BREAKING NEWS

देश में अब तक कोविड रोधी टीके की 161.81 करोड़ से ज्यादा खुराक दी गई : सरकार ◾भगवंत मान ने सीएम चन्नी को दी चुनौती, कहा- अगर हिम्मत है तो धुरी सीट से मेरे खिलाफ चुनाव लड़ लें◾कनाडा की सीमा पर चार भारतीयों की मौत पर PM ट्रूडो बोले- बेहद दुखद मामला, सख्त कार्रवाई करूंगा◾EC ने रैली-रोड शो पर लगी पाबंदी को 31 जनवरी तक बढ़ाया, दूसरे तरीकों से प्रचार करने पर दी गई ढील ◾गृहमंत्री शाह ने कैराना में मांगे घर-घर BJP के लिए वोट, पलायन कराने वालों पर साधा निशाना ◾ चन्नी और सिद्धू दोनों पंजाब के लिए निकम्मे हैं, कांग्रेस के अंदर की लड़ाई ही उनको चुनाव में सबक सिखाएगीः कैप्टन◾निर्वाचन आयोग : चुनाव वाले राज्यों के शीर्ष अधिकारियों से करेगा मुलाकात, कोविड की स्तिथि का लेंगे जायजा ◾ दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल पुलिस ने दर्ज की FIR , पूर्व सीएम बोले- हमने कोई अपराध नहीं किया◾पंजाब में नफरत का माहौल पैदा कर रही है कांग्रेस, गजेंद्र सिंह शेखावत ने EC से किया कार्रवाई का आग्रह◾बाबू सिंह कुशवाहा की पार्टी के साथ गठबंधन करेंगे ओवैसी, UP की सत्ता में आने के बाद बनाएंगे 2 CM◾ पिता मुलायम सिंह यादव की कर्मभूमि से लड़ेंगे अखिलेश चुनाव, सपा का आधिकारिक ऐलान◾जम्मू-कश्मीर : शोपियां जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू, सेना ने रास्ते को किया सील ◾यदि BJP पणजी से किसी अच्छे उम्मीदवार को खड़ा करती है, तो चुनाव नहीं लड़ूंगा: उत्पल पर्रिकर ◾गोवा में BJP के लिए सिरदर्द बनेगा नेताओं का दर्द-ए-टिकट! अब पूर्व CM पार्सेकर छोड़ेंगे पार्टी◾ BSP ने जारी की दूसरे चरण के मतदान क्षेत्रों वाले 51 प्रत्याशियों की सूची, इन नामों पर लगी मोहर◾DM के साथ बैठक में बोले PM मोदी-आजादी के 75 साल बाद भी पीछे रह गए कई जिले◾पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा हुए कोरोना से संक्रमित, ट्वीट कर दी जानकारी ◾यूपी : गृहमंत्री शाह कैराना में करेंगे चुनाव प्रचार, काफी सुर्खियों में था यहां पलायन का मुद्दा ◾उत्तराखंड : टिकट नहीं मिलने से नाराज BJP नेताओं में असंतोष, पार्टी की एकजुटता तोड़ने की दी धमकी ◾मुंबई की 20 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 7 की मौत, 15 लोग घायल ◾

राजस्थान: कोरोना महामारी का प्रकोप जारी, सबसे अधिक संक्रमण के मरीजों से जूझ रहा है ये जिला

देश में कोरोना वायरस संक्रमण का हाहाकार अभी थमा नहीं है, देश के कई राज्य अभी भी कोरोना से बुरी तरह से जूझ रहे है। ऐसे में राजस्थान में वैश्विक महामारी कोरोना अब लगभग दम तोड़ चुका है लेकिन अभी भी प्रदेश में दो सौ से अधिक सक्रिय मरीज हैं, जिनमें सर्वाधिक 67 जयपुर जिले में हैं।
चिकित्सा विभाग के अनुसार शनिवार शाम तक राज्य में पन्द्रह मरीजों के और ठीक हो जाने से सक्रिय मरीजों की संख्या 237 रह गई जिनमें जयपुर के बाद कोरोना के सबसे अधिक 60 सक्रिय मरीज उदयपुर में हैं। इसके अलावा नागौर में 12, अलवर में 11, अजमेर एवं सीकर में 10-10 सक्रिय मरीज हैं।

