राजस्थान कौशल और आजीविका विकास निगम (आरएसएलडीसी) द्वारा एक विशेष कौशल कार्यक्रम तैयार किया गया है। 

आरएसएलडीसी के अनुसार, कुल सर्वेक्षण में से 898 ने कौशल हासिल करने और एक नए स्तर से जीवन शुरू करने की इच्छा व्यक्त की है। 

आरएसएलडीसी के चैयरमेन डॉ नीरज के पवन ने बताया कि नई नीति के अनुसार, हमने चयनित उम्मीदवारों को उनकी पसंद के कौशल में प्रशिक्षित करने का निर्णय लिया है, परिणामस्वरूप उन्हें नामित आरएसएलडीसी केंद्रों पर प्रशिक्षण और बाद में प्लेसमेंट में सहायता प्रदान की जाएगी। 

गृह विभाग के सर्वेक्षण में पता चला है कि कई भिखारियों ने कॉलेज की शिक्षा ली है, लेकिन गरीबी और अवसरों की कमी के कारण भीख मांगने के लिए मजबूर होना पड़ा । इसीलिए उन सभी को अधिक प्रयास और परामर्श प्रदान किया जा रहा है। 

आगे नीरज के पवन बताते है कि 'हमारी टीम चयनित उम्मीदवारों की काउंसलिंग के लिए मनोविज्ञान विशेषज्ञों की नियुक्ति कर रही है। क्योंकि आसान पैसे कमाने की दिनचर्या से दूर होने के लिए उन्हें भावनात्मक रूप से मजबूत होना जरूरी है।'' 

राजस्थान सरकार ने चयनित उम्मीदवारों के लिए व्यक्तिगत रहने की लागत के साथ-साथ कौशल कार्यक्रम के दौरान एक वेतन मुहैया कराया जाएगा। जिसमें न केवल भीख मांगने वालों के लिए, बल्कि समाज में सकारात्मक संदेश देने के लिए पहल चलाई जा रही है। 

कौशल कार्यक्रम के दौरान चयनित उम्मीदवारों को एक स्टाइपेंड प्रदान किया जाएगा। साथ में, राजस्थान सरकार द्वारा व्यक्तिगत ठहरने का खर्च भी उठाया जाएगा। 

यह गहलोत सरकार द्वारा चलाई गई एक अनूठी पहल है जिससे न केवल भीख मांगने वालों के लिए, बल्कि समाज के निम्न स्तर पर जीवनयापन करने वालों को भी सम्मान मिलेगा। 

बता दें कि जयपुर में विभिन्न इच्छुक प्रशिक्षण साझेदारों के साथ एक रणनीतिक बैठक आयोजित की गई है, जहां जयपुर में विभिन्न स्थानों पर 6-8 बैचों का पायलट प्रोजेक्ट संचालित किया जाएगा।