सत्रह जिलों में दस के आंकड़ से कम ही सक्रिय मरीज हैं जबकि दस जिले कोरोना मुक्त हो चुके हैं, जिनमें बारां, भरतपुर, भीलवाड़, चित्तौड़गढ़, चुरु, डूंगरपुर, बूंदी, झुंझुनूं, करौली एवं सिरोही शामिल है। राज्य में झालावाड़, कोटा, प्रतापगढ़ एवं जालोर जिला भी कोरोना मुक्त हो चुके थे लेकिन शनिवार को इन जिलों में कोरोना के नये मामले फिर से सामने आ गये। राज्य में पिछले कई दिनों से कोरोना के नये मामलों में ज्यादा वृद्धि नहीं देखेने को मिली और तीन अगस्त को तो यह गिरकर 11 पर आ गये थे।

हालांकि पांच अगस्त को यह बढ़कर 40 पर पहुंच गए लेकिन इसके बाद लगातार दो दिनों में इनमें कमी आई। प्रदेश में शनिवार को 25 जिलों में कोई नया मामला सामने नहीं आया। राज्य में गत 31 जुलाई के बाद एक भी कोरोना मरीज की मौत का मामला भी सामने नहीं आया। राज्य में कोरोना से ठीक होने की दर भी 99़ 04 प्रतिशत पहुंच गई वहीं अब तक सामने आये नौ लाख 53 हजार 812 मामलों में केवल 0़ 02 प्रतिशत सक्रिय मरीज रहे हैं।
राज्य में कोरोना से पहली और दूसरी लहर में अब तक 8954 लोगों की मौत हो चुकी जिसमें सर्वाधिक मौतें 1970 जयपुर जिले में हुई। इससे जोधपुर में 1103, उदयपुर में 753, बीकानेर में 545, कोटा में 449, अजमेर में 410, सीकर में 335, अलवर में 307, पाली में 287, भरतपुर में 260, झालावाड़ में 187, बाड़मेर में 185, नागौर में 177, राजसमंद में 169, झुंझुनूं में 158, भीलवाड़ 156, गंगानगर 150, चित्तौड़गढ 139, डूंगरपुर 131, हनुमानगढ़ 111, बांसवाड़ में 104 लोगों की मौत हुई जबकि शेष जिलों में सौ से कम ही मौते हुई।

प्रदेश में कोरोना से सबसे कम मौतें धौलपुर एवं बूंदी में दर्ज की गई जहां क्रमश: 48-48 मौतें हुई। कोरोना से राज्य के बाहर के 39 लोगों की भी मौत हुई हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर का प्रभाव अब नगण्य हो गया है लेकिन विभिन्न देशों तथा देश के कई राज्यों में कोविड के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर हमें अभी भी सतर्कता बरतने एवं कोरोना गाइडलाइन की लगातार पालना करनी होगी।

उन्होंने कहा कि विभिन्न देशों तथा राज्यों में संक्रमण की स्थिति के मद्देनजर चिकित्सा विशेषज्ञों ने आशंका व्यक्त की है कि तीसरी लहर का प्रभाव आगामी महीनों में देखा जा सकता है। चिकित्सा विभाग के शासन सचिव सिद्धार्थ महाजन ने बताया कि प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक आयु के 52 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 16 प्रतिशत लोगों को दोनों डोज लग चुकी है।

शनिवार तक राज्य में तीन करोड़ 48 लाख 84 हजार 583 लोगों को कोरोना का टीका लग चुका था जिनमें दो करोड़ 66 लाख 57 हजार 810 पहली डोज जबकि 82 लाख 26 हजार 773 दूसरी डोज लगी हैं। इनमें 18 से 44 आयु वर्ग के एक करोड़ 18 लाख 97 हजार 581 को पहली एवं इसी वर्ग के 12 लाख 43 हजार 159 लोगों दूसरी खुराक लगी। इसी तरह 45 वर्ष की आयु से अधिक वर्ग के एक करोड़ 35 लाख दो हजार 43 लोगों को पहली तथा 60 लाख 37 हजार 482 लोगों को दूसरी खुराक लगी।
राज्य में अब तक तीन करोड़ 40 लाख 75 हजार 280 कोरोना खुराक प्राप्त हुई जिनमें 43 लाख 36 हजार 340 कोवैक्सीन तथा दो करोड़ 97 लाख 38 हजार 940 कोविशील्ड शामिल है। शनिवार को भी चार लाख 82 हजार 570 कोविशील्ड प्राप्त हुई।